Tuesday, October 19, 2021
Homeदेश-समाजलोकसभा चुनाव से पहले मोदी सरकार का बड़ा ऐलान, दिल्ली मेट्रो और जवानों के...

लोकसभा चुनाव से पहले मोदी सरकार का बड़ा ऐलान, दिल्ली मेट्रो और जवानों के लिए सौगात

दिल्ली मेट्रो के लिए तीन नई लाइनें- एरो सिटी से तुगलकाबाद, आरके आश्रम से जनकपुरी वेस्ट और मौजपुर से मुकुंदपुर शुरू की जाएँगी। इन पर ₹24,948 करोड़ खर्च करने की मंजूरी दी गई है।

लोकसभा चुनाव सर पर हैं और सभी राजनीतिक पार्टियाँ इसे जीतने की कोशिश में जुटी हैं। चुनाव जीतने के लिए राजनीतिक दलों की तरफ से तरह-तरह के वायदे किए जा रहे हैं। इसी कड़ी में चुनाव की तारीख के ऐलान के ठीक पहले मोदी सरकार ने जनता के सामने सौगातों की झड़ी लगा दी है।

दरअसल गुरुवार को मोदी सरकार ने आखिरी कैबिनेट बैठक में 30 अहम फैसले लिए। वहीं पिछले हफ्ते कैबिनेट में 39 फैसले लिए गए थे, यानी कि आठ दिनों में दो कैबिनेट की बैठकों में कुल 69 फैसले लिए गए।

गुरुवार को जो लोक लुभावने फैसले किए गए, उसमें दिल्ली मेट्रो के लिए तीन नई लाइनें- एरो सिटी से तुगलकाबाद, आरके आश्रम से जनकपुरी वेस्ट और मौजपुर से मुकुंदपुर शुरू की जाएँगी। इन पर ₹24,948 करोड़ खर्च करने को मंजूरी दी गई है।

कैबिनेट की इस बैठक में देश भर के जवानों को लेकर भी फैसला लिया गया है। तकरीबन 40 हजार से ज्‍यादा पूर्व सैनिकों को स्‍वास्‍थ्‍य बीमा योजना के दायरे में लाए जाने का फैसला किया गया है। इस सुविधा का लाभ द्वितीय विश्वयुद्ध में भाग ले चुके सैनिकों, इमरजेंसी कमिशंड ऑफिसर्स, शार्ट सर्विस कमिशन ऑफिसर्स और समय पूर्व रिटायर हुए फौजियों को भी दिया जाएगा।

इसके साथ ही सरकार ने 50 नए केंद्रीय विद्यालयों को भी मंजूरी दी है और इस शैक्षणिक सत्र से इन विद्यालयों की शुरुआत भी हो जाएगी, जिससे लगभग एक लाख बच्‍चों को फायदा पहुँचेगा। बता दें कि सरकार की तरफ से पाँच सालों के दौरान इन केंद्रीय विद्यालयों के विकास के लिए ₹1,579 करोड़ खर्च किए जाएँगे।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘सहिष्णुता और शांति का स्तर ऊँचा कीजिए’: हिंदी को राष्ट्रभाषा बताने पर जिस कर्मचारी को Zomato ने निकाला था, उसे CEO ने फिर बहाल...

रेस्टॉरेंट एग्रीगेटर और फ़ूड डिलीवरी कंपनी Zomato के CEO दीपिंदर गोयल ने उस कर्मचारी को फिर से बहाल कर दिया है, जिसे कंपनी ने हिंदी को राष्ट्रभाषा बताने पर निकाल दिया था।

बांग्लादेश के हमलावर मुस्लिम हुए ‘अराजक तत्व’, हिंदुओं का प्रदर्शन ‘मुस्लिम रक्षा कवच’: कट्टरपंथियों के बचाव में प्रशांत भूषण

बांग्लादेश में हिंदू समुदाय के नरसंहार पर चुप्पी साधे रखने के कुछ दिनों बाद, अब प्रशांत भूषण ने हमलों को अंजाम देने वाले मुस्लिमों की भूमिका को नजरअंदाज करते हुए पूरे मामले में ही लीपापोती करने उतर आए हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,963FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe