Thursday, May 23, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयअपनी ही स्टूडेंट के साथ सेक्स करती थी टीचर, कार की पिछली सीट पर...

अपनी ही स्टूडेंट के साथ सेक्स करती थी टीचर, कार की पिछली सीट पर संबंध बनाती पकड़ी गई: हुई गिरफ्तार

सविकी ने कथित तौर पर जाँचकर्ताओं को स्वीकार किया कि दिसंबर से 6,393 एकड़ के राज्य के स्वामित्व वाले वन्यजीव प्रबंधन क्षेत्र में उनके और लड़के के बीच कम से कम पाँच बार सेक्स किया।

अमेरिका में एक लेडी टीचर को गिरफ्तार किया गया है। उस पर अपने ही 16 साल के स्टूडेंट के साथ शारीरिक संबंध बनाने के आरोप हैं। वो कम से कम 5 मौकों पर छात्र के साथ संबंध बना चुकी थी। ताजे मामले में वो एक प्रोटेक्टेड वाइल्डलाइफ जोन में कार खड़ी कर पीछे की सीट पर स्टूडेंट के साथ सेक्स कर रही थी, जिसके बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया।

मामला अमेरिका के न्यू जर्सी शहर का है। 37 वर्षीय टीचर जेसिका सविकी को अरेस्ट कर लिया गया है। अमेरिका में सहमति से यौन संबंध बनाने की उम्र को लेकर अलग-अलग राज्यों में अलग-अलग कानून है, लेकिन न्यू जर्सी में सहमति से सेक्स करने के लिए 18 वर्ष की उम्र होनी अनिवार्य है।

वाइल्डलाइफ एरिया के इंस्पेक्टर ने बताया कि जेसिका सविकी को गिरफ्तार किया गया, क्योंकि वो कार में अपने ही स्टूडेंट के साथ सेक्स कर रही थी। इस साल कई बार कार में दोनों को बिना कपड़ों के पाए जाने के बाद कार्रवाई की गई है।

डेलीमेल की रिपोर्ट के मुताबिक, संयुक्त राज्य अमेरिका के न्यू जर्सी में के हैमिल्टन हाई स्कूल वेस्ट में जेसिका सविकी ट्रेंटन टीचर है, जो अंग्रेजी विषय पढ़ाती थी। अधिकारियों के अनुसार, सॉविकी और स्कूली छात्र को न्यू जर्सी के अधिकारियं ने बिना पकड़ों के पाया। दस्तावेज़ों में कहा गया है कि दोनों ने कार की पिछली सीट पर सेक्स किया था।

अमेरिका के न्यू जर्सी में सहमति से संबंध बनाने की उम्र 18 वर्ष है। इस मामले में महिला को यौन उत्पीड़न का आरोपित बनाया गया है। उसके खिलाफ सेकंड डिग्री यौन उत्पीड़न का केस लगा है। सविकी ने कथित तौर पर जाँचकर्ताओं को स्वीकार किया कि दिसंबर से 6,393 एकड़ के राज्य के स्वामित्व वाले वन्यजीव प्रबंधन क्षेत्र में उनके और लड़के के बीच कम से कम पाँच बार सेक्स किया।

बता दें कि अमेरिका में पिछले कुछ समय में ऐसे कई मामले सामने आ चुके हैं, जिसमें लेडी टीचर्स पर अपने स्टूडेंट्स के साथ सेक्स करने के आरोप लगे। पिछले साल अप्रैल महीने में दो दिन के अंदर एक जैसे कारनामे करने वाली 6 लेडी टीचर्स को गिरफ्तार किया गया था। वहीं, इस साल जनवरी में भी ऐसा ही मामला सामने आया था। इस मामले में मैथ पढ़ाने वाली टीचर बाकी बच्चों को क्लासरूम से बाहर भेज कर उनके रखवाली कराती थी और क्लासरूम के भीतर ही छात्र के साथ संबंध बनाती थी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

मी लॉर्ड! भीड़ का चेहरा भी होता है, मजहब भी होता है… यदि यह सच नहीं तो ‘अल्लाह-हू-अकबर’ के नारों के साथ ‘काफिरों’ पर...

राजस्थान हाईकोर्ट के जज फरजंद अली 18 मुस्लिमों को जमानत दे देते हैं, क्योंकि उन्हें लगता है कि चारभुजा नाथ की यात्रा पर इस्लामी मजहबी स्थल के सामने हमला करने वालों का कोई मजहब नहीं था।

‘प्यार से माँगते तो जान दे देती, अब किसी कीमत पर नहीं दूँगी इस्तीफा’: स्वाति मालीवाल ने राज्यसभा सीट छोड़ने से किया इनकार

आम आदमी पार्टी की राज्यसभा सांसद स्वाति मालीवाल ने अब किसी भी हाल में राज्यसभा से इस्तीफा देने से इनकार कर दिया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -