Sunday, July 3, 2022
Homeराजनीतिकॉन्ग्रेस के सहयोगी वाइको बोले: 100वें स्वतंत्रता दिवस पर भारत में नहीं होगा कश्मीर

कॉन्ग्रेस के सहयोगी वाइको बोले: 100वें स्वतंत्रता दिवस पर भारत में नहीं होगा कश्मीर

एमडीएमके चीफ़ ने भाजपा पर लगाया कश्मीर को गड्ढे में धकेलने का आरोप। हिंदी को लेकर भी दे चुके हैं विवादित बयान।

दक्षिण भारत के राजनीतिक दल MDMK के मुखिया वाइको ने एक शर्मनाक बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि देश जब आजादी की 100वीं वर्षगांठ मना रहा होगा, उस समय कश्मीर भारत का हिस्सा नहीं रह जाएगा। MDMK का कॉन्ग्रेस के साथ गठबंधन है।

मीडिया से बातचीत के दौरान उन्होंने कहा, “जब भारत 100वाँ स्वतंत्रता दिवस मना रहा होगा तो कश्मीर भारत का भाग नहीं होगा। भाजपा ने कश्मीर को गड्ढे में धकेल दिया है। मैं कश्मीर को लेकर पहले भी अपने विचार रख चुका हूँ। मैंने कश्मीर मुद्दे को लेकर भाजपा पर 70 फीसदी और कॉन्ग्रेस पर 30 फीसदी हमला किया था।”

साथ ही उन्होंने तिरुवन्नमलई जिले में अपनी पार्टी के एक समारोह को संबोधित करते हुए ये भी कहा कि उनकी पार्टी डीएमके के फाउंडर सीएन अन्नादुरई की 110वीं जयंती के अवसर पर कार्यक्रम आयोजित करेगी।

गौरतलब है कि इससे पहले भी 5 अगस्त को जब अनुच्छेद 370 हटाए जाने का संकल्प राज्यसभा में मोदी सरकार के नेतृत्व में गृहमंत्री अमित शाह द्वारा पेश किया गया था तब वाइको ने इस कदम का विरोध करते हुए कहा था कि यह दुख भरा दिन है और कश्मीर के लोगों से किया गया वादा तोड़ दिया गया है। इस दौरान
वाइको ने कश्मीर के महाराजा हरि सिंह द्वारा पंडित जवाहरलाल नेहरू से माँगी मदद का भी जिक्र किया था।

वाइको को चेन्नई की एक अदालत लिट्टे का समर्थन करने पर देशद्रोह का दोषी करार दे चुकी है। एक साल की सजा सुनाते हुए उन पर 10,000 जुर्माना लगाया गया था। हालाँकि बाद में उनकी सजा पर रोक लगा दी गई थी।

एमडीएमके चीफ़ ने पिछले महीने हिंदी को लेकर भी विवादित बयान दिया था। उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी और अधिकतर सांसदों के हिंदी बोलने पर आपत्ति जताई थी और कहा था, “आज संसद में हिंदी की वजह से बहस का स्तर गिर गया है। वे सिर्फ हिंदी में चिल्लाते हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी हिंदी में ही संसद को संबोधित करते हैं। मेरी नजर में हिंदी बोलने के पीछे प्रधानमंत्री की भावना हिंदी, हिंदू, हिंदू राष्ट्र की है। “

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

8 लोग थे निशाने पर, एक डॉक्टर को वीडियो बना माँगनी पड़ी थी माफ़ी: उमेश कोल्हे के गले पर 5 इंच चौड़ा, 7 इंच...

उमेश कोल्हे के गले पर जख्म 5 इंच चौड़ा, 5 इंच लंबा और 5 इंच गहरा था। साँस वाली नली, भोजन निगलने वाली नली और आँखों की नसों पर भी वार किए गए थे।

सिर कलम करने में जिस डॉ युसूफ का हाथ, वो 16 साल से था दोस्त: अमरावती हत्याकांड में कश्मीर नरसंहार वाला पैटर्न, उदयपुर में...

अमरावती में उमेश कोल्हे की हत्या में उनका 16 साल पुराना वेटेनरी डॉक्टर दोस्त यूसुफ खान भी शामिल था। उसी ने कोल्हे की पोस्ट को वायरल किया था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
202,752FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe