Sunday, July 25, 2021
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयइमाम की बेगम निकली मर्द: निकाह के बाद पड़ोसी ने किया खुलासा, तो उड़...

इमाम की बेगम निकली मर्द: निकाह के बाद पड़ोसी ने किया खुलासा, तो उड़ गए होश

इमाम की एक मस्जिद में आरोपित से मुलाक़ात होती है, जिसने सैंडल और हिजाब पहना हुआ था, जिसे देखकर इमाम ने शादी के लिए प्रपोज कर दिया और आरोपी ने भी इमाम को शादी के लिए तुरन्त ही हाँ कर दी।

प्यार में धोख़ा वाली कहावत और हक़ीकत आपने दोनों ही जरूर देखे होंगे, लेकिन युगांडा से एक ऐसी ख़बर सामने आई जहाँ एक इमाम को प्यार में नहीं बल्कि शादी में धोख़ा मिल गया। इस बात की जानकारी जब इमाम को हुई तो उसके पैरों तले ज़मीन खिसक गई।

आए दिन कहीं न कहीं से प्यार में दिल टूटते तो कभी प्यार में रिश्तों को बदलते हुए आपने जरूर देखा या इस तरह की ख़बरों को सुना होगा, लेकिन युगांडा से आई एक ख़बर ने पीड़ित इमाम को ही नहीं बल्कि हर एक उस शख्स को चौंका दिया, जिसने भी इस खबर को सुना या फ़िर घटनाक्रम को अपनी ही आँखों से देखा। दरअसल अफ्रीकी देश युगांडा के इमाम शेख़ मोहम्मद मुतुम्बा ने क़रीब दो हफ्ते पहले ही स्वबुल्लाह नबुकेरा नामक (शादी के बाद बदला हुआ नाम) महिला से शादी की। इसके बाद दोनों के बीच शारीरिक सम्बन्ध नहीं बन सके। ऐसा इसलिए कि नकली महिला ने इमाम को बताया था कि वह इन दिनों पीरिएड्स से पीड़ित है।

इसी बीच पड़ोस की एक महिला ने इमाम पर आरोप लगाया कि उसकी पत्नी ने दीवार कूदकर उसके घर से टीवी और कुछ सामान चोरी किया है। पड़ोसी ने संदेह जताते हुए यह भी आरोप लगाया कि उसकी पत्नी कोई महिला नहीं बल्कि एक पुरुष है। इसके बाद पड़ोसी ने चोरी की शिकायत पुलिस को दी। शिकायत पर पुलिस ने ईमाम के साथ उसकी पत्नी को थाने बुलाया । जहाँ से उसे जेल भेजने से पहले एक महिला पुलिसकर्मी द्वारा जाँच कराई गई, क्यों कि उसने सैंडल और हिजाब पहना हुआ था, लेकिन जाँच के दौरान महिला पुलिसकर्मी दंग रह गई। उसने तत्काल इमाम को बताया और कहा कि उसकी पत्नी कोई महिला नहीं बल्कि एक मर्द है।

यह बात जानकर इमाम के पैरों तले ज़मीन खिसक गई। इसके बाद उसे मस्जिद के इमाम पद से सिर्फ इसलिए निलंबित कर दिया गया कि उसकी पत्नी एक पुरुष निकली। इस खुलासे के बाद इमाम ने किसी से भी बात करना ठीक नहीं समझा और कहा कि इस समय मुझे परामर्श की आवश्यकता है।

पुलिस पूछताछ में आरोपी युवक ने अपना नाम रिचर्ड तुमुशाबे हा बताया और कहा कि उसने इमाम से शादी पैसे चुराने के लिए की थी और उसके पुरुष होने की हक़ीकत इमाम को न पता चले इसके लिए उसने शारीरिक सम्बन्ध न बनाने के लिए एक नहीं बल्कि कई बहाने बनाए। इतना ही नहीं उसने सोते समय चार दिन तक सोते समय कपड़े तक नहीं उतारे। आरोपी ने यह भी बताया कि वह कोई मुस्लिम नहीं बल्कि इस ईसाई है

दरअसल पिछले काफ़ी समय से इमाम को नई दुल्हन की तलाश थी। इस बीच इमाम की एक मस्जिद में आरोपित से मुलाक़ात होती है, जिसने सैंडल और हिजाब पहना हुआ था, जिसे देखकर इमाम ने शादी के लिए प्रपोज कर दिया और आरोपी ने भी इमाम को शादी के लिए तुरन्त ही हाँ कर दी। हालाँकि, आरोपी ने एक शर्त भी रखी थी कि जब तक वह शादी नहीं करेंगे तब तक हमारे बीच कोई शारीरिक सम्बन्ध नहीं बन सकते, जिसे इमाम ने स्वीकार कर लिया था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘सचिन पायलट को CM बनाओ’: कॉन्ग्रेस के बड़े नेताओं के सामने जम कर हंगामा, मंत्रिमंडल विस्तार से पहले बुलाई थी बैठक

राजस्थान में मंत्रिमंडल में फेरबदल से पहले ही मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और पूर्व मुख्यमंत्री सचिन पायलट के समर्थकों के बीच बहस और हंगामेबाजी हुई।

‘गाँधी की हत्या के बाद कॉन्ग्रेस ने करवाया था ब्राह्मणों का नरसंहार, पुलिस ने दर्ज नहीं किया एक भी केस’: इतिहासकार का खुलासा

लेखक व इतिहासकार विक्रम सम्पत ने कहा है कि महात्मा गाँधी की हत्या के बाद ब्राह्मण-विरोधी नरसंहार कॉन्ग्रेस नेताओं ने करवाया था। एक भी केस दर्ज नहीं किया गया था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,128FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe