Tuesday, April 16, 2024
Homeरिपोर्टराष्ट्रीय सुरक्षामोहाली ब्लास्ट के बाद SFJ की हिमाचल CM को धमकी - शिमला में भी...

मोहाली ब्लास्ट के बाद SFJ की हिमाचल CM को धमकी – शिमला में भी हो सकता है; ISI हैंडलर हरिंदर सिंह रिंदा का नाम आया सामने, TNT का इस्तेमाल

बताया जा रहा है कि पुलिस हमले में हरिंदर सिंह रिंदा के कनेक्शन की भी जाँच कर रही है। रिंदा पहले एक गैंगस्टर था, जो बाद में आतंकवादी बन गया।

पंजाब के मोहाली में इंटेलिजेंस हेडक्वार्टर पर सोमवार (9 मई 2022) को हुए हमले के बाद खालिस्तानी आतंकी संगठन ‘सिख फॉर जस्टिस’ (SFJ) की तरफ से अब हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को धमकी दी गई है। इसमें कहा गया है कि मोहाली में इंटेलिजेंस दफ्तर पर हुए हमले से सीखें, यह शिमला में भी हो सकता है। इसमें आगे कहा गया है कि धर्मशाला में सिख फॉर जस्टिस ने झंडे लगाए है, इस समुदाय को न भड़काए नहीं तो आपका इसका खामियाजा भुगतना पड़ेगा। 

बता दें कि हिमाचल प्रदेश के धर्मशाला में विधानसभा के गेट पर बीते दिनों खालिस्तानी झंडे लगे मिले थे और दीवार पर खालिस्तान समर्थक नारे लिखे हुए थे। खालिस्तान के झंडे लगाने के मामले में जयराम ठाकुर ने कहा था कि ऐसा करने वालों को उनकी सरकार नहीं बख्शेगी। पुलिस ने कठोर यूएपीए कानून के तहत इस मामले में केस भी दर्ज किया है। धमकी में यह भी कहा गया कि आपरेशन ब्‍लू स्टार के 38वें साल में पावंटा साहिब में जून के महीने में अलग खालिस्तान की माँग पर हिमाचल में वोटिंग होगी।

उल्लेखनीय है कि अगस्त 2021 में SFJ आतंकी गुरपतवंत सिंह पन्नू (Gurpatwant Singh Pannu) ने हिमाचल प्रदेश के सीएम जयराम ठाकुर को धमकी दी थी कि वह उन्हें 15 अगस्त को तिरंगा नहीं फहराने देगा। ऑडियो संदेश में ये भी कहा गया था कि पंजाब के बाद वे हिमाचल में भी कब्जा करेंगे, क्योंकि हिमाचल का कुछ क्षेत्र पहले पंजाब का हिस्सा था।

वहीं मोहाली स्थित पंजाब पुलिस की खुफिया विभाग की इमारत पर हुए RPG हमले की जाँच जारी है। पंजाब पुलिस आतंकवादी हमले की एंगल से भी जाँच कर रही है। इस बीच, बताया जा रहा है कि पुलिस हमले में हरिंदर सिंह रिंदा के कनेक्शन की भी जाँच कर रही है। रिंदा पहले एक गैंगस्टर था, जो बाद में आतंकवादी बन गया। पुलिस का कहना है कि पिछले दिनों करनाल में जो चार संदिग्ध आतंकवादी गिरफ्तार हुए उनमें से एक गुरप्रीत रिंदा के संपर्क में था। 

आईएसआई का हैंडलर है रिंदा

रिंदा को भारत में पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई का हैंडलर माना जाता है। वह पाकिस्तान से ही अपनी गतिविधियाँ चलाता है। यही नहीं, पिछले दिनों पंजाब पुलिस ने जो तरनतारन से आरडीएक्स बरामद किया उसका भी लिंक रिंदा से जुड़ा है। ऐसे में पुलिस को लगता है कि मोहाली हमले में भी रिंदा का हाथ हो सकता है। पूछताछ में गुरप्रीत ने बताया है कि उसने रिंदा के कहने पर अन्य जगहों पर विस्फोटक पहुँचाए। सूत्रों का कहना है कि मोहाली ब्लास्ट पर एनआईए की नजर है और वह घटनास्थल का दौरा करेगी। मोहाली हमला बड़ी साजिश का  हिस्सा हो सकता है।

पंजाब पुलिस के डीजीपी ने कहा कि रॉकेट लॉन्चर हमले मे TNT (ट्राइनाइट्रो टोलीन) पदार्थ का प्रयोग हुआ था। मोहाली में विभिन्न विंगों के अधिकारियों के साथ खुफिया दफ्तर के बाहर मीडिया से बातचीत करते हुए डीजीपी ने कहा कि इस हमले को वह चैलेंज के रूप में ले रहे हैं। पुलिस को हमले से जुड़ी कई लीड मिली हैं। जिन पर पुलिस की टीम काम कर रही हैं। उम्मीद है कि जल्दी ही यह केस हल कर लिया जाएगा।

वहीं हमले के मामले में मुख्यमंत्री बगवंत मान ने भी कुछ कदम उठाए। उन्होंने मंगलवार (10 मई 2022) को राज्य के डीजीपी समेत अन्य अफसरों के साथ अपने आवास पर अहम बैठक की। इस दौरान घटना के बारे में जानकारी ली और जाँच संबंधी निर्देश दिए। उन्होंने इस संबंध में मीडिया से बात करते हुए कहा, “जो लोग पंजाब का माहौल खराब करना चाहते हैं, उन्हें बख्शा नहीं जाएगा। मैंने डीजीपी और अन्य खुफिया अधिकारियों से मोहाली में कल रहात हुए विस्फोट पर रिपोर्ट तलब की है। गुनहगारों को सजा दी जाएगी। शाम तक स्थिति और स्पष्ट हो जाएगी। मामले में जाँच जारी है।”

बता दें कि यह धमाका सोमवार की शाम करीब 7.45 बजे मोहाली के सेक्टर 77 स्थित कार्यालय में हुआ। विस्फोट के कारण इमारत की एक मंजिल की खिड़की के शीशे टूट गए। मोहाली पुलिस ने एक बयान में कहा, ”शाम 7.45 बजे सेक्टर 77, एसएएस नगर में पंजाब पुलिस खुफिया मुख्यालय परिसर में एक मामूली विस्फोट की सूचना मिली। किसी नुकसान की सूचना नहीं है। वरिष्ठ अधिकारी घटनास्थल पर हैं और मामले की जाँच की जा रही है। फॉरेंसिक टीम को बुलाया गया है।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

स्कूल में नमाज बैन के खिलाफ हाई कोर्ट ने खारिज की मुस्लिम छात्रा की याचिका, स्कूल के नियम नहीं पसंद तो छोड़ दो जाना...

हाई कोर्ट ने छात्रा की अपील की खारिज कर दिया और साफ कहा कि अगर स्कूल में पढ़ना है तो स्कूल के नियमों के हिसाब से ही चलना होगा।

‘क्षत्रिय न दें BJP को वोट’ – जो घूम-घूम कर दिला रहा शपथ, उस पर दर्ज है हाजी अली के साथ मिल कर एक...

सतीश सिंह ने अपनी शिकायत में बताया था कि उन पर गोली चलाने वालों में पूरन सिंह का साथी और सहयोगी हाजी अफसर अली भी शामिल था। आज यही पूरन सिंह 'क्षत्रियों के BJP के खिलाफ होने' का बना रहा माहौल।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe