Friday, May 24, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयअमेरिका में सिख किशोर की पगड़ी नोची, चेहरे और सिर पर जड़े कई घूसे:...

अमेरिका में सिख किशोर की पगड़ी नोची, चेहरे और सिर पर जड़े कई घूसे: अश्वेत को न्यूयॉर्क पुलिस ने किया गिरफ्तार, डकैती के लिए भी जा चुका है जेल

उसे मैनहटन में डकैती का दोषी पाया गया था। हालाँकि, वो डकैती में सफल नहीं हो पाया था और पकड़ा गया था। फिर उसे स्टेट प्रिजन में भेज दिया गया था।

अमेरिका में एक 26 वर्षीय व्यक्ति को हेट क्राइम के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। उक्त किशोर पगड़ी पहन कर बस में यात्रा कर रहा था, जिसे देख कर क्रिस्टोफर फिलिपॉक्स नामक शख्स भड़क गया। ये घटना न्यूयॉर्क के क्वींस स्थित लाइब्रेरी एवेन्यू और 118वीं गली के पास हुई। MTA बस में यात्रा कर रहे 19 वर्षीय किशोर के पास जाकर अश्वेत समाज के आरोपित ने कहा, “हम अपने देश में ये सब नहीं पहनते हैं।” उसने उसकी पगड़ी की तरफ इशारा करते हुए हुए ये बातें कही।

उसने सबसे पहले किशोर से उसका मास्क उतारने के लिए कहा, फिर उसके चेहरे पर जोर से मुक्का मारा। उसकी पीठ और सिर को निशाना बना कर भी उसने मुक्के मारे। इसके बाद उसने उसकी पगड़ी निकालने की कोशिश की। इस दौरान पीड़ित के कई जगह जख्म हो गया और खून बहने लगा। पीड़ित दर्द से कराहने लगा। क्रिस्टोफर फिलिपॉक्स को जुलाई 2021 में पैरोल पर रिहा किया गया था। वो 2 साल जेल में रहने के बाद हाल ही में रिहा हुआ था।

उसे मैनहटन में डकैती का दोषी पाया गया था। हालाँकि, वो डकैती में सफल नहीं हो पाया था और पकड़ा गया था। फिर उसे स्टेट प्रिजन में भेज दिया गया था। उसे सरकारी अधिकारियों के कार्य में बाधा डालने के लिए गिरफ्तार किया गया था। वहीं ताज़ा घटना को लेकर सिख पीड़ित ने कहा कि वो गुस्से में है और अंदर तक हिल गया है। उसने कहा कि किसी को भी इस आधार पर प्रताड़ित नहीं किया जाना चाहिए कि वो कैसा दिखता है।

स्थानीय सिख कार्यकर्ता जपनीत सिंह ने कहा कि फ़िलहाल पीड़ित सदमे में है और उसका परिवार उसे लेकर काफी भयभीत है। MTA के एक्टिंग चीफ कस्टमर ऑफिसर ने कहा कि उन्होंने उस वीडियो को देखा है और वो आक्रोशित हैं। उन्होंने कहा कि उन्हें ये ठीक नहीं लगा और इसने उन्हें हिला दिया है। उन्होंने न्यूयॉर्क में सबका स्वागत होने की बात कहते हुए कहा कि ये पीड़ित भी 1 साल से शहर में था। NYPD (पुलिस विभाग) ने आरोपित का वीडियो भी जारी किया था जिसमें वो पीले रंग की जैकेट में दिख रहा है। गिरफ़्तारी के बाद ‘हेट क्राइम टास्क फ़ोर्स’ उससे पूछताछ कर रही है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

नाम – कृष्णा मोहिनी, जगह – द्वारका, एजेंडा – प्राइड मार्च वाला: Colors के सीरियल में LGBTQIA+ प्रोपेगंडा के लिए बच्चे का इस्तेमाल, लड़का...

सीरियल में जब बच्चा पूछता है कि 'प्राइड मार्च' क्या होता है, तो एक शख्स समझाता है कि वो लड़की पैदा हुई थी लेकिन उसे लड़के जैसा रहना पसंद है तो उसने खुद को लड़का बना दिया।

पहले दोस्ती की, फिर फ्लैट में ले गई… MP अनवारुल अजीम की हत्या में शिलांती रहमान पकड़ी गई, कसाई से कटवाया फिर हल्दी लगाकर...

बांग्लादेशी सांसद की हत्या मामला में वो महिला हिरासत में ले ली गई है जिसने उन्हें हनीट्रैप में फँसाकर फ्लैट में बुलवाया था। महिला का नाम शिलांती रहमान है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -