Sunday, July 21, 2024
Homeसोशल ट्रेंडFIFA World Cup: कतर में नोरा फतेही ने किया तिरंगे का अपमान, हरा ऊपर-भगवा...

FIFA World Cup: कतर में नोरा फतेही ने किया तिरंगे का अपमान, हरा ऊपर-भगवा नीचे करके लहराया, Video देख नेटीजन्स भड़के

राष्ट्रीय ध्वज को नोरा ऐसे लहरा रही थीं जैसे वह तिरंगा नहीं कोई दुपट्टा हो। नोरा ने तिरंगे को दुपट्टे की तरह खुद पर लपेटा। हद तो तब हुई जब नोरा ने तिरंगे को उल्टा लहरा दिया।

नोरा फतेही (Nora fatehi) अपने धमाकेदार डांस और ग्लैमर की वजह से इंटरनेट पर छाई रहती हैं। इसी शोहरत की वजह से नोरा को कतर में चल रहे फीफा वर्ल्ड कप 2022 (FIFA World Cup 2022) में परफॉर्म करने का मौका मिला। फीफा वर्ल्ड कप 2022 के फैन फेस्टिवल में नोरा ने अपनी जबरदस्त अदाओं से हर किसी का दिल जीत लिया। उनकी कई वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रही हैं। इन्हीं में से एक में वो स्टेज पर जय हिंद का नारा लगाते हुए भारतीय तिरंगा लहरा रही हैं। इसी वीडियो की वजह से नेटीजन्स ने नोरा की क्लास भी लगा दी है।

फीफा वर्ल्ड कप फैन फेस्टिवल के इस वीडियो को अर्शिन के मधु (Arshin k madhu) नाम के इंस्टा पेज पर अपलोड किया गया है। इस वीडियो में तिरंगे को लेकर नोरा फतेही पहले कई बार माइक पर जय हिंद के नारे लगाती हैं। उसके बाद नोरा कहती हैं, “इंडिया चाहे फीफा वर्ल्ड कप में नहीं है, लेकिन हम हमारे म्यूजिक और डांस से इस फेस्ट का हिस्सा हैं। नोरा की ये बातें सुनकर वहाँ मौजूद लोग हूटिंग करने लगते हैं। नोरा के साथ लोग जय हिंद के नारे लगाने लगते हैं। स्टेडियम में इंडिया, इंडिया का नारा गूँजने लगता है।

इसी बीच जोश-जोश में नोरा से कई गलतियाँ हुईं। नोरा पर तिरंगे को गलत तरीके से पकड़ने, लहराने और इसका अपमान करने का आरोप लग रहा है। सबसे पहले तो नोरा को स्टेज पर फेंककर तिरंगा दिया गया। जो लोगों को नागवार गुजर रहा है। स्टेज पर गिरे राष्ट्रीय ध्वज को नोरा ऐसे लहरा रही थीं जैसे वह तिरंगा नहीं कोई दुपट्टा हो। नोरा ने तिरंगे को दुपट्टे की तरह खुद पर लपेटा। हद तो तब हुई जब नोरा ने तिरंगे को उल्टा लहरा दिया। नोरा ने जिस तरह स्टेज से तिरंगे को नीचे खड़े शख्स को लौटाया, उसकी भी आलोचना हो रही है।

नोरा के वीडियो पर यूजर्स के कमेंट (साभार इंस्टाग्राम अर्शिन के मधु)

उसी वीडियो पर यूजर्स नोरा फतेही को तिरंगे के सम्मान का पाठ पढ़ा रहे हैं। एक यूजर ने कमेंट किया,”तिरंगे को गलत तरह से पकड़ा गया है। ग्रीन रंग ऊपर की तरफ नहीं होना चाहिए। यह ऑरेंज होता है।” दूसरे यूजर ने लिखा, “इंडियन फ्लैग जो देने का तरीका था वह बहुत ही खराब था, यह देश के झंडे के अपमान करने के जैसा था।” अन्य यूजर ने लिखा, “ओह माय गॉड अपने देश के तिरंगे के लिए कोई आदर ही नहीं है। एक्टिंग करना और परफॉर्म करना सब कुछ नहीं होता, जिस तरह से वह फ्लैग फेंक रहे हैं वह बहुत ही अनादर पूर्ण है।” एक दूसरे यूजर ने कमेंट में लिखा, “वह भारतीय ध्वज का सम्मान नहीं कर रही हैं, वह उसका अपमान कर रही हैं।”

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कमाल का है PM मोदी का एनर्जी लेवल, अनुच्छेद-270 हटाने के लिए चाहिए था दम’: बोले ‘दृष्टि’ वाले विकास दिव्यकीर्ति – आर्य समाज और...

विकास दिव्यकीर्ति ने बताया कि कॉलेज के दिनों में कई मुस्लिम दोस्त उनसे झगड़ा करते थे, क्योंकि उन्हें RSS के पक्ष से बहस करने वाला माना जाता था।

हर दिन 14 घंटे करो काम, कॉन्ग्रेस सरकार ला रही बिल: कर्नाटक में भड़का कर्मचारियों का संघ, पहले थोपा था 75% आरक्षण

आँकड़े कहते हैं कि पहले से ही 45% IT कर्मचारी मानसिक समस्याओं से जूझ रहे हैं, 55% शारीरिक रूप से दुष्प्रभाव का सामना कर रहे हैं। नए फैसले से मौत का ख़तरा बढ़ेगा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -