Saturday, May 18, 2024
Homeरिपोर्टमीडियाजिसकी बीवी TMC सांसद हो... स्मृति ईरानी ने एक साँस में गिना दिए अमेठी...

जिसकी बीवी TMC सांसद हो… स्मृति ईरानी ने एक साँस में गिना दिए अमेठी में किए काम, जनता ने भी कर दी राजदीप सरदेसाई की बेइज्जती: देखिए वीडियो

इसके बाद राजदीप सरदेसाई कॉन्ग्रेस प्रत्याशी और गाँधी परिवार के वफादार KL शर्मा को लेकर आ गए और दावा करने लगे कि उनके बारे में कहा जाता है कि उन्हें अमेठी का चप्पा-चप्पा पता है।

केंद्रीय महिला एवं बाल विकास और अल्पसंख्यक मामलों की मंत्री स्मृति ईरानी ने अपने राजनीतिक गृह-क्षेत्र अमेठी में ‘इंडिया टुडे’ के प्रोपेगंडा पत्रकार राजदीप सरदेसाई की जम कर क्लास लगाई है। राजदीप सरदेसाई ‘एलेक्शंस ऑन माई प्लेट’ कार्यक्रम के जरिए लोकसभा चुनाव 2024 की कवरेज कर रहे हैं, जिसमें वो विपक्षी नेताओं के साथ बैठ कर नॉनवेज खाते हैं। तमिलनाडु के मुख्यमंत्री MK स्टालिन और कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया का भी उन्होंने इंटरव्यू लिया था।

बता दें कि 2014 के लोकसभा चुनाव में स्मृति ईरानी पहली बार लड़ी थीं, लेकिन राहुल गाँधी ने उन्हें हरा दिया था। 2019 में पासा पलट गया और जिस सीट पर 9 चुनावों में गाँधी परिवार ने जीत दर्ज की है वहाँ से राहुल गाँधी हार गए। शायद उन्हें पहले ही इसका एहसास हो गया था, तभी उन्होंने केरल के वायनाड से भी पर्चा भर रखा था। इस बार राहुल गाँधी अमेठी से भी भाग खड़े हुए हैं रायबरेली से नामांकन किया है। रायबरेली से उनकी माँ सोनिया गाँधी जीतती रही हैं, जो अब राज्यसभा सांसद हैं।

राजदीप सरदेसाई ने राहुल गाँधी के ताज़ा निर्णय पर स्मृति ईरानी के विचार माँगे तो उन्होंने कहा कि ये किसी इतिहास से कम नहीं है कि अपने तथाकथित गढ़ में गाँधी परिवार ने हार मान ली है। उन्होंने कहा कि ये पहली बार नहीं है जब राहुल गाँधी अमेठी से भाग खड़े हुए हैं, 2019 में भी वो वायनाड भाग खड़े हुए हैं। उन्होंने इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का बयान भी याद दिलाया, जिसमें उन्होंने कहा था कि राहुल गाँधी के लिए दूसरी सुरक्षित सीट की तलाश की जा रही है।

स्मृति ईरानी ने गाँधी परिवार पर दोहरा रवैया रखने का आरोप लगाते हुए कहा था कि उन्हें वायनाड की जनता को बताना चाहिए था कि राहुल गाँधी दूसरी सीट से लड़ने जा रहे हैं। राहुल गाँधी के अमेठी से न लड़ने के फैसले को रणनीति बताए जाने पर स्मृति ईरानी ने कहा कि पूरी कॉन्ग्रेस पार्टी और उनकी पूरी रणनीति और ऊर्जा उन पर ही केंद्रित थी, जिससे पता चलता है कि वो उनके लिए महत्वपूर्ण थीं। उन्होंने इस दौरान अमेठी में किए गए काम भी गिनाए।

उन्होंने बताया कि पिछले 5 वर्षों में 1.14 लाख घर, बनवाए हैं 4 लाख परिवारों को शौचालय दिया है, 3.5 लाख घरों में पानी और 2.20 लाख घरों में गैस कनेक्शन पहुँचा है, डेढ़ लाख घरों में बिजली कनेक्शन पहुँचा है। उन्होंने कहा कि गाँधी परिवार के समय में 14 लाख लोग खुले में शौच के लिए विवश थे। उन्होंने बताया कि अमेठी में चीफ मेडिकल ऑफिसर का दफ्तर नहीं था, कलेक्ट्रेट नहीं था, अब ये सब बन गए हैं। स्मृति ईरानी ने कहा कि यहाँ डायलिसिस सेंटर, मेडिकल कॉलेज, फायर स्टेशन, पुलिस लाइन, फर्टिलाइजर रैक, कृषि विज्ञान केंद्र, सॉइल टेस्टिंग लैब और बाईपास को भी अपने काम के रूप में गिनाया।

इसके बाद राजदीप सरदेसाई अमेठी की सामाजिक और आर्थिक स्थिति की बात करने लगे, जिस पर करारा जवाब देते हुए स्मृति ईरानी ने कहा कि एक ऐसा शख्स जिसकी पत्नी TMC (तृणमूल कॉन्ग्रेस) की राज्यसभा सांसद है, उसे ये ध्यान रखना चाहिए कि अमेठी में गाँधी परिवार को 50 साल मिला जबकि उन्हें सिर्फ 5 साल। उन्होंने कहा कि 50 साल तक गाँधी परिवार का अमेठी में एकछत्र राज्य रहा, ऐसे में सामाजिक-आर्थिक स्थिति को लेकर उन्हें जवाब देना चाहिए।

इसके बाद राजदीप सरदेसाई कॉन्ग्रेस प्रत्याशी और गाँधी परिवार के वफादार KL शर्मा को लेकर आ गए और दावा करने लगे कि उनके बारे में कहा जाता है कि उन्हें अमेठी का चप्पा-चप्पा पता है। इस पर वहाँ मौजूद लोग ही स्थानीय भाषा में जवाब देने लगे कि किशोरीलाल शर्मा को कोई पहचानता ही नहीं है। कॉन्ग्रेस में 25 वर्ष तक रहे एक कार्यकर्ता ने कहा कि स्मृति ईरानी ने कहा कि जिस सड़क से राजदीप सरदेसाई आए हैं अब वो 7 की जगह 14 मीटर की हो गई है।

उक्त व्यक्ति ने ये भी बताया कि हर ग्राम सभा में 25 करोड़ रुपए खर्च किए गए हैं, आयुष्मान कार्ड स्वास्थ्य बीमा कार्ड बँटे हैं, कॉलोनी बनी है, पानी टंकी बनी है। उन्होंने कहा कि 1200 ग्राम सभाओं में काम हुए हैं। प्रियंका गाँधी के सवाल पर स्मृति ईरानी ने कहा कि उनका टेस्ट हो चुका है, 5 में से 4 विधानसभाओं में उनके द्वारा रुचि लेने के बावजूद कॉन्ग्रेस उम्मीदवारों की जमानत जब्त हो गई। राजदीप सरदेसाई इसके बाद पूछने लगे कि क्या राहुल गाँधी के यहाँ से न लड़ने के कारण आप निराश हैं, इस पर स्मृति ईरानी ने जवाब दिया कि उन्हें ये पसंद आया कि राजदीप सरदेसाई ने अंततः राहुल गाँधी को निराश कहा।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

स्वाति मालीवाल बन गई INDI गठबंधन में गले की फाँस? राहुल गाँधी की रैली के लिए केजरीवाल को नहीं भेजा गया न्योता, प्रियंका कह...

दिल्ली में आयोजित होने वाली राहुल गाँधी की रैली में शामिल होने के लिए AAP प्रमुख अरविंद केजरीवाल को न्योता नहीं दिया गया है।

‘अनुच्छेद 370 को हमने कब्रिस्तान में गाड़ दिया, इसे वापस नहीं लाया जा सकता’: PM मोदी बोले- अलगाववाद को खाद-पानी देने वाली कॉन्ग्रेस ने...

पीएम मोदी ने कहा, "आजादी के बाद गाँधी जी की सलाह पर अगर कॉन्ग्रेस को भंग कर दिया गया होता, तो आज भारत कम से कम पाँच दशक आगे होता।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -