Sunday, September 19, 2021
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयअफगानी झंडा लहराने की माँग को लेकर जलालाबाद में सड़कों पर उतरे लोग, तालिबान...

अफगानी झंडा लहराने की माँग को लेकर जलालाबाद में सड़कों पर उतरे लोग, तालिबान ने गोलियों से भूना

सोशल मीडिया पर शेयर किए गए वीडियो में सैकड़ों लोगों को अफगानिस्तान का झंडा लेकर मार्च निकालते देखा जा सकता है। वीडियो के बैकग्राउंड में गोलियों की आवाजें आ रही हैं। लोग तालिबानियों से दूर भागते देखे जा सकते हैं।

अफगानिस्तान में तालिबानियों के कब्जे के बाद अब वहाँ खुली सड़कों पर गोलियाँ चल रही हैं। ताजा घटना जलालाबाद शहर में देखने को मिली, जहाँ कुछ प्रदर्शनकारी अपना झंडा लेकर तालिबान का विरोध कर रहे थे कि तभी तालिबानियों ने गोली चलानी शुरू कर दी। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, इस घटना में 2 लोगों की मौत और 8 घायल हुए हैं। 

संबंधित खबर का स्क्रीनशॉट

जानकारी के मुताबिक, तालिबान के विरोध में अफगानिस्तान के जलालाबाद में लोग सड़कों पर उतरे थे। उनकी माँग थी कि कार्यालयों पर अफगानिस्तानी झंडे लगाए जाएँ। लेकिन, इस बीच तालिबानियों ने उन पर गोली चला दी। साथ में कुछ प्रदर्शनकारियों और पत्रकारों को बुरी तरह पीटा भी गया।

सोशल मीडिया पर शेयर किए गए वीडियो में सैकड़ों लोगों को अफगानिस्तान का झंडा लेकर मार्च निकालते देखा जा सकता है। वीडियो के बैकग्राउंड में गोलियों की आवाजें आ रही हैं। लोग तालिबानियों से दूर भागते देखे जा सकते हैं।

उल्लेखनीय है कि इससे पहले अफगान महिलाओं के एक समूह ने अपने अधिकारों की माँग के लिए प्रदर्शन किया था। हालाँकि वहीं दूसरी ओर एक महिला को बुर्का न पहनने के लिए मार देने का मामला भी सामने आया था। इधर, काबुल एयरपोर्ट पर भी तालिबानी हमले की घटना हुई। वहाँ तालिबान ने भीड़ को नियंत्रित करने के लिए धारधार हथियारों का इस्तेमाल किया और बिना इधर-उधर देखे महिलाओं से लेकर बच्चों तक को मारा गया। सामने आई तस्वीरों में खून से लथपथ पीड़ित काबुल एयरपोर्ट पर देखे जा सकते हैं।

तस्वीर साभार: डेलीमेल

कुछ रिपोर्ट्स में बताया जा रहा है कि तालिबानी अब न केवल डोर-टू-डोर जाकर उन लोगों को मार रहे हैं जिन्होंने अमेरिकी सेना के लिए काम किया बल्कि जबरन लड़कियों को उठा कर उनसे शादी भी कर रहे हैं।

तस्वीर साभार: डेलीमेल

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

सिख नरसंहार के बाद छोड़ दी थी कॉन्ग्रेस, ‘अकाली दल’ में भी रहे: भारत-पाक युद्ध की खबर सुन दोबारा सेना में गए थे ‘कैप्टेन’

11 मार्च, 2017 को जन्मदिन के दिन ही कैप्टेन अमरिंदर सिंह को पंजाब में बहुमत प्राप्त हुआ और राज्य में कॉन्ग्रेस के लिए सत्ता का सूखा ख़त्म हुआ।

अडानी समूह के हुए ‘The Quint’ के प्रेजिडेंट और एडिटोरियल डायरेक्टर, गौतम अडानी के भतीजे के अंतर्गत करेंगे काम

वामपंथी मीडिया पोर्टल 'The Quint' में बतौर प्रेजिडेंट और एडिटोरियल डायरेक्टर कार्यरत रहे संजय पुगलिया अब अडानी समूह का हिस्सा बन गए हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,106FollowersFollow
409,000SubscribersSubscribe