Thursday, July 25, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयअमेरिका में गुरुद्वारों के पास गोलीबारी निकली गैंगवॉर, 17 गिरफ्तार अपराधियों में अधिकतर सिख:...

अमेरिका में गुरुद्वारों के पास गोलीबारी निकली गैंगवॉर, 17 गिरफ्तार अपराधियों में अधिकतर सिख: AK 47-मशीनगन जैसे हथियार बरामद, कई भारत में भी वॉन्टेड

इसके अलावा एक अन्य स्थान वुडलैंड पर हुई गोलीबारी के मामले में 5 आरोपितों को गिरफ्तार किया गया है। इनके नाम पवित्तर सिंह, हुसनदीप सिंह, हरकीरत सिंह, सहजप्रीत सिंह और तीरथ राम हैं।

अमेरिकी पुलिस ने साल 2022 से 2023 के बीच कैलिफोर्निया के कई गुरुद्वारों और उसके आस-पास हुई गोलीबारी की घटनाओं के मामले में 17 संदिग्धों को गिरफ्तार किया है। इन सभी आरोपितों को 20 से अधिक स्थानों पर की गई छापेमारी के बाद पकड़ा गया है। पुलिस ने इस छापेमारी के दौरान पिस्टल, AK 47 और मशीनगन जैसी घातक हथियार भी बरामद किए हैं। गिरफ्तार आरोपितों में अधिकतर सिख समुदाय के लोग बताए जा रहे हैं। पुलिस ने यह कार्रवाई सोमवार (17 अप्रैल, 2023) को की है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक गिरफ्तार लोगों में कम से कम 4 भारतीय बताए जा रहे हैं जिनके पास भारतीय पासपोर्ट बरामद हुआ है। इसमें से 2 लोग माफिया गैंग से जुड़े हैं जो भारत के कई केसों में वॉन्टेड हैं। बाकी आरोपित जन्म से ही अमेरिका के सिख समुदाय के लोग है। पुलिस का कहना है कि गिरफ्तार लोग दूसरी गैंग से अदावत में गोलीबारी की घटनाओं को अंजाम दिया करते थे। गोलीबारी की ये घटनाएँ अमेरिका के सट्टर, सैक्रामेंटो, साइन जोकिन, सोलानो, योलो और मर्सेड काउंटी में हुई थीं। पुलिस ने इन घटनाओं में हत्या के प्रयास की धाराओं में केस दर्ज किया था।

पुलिस ने कुछ गिरफ्तार आरोपितों के नाम भी प्रकाशित किए हैं। इसमें से अमरदीप सिंह, गुरविंदर सिंह, नितीश कौशल, हरमनदीप सिंह, गुरमिंदर सिंह, देवेंदर सिंह, गुरशरण सिंह और गुरचरण सिंह प्रमुख हैं। इसके अलावा एक अन्य स्थान वुडलैंड पर हुई गोलीबारी के मामले में 5 आरोपितों को गिरफ्तार किया गया है। इनके नाम पवित्तर सिंह, हुसनदीप सिंह, हरकीरत सिंह, सहजप्रीत सिंह और तीरथ राम हैं। इसमें से पवित्तर सिंह और हुसनदीप सिंह पर भारत भारत में केस दर्ज हैं और दोनों वहाँ से भगोड़े घोषित हैं। इन सभी के अलावा पुलिस ने 2 अन्य लोगों को गिरफ्तार किया है जिन पर हत्या की साजिश रचने का आरोप है।

गिरफ्तार आरोपितों द्वारा की गई 2 प्रमुख घटनाओं में पहली घटना 27 अगस्त, 2022 की है। तब स्टॉकटन के एक गुरुद्वारा में गोलीबारी हुई थी। इसके अलावा मार्च 2023 को सैक्रामेंटो के एक अन्य गुरूद्वारे में भी गोलीबारी हुई थी। जाँच के दौरान पुलिस ने बताया कि अमेरिका के कैलिफोर्निया में हुई तमाम गोलीबारी के पीछे 2 गैंग की आपसी टशन थी। इन समूहों के नाम AK 47 और मिंटा हैं इन आरोपितों की गिरफ्तारी के बाद अमेरिका के अधिकारियों ने कैलिफोर्निया को सुरक्षित बताया है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

राहुल पाण्डेय
राहुल पाण्डेयhttp://www.opindia.com
धर्म और राष्ट्र की रक्षा को जीवन की प्राथमिकता मानते हुए पत्रकारिता के पथ पर अग्रसर एक प्रशिक्षु। सैनिक व किसान परिवार से संबंधित।

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘तुमलोग वापस भारत भागो’: कनाडा में अब सांसद को ही धमकी दे रहा खालिस्तानी पन्नू, हिन्दू मंदिर पर हमले का विरोध करने पर भड़का

आर्य ने कहा है कि हमारे कनाडाई चार्टर ऑफ राइट्स में दी गई स्वतंत्रता का गलत इस्तेमाल करते हुए खालिस्तानी कनाडा की धरती में जहर बोते हुए इसे गंदा कर रहे हैं।

मुजफ्फरनगर में नेम-प्लेट लगाने वाले आदेश के समर्थन में काँवड़िए, सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद बोले – ‘हमारा तो धर्म भ्रष्ट हो गया...

एक कावँड़िए ने कहा कि अगर नेम-प्लेट होता तो कम से कम ये तो साफ हो जाता कि जो भोजन वो कर रहे हैं, वो शाका हारी है या माँसाहारी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -