Saturday, October 23, 2021
Homeरिपोर्टराष्ट्रीय सुरक्षाTauktae की रफ्तार 150 km/घंटे, मौसम विभाग का अलर्ट: भारतीय नौसेना ने कहा -...

Tauktae की रफ्तार 150 km/घंटे, मौसम विभाग का अलर्ट: भारतीय नौसेना ने कहा – मदद के लिए पूरी तरह तैयार

"भारतीय नौसेना के जहाज, विमान, हेलीकॉप्टर, गोताखोर और आपदा राहत दल राज्य सरकार की मदद के लिए स्टैंडबाय पर हैं, चक्रवाती तूफान Tauktae भारत के पश्चिमी तट पर पहुँच रहा है।"

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने चक्रवात Tauktae को लेकर अलर्ट जारी किया है। उन्होंने कहा कि शनिवार को Tauktae एक भीषण चक्रवाती तूफान में बदल जाएगा। IMD ने ट्वीट किया, “लक्षद्वीप क्षेत्र और उससे सटे दक्षिण-पूर्व और पूर्व-मध्य अरब सागर के ऊपर एक चक्रवाती तूफान “Tauktae” (जिसे Taute कहा जाता है) में गहरा दबाव तेज हो गया है। दक्षिण गुजरात और दीव तटों के लिए चक्रवात की चेतावनी।”

भारत का पश्चिमी तट चक्रवात का सामना करने के लिए तैयार है। भारतीय नौसेना ने राज्य प्रशासन को समर्थन का आश्वासन दिया है। नौसेना के प्रवक्ता ने एक ट्वीट में कहा, “भारतीय नौसेना के जहाज, विमान, हेलीकॉप्टर, गोताखोर और आपदा राहत दल राज्य सरकार की मदद के लिए स्टैंडबाय पर हैं, क्योंकि चक्रवाती तूफान Tauktae भारत के पश्चिमी तट पर पहुँच रहा है।”

शुक्रवार (14 मई 2021) को आईएमडी के अधिकारियों ने 16 से 18 मई के बीच 150 से 160 किमी प्रति घंटे की हवा की रफ्तार के साथ चक्रवाती तूफान के बढ़ने की चेतावनी दी। इसके चलते तटीय क्षेत्र में तेज बारिश आएगी। इस क्षेत्र के कुछ अन्य स्थानों पर सोमवार और मंगलवार को भारी से अत्यधिक भारी बारिश होगी।

इसके बाद से गुजरात के सभी बंदरगाहों को मछुआरों को समुद्र में न जाने के लिए अलर्ट जारी करने को कहा गया है। अहमदाबाद में मौसम विज्ञान केंद्र की सहायक निदेशक मनोरमा मोहंती ने कहा, “अभी तक कोई अनुमान नहीं है कि यह गुजरात तट पर दस्तक देगा या नहीं। कल ही इसकी तस्वीर सामने आएगी।”

हालाँकि, गुजरात सरकार ने सभी तटीय जिलों के कलेक्टरों को लोगों की सुरक्षा के लिए जरूरी कदम उठाने का आदेश दे दिया है। वहीं, स्थानीय अधिकारियों को पहले से ही मछुआरों को अलर्ट करने और समुद्र में होने पर उन्हें वापस तट पर लाने का निर्देश दे दिया गया था। इसके अलावा जो तट पर हैं, उन्हें स्थिति में सुधार होने तक एहतियात के तौर पर समुद्र में जाने से रोक दिया गया है।

मोहंती ने कहा कि आने वाले चक्रवात के बारे में नाविकों को अलर्ट करने के लिए गुजरात के सभी बंदरगाहों को ‘दूरस्थ चेतावनी संकेत संख्या 2’ फहराने के लिए कहा गया है। इस बीच, एनडीआरएफ ने चक्रवात के संभावित प्रभावों से निपटने के लिए 53 टीमों को नियुक्त किया है।

मौसम विभाग के मुताबिक, लक्षद्वीप क्षेत्र और उससे सटे दक्षिण-पूर्व और पूर्व-मध्य अरब सागर में अमिनी दिवि से लगभग 55 किमी उत्तर-उत्तर-पश्चिम में गहरा दबाव बन रहा, जो कि अगले 12 घंटों के दौरान एक चक्रवाती तूफान में बदल सकता है। उत्तर-उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ते हुए 18 मई की सुबह तक गुजरात तट के पास पहुँच जाएगा। मुंबई और ठाणे को भी हफ्ते के आखिर में तूफान का असर महसूस होने की उम्मीद है।

बता दें कि मौसम विभाग ने चक्रवर्ती तूफान Tauktae को देखते हुए केरल के तीन जिलों- तिरुवनंतपुरम, कोल्लम और पथनामथिट्टा के लिए रेड अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग ने केरल के कई जिलों में शुक्रवार को भी भारी बारिश का अलर्ट जारी किया था। तिरुवनंतपुरम, कोल्लम और पथनामथिट्टा जिलों में 20 सेमी तक की भारी वर्षा का रेड अलर्ट जारी किया था।

आईएमडी ने शनिवार के लिए केरल के 5 अन्य जिलों के लिए भी रेड अलर्ट जारी किया है, जिनमें मलप्पुरम, कोझिकोड, वायनाड, कन्नूर और कासरगोड, शामिल हैं। क्षेत्रीय मौसम विभाग अधिकारी ने कहा कि लक्षद्वीप के पास स्थित निम्न दबाव उत्तर-पश्चिम दिशा में आगे बढ़ेगा और रविवार तक पर्याप्त गति प्राप्त कर लेगा।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘खालिस्तान’ के नक़्शे में UP और राजस्थान भी, भारत से अलग देश बनाने का ‘खेल’ सोशल मीडिया पर… लोगों ने वहीं दिखाई औकात

'सिख्स फॉर जस्टिस' नाम की कट्टरवादी सिख संस्था ने तथाकथित खालिस्तान का नक्शा जारी किया है, जिसके बाद से लोग सोशल मीडिया पर उसकी आलोचना कर रहे हैं।

इंडोनेशिया के पहले राष्ट्रपति की बेटी सुकमावती इस्लाम छोड़ रहीं, अपनाएँगी हिंदू धर्म: सुधी वदानी रस्म की होगी प्रक्रिया

इंडोनेशिया के पहले राष्ट्रपति सुकर्णो की बेटी ने इस्लाम से वापस हिंदू धर्म अपनाने का फैसला किया है। सुधी वदानी नाम की रस्म होगी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
130,988FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe