Sunday, June 16, 2024
Homeरिपोर्टराष्ट्रीय सुरक्षाबालाकोट में 27 आतंकियों की ट्रेनिंग, पंजाब-अफगानिस्तान कनेक्शन: खुफिया एजेंसियों ने जारी किया अलर्ट

बालाकोट में 27 आतंकियों की ट्रेनिंग, पंजाब-अफगानिस्तान कनेक्शन: खुफिया एजेंसियों ने जारी किया अलर्ट

इंटेलीजेंस और काउंटर टेरर ऑपरेटिव्स द्वारा दी जानकारी के अनुसार, बालाकोट में भारत पर हमला करने के लिए जैश-ए-मोहम्मद के 27 आतंकियों को ट्रेनिंग दी जा रही है। इसे लेकर खुफिया एजेंसियों ने अलर्ट भी जारी किया है।

पाकिस्तान के बालाकोट में आतंकियों का कैंप एक बार फिर से सक्रिय हो गया है। इंटेलीजेंस और काउंटर टेरर ऑपरेटिव्स द्वारा दी जानकारी के अनुसार, यहाँ भारत पर हमला करने के लिए जैश-ए-मोहम्मद के 27 आतंकियों को ट्रेनिंग दी जा रही है। इसे लेकर खुफिया एजेंसियों ने अलर्ट भी जारी किया है।

इस कैंप का नेतृत्व आतंकी मसूद अजहर के बेटे यूसुफ अजहर द्वारा किया जा रहा है। इस कैंप में तैयार किए जा रहे 27 आतंकियों में से 8 आतंकी POK से हैं। जबकि इन्हें तैयार करने वाले 2 प्रशिक्षक पाकिस्तान के पंजाब से और बाकी 3 अफगानिस्तान से हैं।

मालूम हुआ है कि इन 27 आतंकियों की ट्रेनिंग इस हफ्ते खत्म हो जाएगी, जिसके बाद ये भारत में आतंकी मनसूबों को अंजाम देने के लिए तैयार होंगे। ऑपरेटिव्स के मुताबिक, पिछले साल पाकिस्तान के बालाकोट में जिस वक्त भारत ने एयर स्ट्राइक किया था, उस वक्त इस कैंप में करीब 300 आतंकी ट्रेनिंग ले रहे थे।

बता दें कि बालाकोट में आतंकियों द्वारा चालू किए गए कैंप से संबंधित ये जानकारियाँ उस समय सामने आई हैं, जब सुरक्षाबलों द्वारा लगातार घाटी में आतंकियों पर कार्रवाई चालू है और आए दिन किसी न किसी आतंकी के मारे जाने की सूचना मिलती रहती है। हिंदुस्तान टाइम्स की खबर के अनुसर कश्मीरी घाटी में अब भी कम से कम 102 आंतकी सक्रिय हैं। इनमें 59 लश्कर ए तैयबा के, 27 जैश-ए-मोहम्मद के और 6 हिजबुल मुजाहिद्दीन के हैं।

पिछले दिनों इन्हीं आतंकियों के मनसूबों को नाकाम करते हुए पुलिस ने सर्च अभियान के दौरान अवंतीपोरा से जैश-ए-मोहम्मद के चार आतंकियों को दौड़ते हुए गिरफ्तार किया था। प्राथमिक पूछताछ में पता चला था कि ये चारों जेएमएम के सक्रिय आतंकवादियों को सहायता प्रदान कर रहे थे और इसी सिलसिले में वे फ़िर से आए थे।

गौरतलब है कि पुलवामा हमले के बाद 26 फरवरी को भारतीय वायुसेना के लड़ाकू विमानों ने पाकिस्तान के बालाकोट में जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी कैंप पर बमबारी की थी और कैंप को तबाह कर दिया था। हालाँकि, पाकिस्तान बार-बार इस स्ट्राइक से इनकार करता रहा लेकिन बाद में भारत सरकार ने इसके सबूत भी दिए थे और पाकिस्तान के झूठे दावों को खारिज किया था।

जिहादी लगे हैं बालाकोट को दोबारा सक्रिय करने की कोशिश में: सही निकली जनरल रावत की आशंका

बालाकोट में फिर सक्रिय जैश आतंकी: सुरक्षाबलों को निशाना बनाने के लिए 40-50 फिदायीन ले रहे ट्रेनिंग

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

भारतीय इंजीनियरों का ‘चमत्कार’, 8वाँ अजूबा, एफिल टॉवर से भी ऊँचा… जिस रियासी में हुआ आतंकी हमला वहीं दुनिया देखेगी भारत की ताकत, जल्द...

ये पुल 15,000 करोड़ रुपए की लागत से बना है। इसमें 30,000 मीट्रिक टन स्टील का इस्तेमाल हुआ है। ये 260 किलोमीटर/घंटे की हवा की रफ़्तार और -40 डिग्री सेल्सियस का तापमान झेल सकता है।

J&K में योग दिवस मनाएँगे PM मोदी, अमरनाथ यात्रा भी होगी शुरू… उच्च-स्तरीय बैठक में अमित शाह का निर्देश – पूरी क्षमता लगाएँ, आतंकियों...

2023 में 4.28 लाख से भी अधिक श्रद्धालुओं ने बाबा अमरनाथ का दर्शन किया था। इस बार ये आँकड़ा 5 लाख होने की उम्मीद है। स्पेशल कार्ड और बीमा कवर दिया जाएगा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -