Sunday, May 29, 2022
Homeरिपोर्टराष्ट्रीय सुरक्षामारा गया वह रईस अहमद जो आतंकी बनने से पहले न्यूज पोर्टल का था...

मारा गया वह रईस अहमद जो आतंकी बनने से पहले न्यूज पोर्टल का था ‘एडिटर इन चीफ’, बुर्का पहन CRPF बंकर पर फेंका पेट्रोल बम

मुठभेड़ में मारा गया दूसरा आतंकी हिलाल अह राह है। वह 'सी' कैटेगरी का आतंकी था और बिजबेहरा का रहने वाला था।

जम्मू-कश्मीर में बुधवार (30 मार्च 2022) तड़के सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ में दो आतंकियों को मार गिराया। श्रीनगर में हुए इस मुठभेड़ में मारे गए एक आतंकवादी की पहचान रईस अहमद भट के तौर पर हुई है। वह कभी पत्रकार हुआ करता था। ‘वैली न्यूज सर्विस’ नामक वेबसाइट का वह एडिटर इन चीफ रहा था। एक अन्य घटना में बारामुला जिले के सोपोर में सीआरपीएफ के बंकर पर बुर्का में आए व्यक्ति ने पेट्रोल बम फेंका। यह घटना मंगलवार शाम की है और इसका वीडियो वायरल है।

रिपोर्ट के मुताबिक, श्रीनगर के रैनावारी इलाके में मार गिराए गए आतंकियों के पास से हथियार भी मिले हैं। मुठभेड़ तब हुआ जब इलाके में पुलिस और सीआरपीएफ की टीम ज्वाइंट सर्च ऑपरेशन चला रही थी। जम्मू-कश्मीर पुलिस के आईजीपी विजय कुमार ने बताया, “लश्कर ए तैयबा और टीआरएफ के दो स्थानीय आतंकियों को श्रीनगर एनकाउंटर में मार गिराया गया है। दोनों आम लोगों की हत्याओं में शामिल रहे हैं।”

पुलिस अधिकारी ने कहा, “मारे गए आतंकियों में से एक रईस अहमद भट आतंकी बनने से पहले एक पत्रकार था और अनंतनाग जिले में ‘वैली न्यूज सर्विस’ नाम से एक ऑनलाइन पोर्टल चलाता था।” पुलिस ने उसका प्रेस पहचान पत्र भी जारी किया है। वहीं मुठभेड़ में मारा गया दूसरा आतंकी हिलाल अह राह है। वह ‘सी’ कैटेगरी का आतंकी था और बिजबेहरा का रहने वाला था।

सीआरपीएफ बंकर पर पेट्रोल बम से हमला

इससे पहले मंगलवार (29 मार्च 2022) को बारामुला जिले के सोपोर इलाके में शाम के वक्त एक मुख्य चौक पर बुर्का पहने एक संदिग्ध ने सीआरपीएफ बंकर पर पेट्रोल बम से हमला कर दिया। इसमें कोई हताहत नहीं हुआ।

ये घटना सीसीटीवी में भी कैद हो गई। जाँच एजेंसी इलाके का घेराव कर सर्च ऑपरेशन चला रही हैं। वैसे सीसीटीवी फुटेज से यह स्पष्ट नहीं हो रहा कि बुर्के में हमला करने वाला पुरुष था या महिला।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘शरिया लॉ में बदलाव कबूल नहीं’: UCC के विरोध में देवबंद के मौलवियों की बैठक, कहा – ‘सब सह कर हम 10 साल से...

देवबंद में आयोजित 'जमीयत उलेमा ए हिन्द' की बैठक में UCC का विरोध किया गया। मौलवियों ने सरकार पर डराने का आरोप लगाया। कहा - ये देश हमारा है।

‘कब्ज़ा कर के बनाई गई मस्जिद को गिरा दो’: मंदिरों को ध्वस्त कर बनाए गए मस्जिदों पर बोले थे गाँधी – मुस्लिम खुद सौंप...

गाँधी जी ने लिखा था, "अगर ‘अ’ (हिन्दू) का कब्जा अपनी जमीन पर है और कोई शख्स उसपर कोई इमारत बनाता है, चाहे वह मस्जिद ही हो, तो ‘अ’ को यह अख्तियार है कि वह उसे गिरा दे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
189,861FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe