Tuesday, July 27, 2021
Homeसोशल ट्रेंडहाथरस कांड के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान ही आपस में भिड़ गए कॉन्ग्रेस कार्यकर्ता,...

हाथरस कांड के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान ही आपस में भिड़ गए कॉन्ग्रेस कार्यकर्ता, जमकर हुई जूतमपैजार: देखें VIDEO

मुंबई के वसई में उस समय बेहद ही अलग नजारा देखने को मिला, जब प्रदर्शन के दौरान कॉन्ग्रेस कार्यकर्ता आपस में ही भिड़ गए और जमकर जूतमपैजार हुए। इसका एक वीडियो वायरल हो रहा है। इसमें देखा जा सकता है कि कॉन्ग्रेस कार्यकर्ता कैसे आपस में ही लड़ रहे हैं।

हाथरस कांड पर पूरे देश में उबाल देखने को मिल रहा है। सभी विपक्षी पार्टियाँ इस मुद्दे पर अपनी राजनीति चमकाने की जुगत में लगे हैं। हर जगह विपक्षी पार्टियाँ इसी मुद्दे पर विरोध प्रदर्शन करती आ रही है। इसी क्रम में कई जगहों से हिंसा की खबरें भी सामने आ रही है। ताजा मामला मुंबई का है।

सोमवार (अक्टूबर 5, 2020) को मुंबई के वसई में उस समय बेहद ही अलग नजारा देखने को मिला, जब प्रदर्शन के दौरान कॉन्ग्रेस कार्यकर्ता आपस में ही भिड़ गए और जमकर जूतमपैजार हुए। इसका एक वीडियो वायरल हो रहा है। इसमें देखा जा सकता है कि कॉन्ग्रेस कार्यकर्ता कैसे आपस में ही लड़ रहे हैं।

कोई किसी का कॉलर पकड़ कर मार रहा है तो कोई घूँसा चला रहा है। वहीं कुछ लोग छुड़ाने का प्रयास कर रहे हैं। सोशल मीडिया पर दावा किया जा रहा है कि कॉन्ग्रेस कार्यकर्ताओं के बीच यह जूतमपैजार इस बात को लेकर हुई कि बैनर कौन पकड़ेगा।

इस वीडियो के सामने आने के बाद सोशल मीडिया यूजर्स इसके खूब मजे ले रहे हैं और इस पर अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं। ज्योति खाड़े नाम की एक सोशल मीडिया यूजर ने लिखा कि पप्पू के कार्यकर्ता पप्पू को कड़ी टक्कर दे रहे हैं।

वहीं एक यूजर ने लिखा, “प्रोटेस्ट में प्रोटेस्ट।”

एक अन्य सोशल मीडिया यूजर ने लिखा, “क्या बात है। शायद इसलिए कर रहे हैं कि आने वाले समय में उन्हें ये मौका दोबारा मिले या ना मिले।” इस पर प्रतिक्रिया देते हुए एक यूजर ने लिखा कि ऐसा ही कुछ लग रहा है।

गौरतलब है कि इससे पहले छत्तीसगढ़ के जांजगीर-चंपा जिले में भी ऐसा ही कुछ नजारा देखने को मिला था। यहाँ योगी सरकार का विरोध करते-करते कॉन्ग्रेस और भीम आर्मी वाले आपस में झगड़ पड़े। विरोध प्रदर्शन के दौरान दोनों दलों के बीच जमकर मारपीट शुरू हो गई।

जानकारी के मुताबिक भीम आर्मी ने विरोध प्रदर्शन के दौरान कॉन्ग्रेस पार्टी के ख़िलाफ नारेबाजी करनी शुरू कर दी थी, इसी के कारण दोनों दलों में झड़प हुई। प्रदर्शन के दौरान भीम आर्मी के सदस्यों ने छत्तीसगढ़ में कॉन्ग्रेस सरकार के खिलाफ दलित विरोधी होने का आरोप लगाते हुए नारेबाजी की, जिसके कारण कॉन्ग्रेस कार्यकर्ता भड़क गए। नतीजतन, दूसरी ओर से भी भीम आर्मी पर हमला बोल दिया गया।

पुलिस अधिकारी ने इस संबंध में कहा था, “कॉन्ग्रेस कार्यकर्ता हाथरस मामले में प्रदर्शन कर रहे थे। इस बीच भीम आर्मी वाले आ गए और उनके ख़िलाफ़ नारेबाजी करनी शुरू कर दी। इसके बाद ही हिंसा भड़की।”

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कारगिल कमेटी’ पर कॉन्ग्रेस की कुण्डली: लोकतंत्र की सुरक्षा के लिए राष्ट्रीय सुरक्षा राजनीतिक दृष्टिकोण का न हो मोहताज

हमें ध्यान में रखना होगा कि जिस लोकतंत्र पर हम गर्व करते हैं उसकी सुरक्षा तभी तक संभव है जबतक राष्ट्रीय सुरक्षा का विषय किसी राजनीतिक दृष्टिकोण का मोहताज नहीं है।

असम-मिजोरम बॉर्डर पर भड़की हिंसा, असम के 6 पुलिसकर्मियों की मौत: हस्तक्षेप के दोनों राज्‍यों के CM ने गृहमंत्री से लगाई गुहार

असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने ट्वीट कर बताया कि असम-मिज़ोरम सीमा पर तनाव में असम पुलिस के 6 जवानों की जान चली गई है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,363FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe