Thursday, September 23, 2021
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयजो बायडेन देशद्रोही, बेकार और पागलपन से ग्रस्त है... मेरे बेटे को मरने के...

जो बायडेन देशद्रोही, बेकार और पागलपन से ग्रस्त है… मेरे बेटे को मरने के लिए भेज दिया: बलिदानी अमेरिकी सैनिक की माँ

“आपने मेरे बेटे को पागलपन से ग्रस्त मूर्ख शख्स के साथ मिल कर मार डाला, जो यह भी नहीं जानता कि वह व्हाइट हाउस में है और वह अभी भी सोचता है कि वह एक सीनेटर है।”

काबुल हवाई अड्डे के पास गुरुवार (26 अगस्त 2021) को हुए लगातार दो इस्लामी आतंकी हमलों में 13 अमेरिकी नौसैनिकों समेत अब तक 200+ लोगों की मौत हो गई है। इस आतंकी हमले के दौरान मारे गए एक अमेरिकी नौसैनिक की माँ का गुस्सा अब यूएस के राष्ट्रपति पर निकला है। उन्होंने एक इंटरव्यू के दौरान राष्ट्रपति जो बायडेन को जमकर सुनाया और उन्हें पद से हटाने की माँग की।

द डेली वायर की रिपोर्ट के मुताबिक हमले के दौरान जान गँवाने वाले 20 वर्षीय लांस राइली मैक्कलम की माँ कैथी मैक्कलम को सीरियस एक्सएम पैट्रियट रेडियो पर ‘विल्को मेजोरिटी’ (Wilkow Majority) शो में बुलाया गया था। यहाँ पर कैथी ने खुलासा किया कि उन्हें उनके घर पर सूचित किया गया था कि उनका बेटा उस बमबारी में मारा गया, जिसमें कम से कम 13 अमेरिकी सैनिकों की जान गई।

बायडेन के बारे में बोलते हुए उन्होंने कहा, “उस बेकार, पागलपन से ग्रस्त, मूर्ख ने मेरे बेटे को मरने के लिए भेज दिया। मैं आज सुबह चार बजे उठी, तभी मेरे दरवाजे पर दो मरीन आए और उन्होंने मुझे बताया कि मेरा बेटा मर चुका है। वो मेरे सामने उस पागल और सनकी तालिबान आतंकवादियों के साथ हुए राजनयिक बकवास को सुनाने आए थे, जिन्होंने मेरे बेटे को उड़ा दिया। मैं अपने परिवार के लिए काफी दुखी हूँ। मेरा बेटा चला गया।”

बायडेन को वोट देने वाले सभी डेमोक्रेट्स को निशाने पर लेते हुए उन्होंने कहा, “आपने मेरे बेटे को पागलपन से ग्रस्त मूर्ख शख्स के साथ मिल कर मार डाला, जो यह भी नहीं जानता कि वह व्हाइट हाउस में है और वह अभी भी सोचता है कि वह एक सीनेटर है।” उन्होंने कहा कि वह अपने प्रतिनिधि रेप लॉरेन बोएबर्ट (R-CO) से उनके घर पर मिलने जा रही हैं।

कैथी मैक्कलम ने कहा कि उन्होंने कभी नहीं सोचा था कि उनका बेटा बिना कुछ किए मर जाएगा। उन्होंने आगे कहा:

“यही मुझे मारता है। मैं चाहती थी कि मेरा बेटा हमारे देश का प्रतिनिधित्व करे, मेरे देश के लिए लड़े। लेकिन मैंने कभी नहीं सोचा था कि ये पागलपन से ग्रस्त मूर्ख व्यक्ति उसे उसकी मौत के लिए भेज देगा और टेलीविजन पर मुस्कुराएगा, वो भी तब जब वह मरने वाले लोगों की बात कर रहा है। इस शख्स को कार्यालय से हटाने की जरूरत है। यह ट्रम्प के शासनकाल में कभी नहीं हुआ। यह देशद्रोही है।”

गौरतलब है कि अफगानिस्तान के काबुल एयरपोर्ट पर गुरुवार को हुए आत्मघाती हमले में 13 अमेरिकी सैनिकों समेत कुल 100 से अधिक लोगों के मारे जाने की खबर है। इसके अलावा करीब 150 लोग घायल भी हुए हैं। इस हमले की जिम्मेदारी इस्लामिक स्टेट खुरासान प्रांत ने ली है। आतंकी संगठन ने इस हमले को अंजाम देने वाले आतंकी की तस्वीर भी जारी की थी।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

गुजरात के दुष्प्रचार में तल्लीन कॉन्ग्रेस क्या केरल पर पूछती है कोई सवाल, क्यों अंग विशेष में छिपा कर आता है सोना?

मुंद्रा पोर्ट पर ड्रग्स की बरामदगी को लेकर कॉन्ग्रेस पार्टी ने जो दुष्प्रचार किया, वह लगभग ढाई दशक से गुजरात के विरुद्ध चल रहे दुष्प्रचार का सबसे नया संस्करण है।

‘मुंबई डायरीज 26/11’: Amazon Prime पर इस्लामिक आतंकवाद को क्लीन चिट देने, हिन्दुओं को बुरा दिखाने का एक और प्रयास

26/11 हमले को Amazon Prime की वेब सीरीज में मु​सलमानों का महिमामंडन किया गया है। इसमें बताया गया है कि इस्लाम बुरा नहीं है। यह शांति और सहिष्णुता का धर्म है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,782FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe