Wednesday, July 24, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयजहाँ किसी प्रधानमंत्री-राष्ट्रपति को जगह नहीं, वहाँ पहुँचे PM मोदी: COP28 की मंच पर...

जहाँ किसी प्रधानमंत्री-राष्ट्रपति को जगह नहीं, वहाँ पहुँचे PM मोदी: COP28 की मंच पर अकेले राष्ट्राध्यक्ष, मेलोनी ने ली ‘मोस्ट लव्ड’ PM संग सेल्फी

संयुक्त राष्ट्र जलवायु परिवर्तन सम्मेलन (COP 28) में भाग लेने दुबई गए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दुनिया भर से आए कुछ प्रमुख राष्ट्राध्यक्षों से मुलाकात की। उन्होंने इटली की प्रधानमंत्री जियोर्जिया मेलोनी के साथ सेल्फी भी ली और मालदीव के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति मोहम्मद मुइज्जू के साथ एक बैठक की।

संयुक्त राष्ट्र जलवायु परिवर्तन सम्मेलन (COP 28) में भाग लेने दुबई गए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दुनिया भर से आए कुछ प्रमुख राष्ट्राध्यक्षों से मुलाकात की। पीएम मोदी ने शुक्रवार (1 दिसंबर 2023) को मालदीव के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति मोहम्मद मुइज्जू के साथ एक बैठक की। इसके अलावा, उन्होंने इटली की प्रधानमंत्री जियोर्जिया मेलोनी से भी मुलाकात। मेलोनी ने सोशल मीडिया पर पीएम मोदी के साथ ली गई एक सेल्फी भी पोस्ट की है।

पीएम मोदी के साथ ली गई सेल्फी को इंस्टाग्राम पर पोस्ट करते हुए जियोर्जिया मेलोनी ने कैप्शन में लिखा: “COP28 में अच्छे दोस्त।” वहीं, पीएम मोदी ने भी मेलोनी के साथ मुलाकात की एक तस्वीर X पर पोस्ट की। इसके साथ अपने पोस्ट में लिखा, “स्थायी और समृद्ध भविष्य के लिए भारत और इटली के बीच सहयोगात्मक प्रयासों की आशा है।”

जलवायु शिखर सम्मेलन में बैठक के दौरान उन्होंने भारत की जी20 अध्यक्षता के लिए इटली के समर्थन और वैश्विक जैव ईंधन गठबंधन और भारत-मध्य पूर्व-यूरोप आर्थिक गलियारे में इटली के शामिल होने की सराहना की। इसके साथ ही दोनों नेताओं ने भारत और इटली के बीच राजनयिक संबंधों के 75 साल पूरे होने का भी जश्न मनाया। साथ ही साथ भारत-इटली रणनीतिक साझेदारी में प्रगति का जायजा लिया और रक्षा के साथ-साथ नई और उभरती प्रौद्योगिकियों में सहयोग को बढ़ावा देने पर सहमति व्यक्त की।

इससे पहले पीएम मोदी ने मेलोनी से नई दिल्ली में जी20 शिखर सम्मेलन के मौके पर एक द्विपक्षीय बैठक में मुलाकात की थी। भारत में जी20 शिखर सम्मेलन के दौरान मुलाकात में इटली की पीएम मेलोनी ने पीएम मोदी को दुनिया का ‘मोस्ट लव्ड’ (सबसे चहेता) नेता बताया था। उस दौरान मेलोनी और प्रधानमंत्री मोदी की कई तस्वीरें भी वायरल हुई थीं। जियोर्जिया मेलोनी इसलिए भी चर्चा में हैं क्योंकि वह इटली की पहली दक्षिणपंथी प्रधानमंत्री हैं। लोग मेलोनी के खूबसूरत अंदाज, ड्रेसिंग सेन्स और सुंदरता के भी कायल हैं।

मेलोनी ने इसी साल अक्टूबर में अपने बॉयफ्रेंड एंड्रिया जियाम्ब्रुनो के साथ रिश्ते को खत्म करने की घोषणा की थी। उनके बॉयफ्रेंड जियाम्ब्रुनो पत्रकार हैं और महिला विरोधी टिप्पणी की वजह से पिछले कुछ समय से चर्चा में हैं। वे इटली के पूर्व प्रधानमंत्री सिल्वियो बर्लुस्कोनी के परिवार द्वारा चलाए जा रहे एमएफई मीडिया समूह के लिए काम करते हैं।

कुछ समय पहले जियाम्ब्रुनो एक महिला सहकर्मी से ‘तुम मुझे पहले क्यों नहीं मिली’ कहते सुने गए थे। यही नहीं, उन्होंने अपनी एक महिला सहकर्मियों को ‘ग्रुप सेक्स’ के लिए भी कहा था। उन्होंने यह भी कहा था कि अगर वो लोग ‘ग्रुप सेक्स’ में शामिल होती हैं, तभी उनके साथ काम कर सकती हैं। ये स्पष्ट तौर पर कार्यस्थल पर यौन शोषण का मामला है।

मालदीव के राष्ट्रपति से मुलाकात

पीएम मोदी और मालदीव के राष्ट्रपति मोहम्मद मुइज्जू की मुलाकात के दौरान विभिन्न क्षेत्रों में द्विपक्षीय सहयोग और मित्रता को बढ़ाने के तरीकों पर चर्चा हुई। दोनों देश साझेदारी को और प्रगाढ़ करने के लिए एक कोर समूह गठित करने पर सहमत भी हुए हैं। मुइज्जू को चीन समर्थक माना जाता है। मुइज्जू ने राष्ट्रपति बनते ही मालदीव में मौजूद भारतीय सैनिकों को देश छोड़ने का आदेश दिया है।

मुलाकात की तस्वीरों को X पर शेयर करते हुए पीएम मोदी ने लिखा, “राष्ट्रपति मोहम्मद मुइज्जू और मेरी आज एक सार्थक बैठक हुई। हमने विभिन्न क्षेत्रों में भारत-मालदीव मित्रता को बढ़ाने के तरीकों पर चर्चा की। हम अपने लोगों के लाभ के लिए सहयोग को गहरा करने के लिए मिलकर काम करने को तत्पर हैं।”

इस दौरान पीएम मोदी ने ब्रिटेन के प्रधानमंत्री ऋषि सुनक, किंग चार्ल्स, फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैंक्रो सहित जापान, तुर्की आदि कई देशों के राष्ट्राध्यक्षों से भी मुलाकात की। इस सम्मेलन में पीएम मोदी अकेले ऐसे राष्ट्राध्यक्ष थे, जिन्हें मंच पर बैठाया गया था। उनके साथ मंच पर CO के अध्यक्ष सुल्तान अल जाबर, यूएन के अधिकारी सीमॉन स्टेल और डेनिस फ्रांसिस थे।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘तुमलोग वापस भारत भागो’: कनाडा में अब सांसद को ही धमकी दे रहा खालिस्तानी पन्नू, हिन्दू मंदिर पर हमले का विरोध करने पर भड़का

आर्य ने कहा है कि हमारे कनाडाई चार्टर ऑफ राइट्स में दी गई स्वतंत्रता का गलत इस्तेमाल करते हुए खालिस्तानी कनाडा की धरती में जहर बोते हुए इसे गंदा कर रहे हैं।

मुजफ्फरनगर में नेम-प्लेट लगाने वाले आदेश के समर्थन में काँवड़िए, सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद बोले – ‘हमारा तो धर्म भ्रष्ट हो गया...

एक कावँड़िए ने कहा कि अगर नेम-प्लेट होता तो कम से कम ये तो साफ हो जाता कि जो भोजन वो कर रहे हैं, वो शाका हारी है या माँसाहारी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -