Thursday, July 18, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीय'हिंदुओं कनाडा छोड़ दो, बंद करो भारतीय उच्चायोग': जस्टिन ट्रूडो की लगाई आग को...

‘हिंदुओं कनाडा छोड़ दो, बंद करो भारतीय उच्चायोग’: जस्टिन ट्रूडो की लगाई आग को भड़का रहा खालिस्तानी आतंकी पन्नू, हिंसा के लिए उकसाया

आतंकवादी पन्नू ने कहा है यदि भारत अपने राजनयिक मिशन बंद नहीं करता है तो वह हमले करेगा। उसने दो मिनट के प्रोपेगेंडा वीडियो में भारत को तोड़ने की भी बात कही है।

खालिस्तानी आतंकी संगठन सिख फॉर जस्टिस (SFJ) के सरगना गुरपतवंत सिंह पन्नू (Gurpatwant Singh Pannu) ने कनाडा में रह रहे हिंदुओं को धमकी दी है। उसकी यह धमकी कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो (Justin Trudeau) के उस बयान के बाद आई है, जिसमें उन्होंने बिना किसी सबूत के खालिस्तानी आतंकी हरदीप सिंह निज्जर (Hardeep Singh Nijjar) की हत्या का दोष भारत पर डालने की कोशिश की थी।

19 सितंबर 2023 को जस्टिन ट्रूडो ने कनाडा की संसद में कहा था कि खालिस्तानी आतंकी निज्जर को भारतीय एजेंटों ने मारा था, जिसके हमारे पास सबूत हैं। कनाडा की सरकार ने भारतीय राजनयिक पवन कुमार राय को निष्कासित भी कर दिया था। जवाब में भारत ने भी एक कनाडाई राजनयिक ओलिवर सिल्विस्टर को निष्कासित किया था।

पन्नू के संगठन सिख फॉर जस्टिस ने 25 सितंबर तक कनाडा में स्थित भारतीय उच्चायोग और वाणिज्य दूतावासों को बंद करने की धमकी दी है। वर्तमान में कनाडा की राजधानी ओटावा में भारत का उच्चायोग (High Commission) और वैंकुवर तथा टोरंटो में वाणिज्य दूतावास (Consulates General) हैं।

आतंकवादी पन्नू ने कहा है यदि ऐसा नहीं होता है तो वह दूतावासों पर हमला करेगा। उसने भारत को तोड़ने की भी बात कही है। इन सब बातों को करते हुए उसने एक 2 मिनट का प्रोपेगेंडा वीडियो जारी किया है।

पन्नू पहले भी हिन्दुओं और कनाडा में काम करने वाले भारतीय राजनयिकों की हत्या का ऐलान करते आया है। पन्नू ने एक बयान जारी करके कहा है, “कनाडाई हिन्दुओं तुमने कनाडा के प्रति अपनी निष्ठा नहीं जाहिर की है, तुम्हें कनाडा से वापस भारत जाना होगा।”

पन्नू ने यह भी कहा, “खालिस्तान समर्थक सिख हमेशा से ही कनाडा के प्रति श्रद्धा रखते आए हैं। उन्होंने हमेशा कनाडा का पक्ष लिया है।” पन्नू ने आगामी 29 अक्टूबर को ‘किल इंडिया रेफरेंडम” कराने का ऐलान किया है, जिसमें सिखों से कनाडा में भारत के हाई कमिश्नर संजय कुमार वर्मा को निज्जर की हत्या का जिम्मेदार ठहराने को कहा गया है।

कनाडा में हिन्दुओं के खिलाफ हिंसा का ऐलान करना कोई नई बात नहीं है। इससे पहले लगातार भारतीय राजनयिकों के होर्डिंग लगाकर उन्हें मारने की धमकियाँ दी गई हैं। कनाडा में हिन्दू मंदिरों पर भी लगातार हमले हुए हैं। इस प्रकार की हिंसा करने वालों के विरुद्ध जस्टिन ट्रूडो की सरकार ने कोई भी एक्शन नहीं लिया है।

कनाडा में खालिस्तानी भारतीय राजनयिकों की हत्या की धमकी देने वाले होर्डिंग लगा रहे हैं
कनाडा में खालिस्तानी भारतीय राजनयिकों की हत्या की धमकी देने वाले होर्डिंग लगा रहे हैं

कनाडा में पन्नू का आतंकी संगठन सिख फॉर जस्टिस कथित जनमत संग्रह आयोजित करवा कर भी खालिस्तान की माँग को हवा देता रहा है।

भारतीय राजनयिकों के विरुद्ध कनाडा में कानूनी कार्रवाई करने का ऐलान करता सिख फॉर जस्टिस का एक पोस्टर
भारतीय राजनयिकों के विरुद्ध कनाडा में कानूनी कार्रवाई करने का ऐलान करता सिख फॉर जस्टिस का एक पोस्टर

कनाडा के सांख्यिकी विभाग के अनुसार, वर्ष 2021 तक कनाडा में लगभग 8.28 लाख हिन्दू थे। इनकी संख्या वर्तमान में इससे अधिक हो सकती है। हिन्दू, कनाडा में तीसरा सबसे बड़ा धार्मिक वर्ग है। कनाडा में सिखों की संख्या 7.7 लाख के आसपास है।

कनाडा में हिन्दू और सिखों, दोनों की ही में बीते 20 वर्षों में तेज बढ़ोतरी हुई है। कनाडा में बसने वाले अधिकांश हिन्दू और सिख पंजाबी मूल के हैं। हाल के वर्षों में देश के अन्य हिस्सों से भी कनाडा में जाकर बसने का चलन बढ़ा है।

जस्टिन ट्रूडो के बयान और दोनों देशों के कूटनीतिक संबंधों के खराब होने के बाद लगातार हिन्दुओं की सुरक्षा के प्रति चिंता जताई जा रही है। अभिनेता रणवीर शौरी ने इसी को लेकर ट्वीट करते हुए अपनी चिंता व्यक्त की थी।

पन्नू की इस धमकी के बाद अभी तक कनाडा की सुरक्षा एजेंसियों ने उस पर कोई कार्रवाई नहीं की है। पन्नू पर कार्रवाई न करना यह बताता है कि कनाडा भारत को तोड़ने की साजिश करने वालों के साथ खड़ा है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अजमेर दरगाह के सामने ‘सर तन से जुदा’ मामले की जाँच में लापरवाही! कई खामियाँ आईं सामने: कॉन्ग्रेस सरकार ने कराई थी जाँच, खादिम...

सर तन से जुदा नारे लगाने के मामले में अजमेर दरगाह के खादिम गौहर चिश्ती की जाँच में लापरवाही को लेकर कोर्ट ने इंगित किया है।

काँवड़ यात्रा पर किसी भी हमले के लिए मोहम्मद जुबैर होगा जिम्मेदार: यशवीर महाराज ने ‘सेकुलर’-इस्लामी रुदालियों पर बोला हमला, ढाबों मालिकों की सूची...

स्वामी यशवीर महाराज ने 18 जुलाई 2024 को एक वीडियो बयान जारी कर इस्लामिक कट्टरपंथियों और तथाकथित 'सेकुलरों' को आड़े हाथों लिया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -