Wednesday, May 22, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयएलन मस्क करेंगे ट्विटर CEO पराग अग्रवाल की छुट्टी, ट्रंप को बैन करवाने वाली...

एलन मस्क करेंगे ट्विटर CEO पराग अग्रवाल की छुट्टी, ट्रंप को बैन करवाने वाली विजया की भी होगी विदाई: रिपोर्ट में दावा- रिप्लेसमेंट की तलाश जारी

ट्विटर पर मस्क का आधिकारिक तौर पर मालिकाना हक होने के बाद कंपनी के सीईओ यानी कि पराग अग्रवाल की कंपनी से छुट्टी हो सकती है। उनके अलावा ट्विटर में लॉ मामलों की देखरेख करने वाली व ट्रंप के अकॉउंट बैन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाली लॉ हेड विजया गड्डे भी काम से जाएँगी।

टेस्ला कंपनी के मालिक व दुनिया के सबसे अमीर आदमियों की सूची में शामिल एलन मस्क के हाथ में ट्विटर के जाने के बाद अब कंपनी में होने वाले बदलावों को लेकर खबरें मीडिया में हैं। बताया जा रहा है कि ट्विटर पर मस्क का आधिकारिक तौर पर मालिकाना हक होने के बाद कंपनी के सीईओ यानी कि पराग अग्रवाल की कंपनी से छुट्टी हो सकती है। उनके अलावा ट्विटर में लॉ मामलों की देखरेख करने वाली व ट्रंप के अकॉउंट बैन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाली लॉ हेड विजया गड्डे भी काम से जाएँगी।

बता दें कि इससे पहले मस्क को लेकर खबरें आई थीं कि वह ट्विटर कंपनी के शीर्ष प्रबंधन से खुश नहीं है और शायद इसमें बदलाव करें। इसके बाद कंपनी के कर्मचारियों को अपनी नौकरी जाने का डर सताने लगा। लेकिन उन्हें इस बात का आश्वासन दिया गया कि अभी कंपनी के कागजी कार्रवाई पूरी होने में 6 माह का समय है और कम से कम तब तक उनकी नौकरी सेव है।

अब इन्हीं खबरों के बीच रॉयटर्स ने रिपोर्ट की है कि एलन मस्क कंपनी के लिए नया सीईओ खोजने में जुट गए हैं जिसका मतलब है कि अग्रवाल का सीईओ पद से जाना तय है। इससे पहले अग्रवाल को लेकर बताया गया था कि अगर मस्क अपनी नई कंपनी से उसके पुराने सीईओ, जो कि पराग अग्रवाल हैं, को 12 महीने से पहले हटाते हैं तो उन्हें 43 करोड़ डॉलर (₹33,00,93,80,000) उन्हें देने पड़ेंगे।

वहीं लीगल हेड विजया गड्डे की बात करें तो उनके पद पर भी गाज गिर सकती है। न्यूयॉर्क पोस्ट की रिपोर्ट के अनुसार विजया गड्डे ने पिछले साल बतौर ट्विटर लीगल हेड 17 मिलियन डॉलर यानी कि 130 करोड़ रुपए की कमाई की थी। कथिततौर पर गड्डे को निकालने पर मस्क को उन्हें 12.5 मिलियन डॉलर (₹95,95,75,000) देने होंगे।

गौरतलब है कि ट्विटर में पराग अग्रवाल ने पिछले वर्ष ही जैक डॉर्सी को रिप्लेस किया था। वही विजया गड्डे इस कंपनी से 2011 से साथ जुड़ी हुई हैं। हाल में उन्हें लेकर खबर आई थी कि ट्विटर के बिकने के बाद उन्होंने एक टीम मीटिंग की थी जिसमें उन्होंने कंपनी के भविष्य को लेकर चिंता जताई थी और फूट-फूट कर रोई भी थीं। वह ट्विटर वही विवादित अधिकारी हैं जिनका नाम अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति का ट्विटर बैन करवाने और हंटर बाइडेन की स्टोरी सेंसर करवाने वालों में लिया जाता है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘ध्वस्त कर दिया जाएगा आश्रम, सुरक्षा दीजिए’: ममता बनर्जी के बयान के बाद महंत ने हाईकोर्ट से लगाई गुहार, TMC के खिलाफ सड़क पर...

आचार्य प्रणवानंद महाराज द्वारा सन् 1917 में स्थापित BSS पिछले 107 वर्षों से जनसेवा में संलग्न है। वो बाबा गंभीरनाथ के शिष्य थे, स्वतंत्रता के आंदोलन में भी सक्रिय रहे।

‘ये दुर्घटना नहीं हत्या है’: अनीस और अश्विनी का शव घर पहुँचते ही मची चीख-पुकार, कोर्ट ने पब संचालकों को पुलिस कस्टडी में भेजा

3 लोगों को 24 मई तक के लिए हिरासत में भेज दिया गया है। इनमें Cosie रेस्टॉरेंट के मालिक प्रह्लाद भुतडा, मैनेजर सचिन काटकर और होटल Blak के मैनेजर संदीप सांगले शामिल।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -