Wednesday, May 18, 2022
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयचीन में Covid वैक्सीनेशन सेंटर के बाहर लोगों की भारी भीड़, टीके के लिए...

चीन में Covid वैक्सीनेशन सेंटर के बाहर लोगों की भारी भीड़, टीके के लिए मची अफरातफरी: देखें वीडियो

एक अन्य वीडियो हांगकांग के उत्तर-पश्चिम में स्थित ग्वांगझू शहर का है, जहाँ एक अस्पताल के बाहर वैक्सीन लगवाने के लिए लोगों की लंबी-लंबी कतारें दिखाई दे रही हैं।

दुनियाभर में कोरोना का संक्रमण फैलाने के बाद चीन कोरोना से सफलतापूर्वक निपटने का दावा करता है। वो अपने सभी लोगों का टीकाकरण करने का दावा भी करता है। लेकिन, वहाँ के कई शहरों से सामने आ रहे वीडियो उसकी अलग ही तस्वीर पेश करते हैं। ये वीडियो चीन की साम्यवादी सरकार की हकीकत की पोल खोलते हैं। इससे इस बात का पता चलता है कि चीन में किस तरह से टीके के लिए लोगों को संघर्ष करना पड़ रहा है।

हाल ही में एक चीनी मानवाधिकार कार्यकर्ता ने ट्विटर पर एक वीडियो शेयर किया था, जिसमें चीन के जियांग्शी प्रान्त के जिक्सियन काउंटी स्थित वैक्सीनेशन सेंटर के बाहर सैंकड़ों की संख्या में लोगों की भीड़ दिखाई दे रही है। उसमें देखा जा सकता है कि लोग किस कदर वैक्सीन के लिए एक-दूसरे के साथ धक्का-मुक्की करते हुए दिखाई दे रहे हैं।

गुआंगझोउ में अस्पताल के बाहर लगी हजारों की भीड़

एक अन्य वीडियो हांगकांग के उत्तर-पश्चिम में स्थित ग्वांगझू शहर का है, जहाँ एक अस्पताल के बाहर वैक्सीन लगवाने के लिए लोगों की लंबी-लंबी कतारें दिखाई दे रही हैं। उस वीडियो को एक साइकिल चला रहे युवक ने शूट किया था, जिसमें अस्पताल से दूर कई ब्लॉकों तक हजारों लोगों की लंबी लाइन थी। यह वीडियो करीब 2:12 मिनट का था।

बताया जा रहा है कि चीन के कई शहरों में कोरोना के नए मामले तेजी से बढ़े हैं और ग्वांगझू इन्हीं शहरों में शामिल है। वहाँ लोग टीकाकरण के लिए वैक्सीनेशन सेंटर पर गए थे, जिस कारण लंबी-लंबी कतारें लग गईं। कोरोना का संक्रमण बढ़ने के बाद चीन की सरकार ने लोगों को घरों में ही रहने का आदेश जारी किया है।

दक्षिणी चीन के ग्वांगडोंग प्रान्त में सरकार ने दिशा निर्देश जारी कर लिवान जिले की पाँच गलियों में रहने वाले लोगों के घरों से बाहर निकलने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। दिशा निर्देश के मुताबिक, हर घर से केवल एक व्यक्ति को हर दिन जरूरत का सामान खरीदने की अनुमति है।

वीडियो में वैक्सीनेशन सेटरों के बाहर हताश लोगों की भारी भीड़ चीन के कोरोना प्रबंधन के दावों की पोल खोलते हैं। अब तो चीन में बनी कोरोना की वैक्सीन पर भी सवाल उठने लगे हैं कि ये संक्रमण से बचाने में कारगर भी है या नहीं?

सेसेल्श ने दुनियाभर में सबसे अधिक टीकाकरण किया था। बावजूद इसके हाल ही वहाँ कोरोना के संक्रमण में वृद्धि हुई है। इससे चीन द्वारा बनाए गए टीके सिनोफॉर्म की विश्वसनीयता पर सवाल उठने शुरू हो गए हैं। दरअसल, सेसल्श ने भी अपने लोगों को चीनी वैक्सीन लगवाई थी। इसके अलावा यूएई और बहरीन में सिनोफार्म की दो खुराक संक्रमण को रोकने के लिए पर्याप्त नहीं थीं, जिसके बाद ये दोनों देश अपने लोगों को तीसरी खुराक देने पर विचार कर रहे हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

सबा नकवी ने एटॉमिक रिएक्टर को बता दिया शिवलिंग, विरोध होने पर डिलीट कर माँगी माफ़ी: लोग बोले रहे – FIR करो

सबा नकवी ने मजाक उड़ाते हुए कहा कि भाभा एटॉमिक रिसर्च सेंटर में सबसे बड़े शिवलिंग की खोज हुई। व्हाट्सएप्प फॉरवर्ड बता कर किया शेयर।

गुजरात में बुरी तरह फेल हुई AAP की ‘परिवर्तन यात्रा’, पंजाब से बुलाई गाड़ियाँ और लोग: खाली जगह की ओर हाथ हिलाते रहे नेता

AAP नेता और पूर्व पत्रकार इसुदान गढ़वी रैली में हाथ दिखाकर थक चुके थे लेकिन सामने कोई उनकी बात का जवाब नहीं दे रहा था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
186,677FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe