Wednesday, June 19, 2024
Homeसोशल ट्रेंडकुत्ते को परेशान कर रहा था, तभी गाय ने जमीन पर धड़ाम से पटका,...

कुत्ते को परेशान कर रहा था, तभी गाय ने जमीन पर धड़ाम से पटका, लोगों ने कहा- ‘जैसी करनी वैसी भरनी’: वीडियो वायरल

''लोग रिकॉर्डिंग में व्यस्त थे, लेकिन एक जानवर ने दूसरे जानवर की पीड़ा को समझा और उसकी मदद की।''

सोशल मीडिया पर एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। इसमें एक आदमी कुत्ते का कान पकड़कर उसे परेशान करता हुआ दिखाई दे रहा है, जिससे उसे काफी पीड़ा हो रही है, लेकिन तभी पीछे से एक गाय आती है और उस शख्स को जमीन पर पटक देती है। वायरल वीडियो को लेकर नेटिजन्स ने कहा, ”जैसी करनी वैसी भरनी।” भारतीय वन सेवा के अधिकारी सुशांत नंदा ने रविवार (31 अक्टूबर 2021) को ट्विटर पर ‘कर्मा’ कैप्शन के साथ यह वीडियो शेयर किया था। सोशल मीडिया पर कई यूजर्स ने वीडियो में दिख रहे शख्स पर अपना गुस्सा निकाला है। हालाँकि, वीडियो किस जगह का है, यह स्पष्ट नहीं हो पाया है।

शुभम चौधरी नाम के यूजर ने लिखा है, ”सर, लोग इतने क्रूर कैसे हो सकते हैं कि वो एक बेजुबान कुत्ते को मार कर जला दे रहे हैं वो भी केवल इसलिए की उनकी बकरी को दौड़ा लिया था। यह मेरे घर के बगल में कुछ स्पेशल लोगों द्वारा किया गया। क्या ऐसे बेजुबान जानवरों के लिए भी कोई कानून है?? कृपया जवाब दीजिएगा।”

वहीं, एक यूजर ने लिखा, ”लोग रिकॉर्डिंग में व्यस्त थे, लेकिन एक जानवर ने दूसरे जानवर की पीड़ा को समझा और उसकी मदद की।”

एक ने लिखा, ”कुत्ता अगर गलती से काट ले तो उसको जान से मार देते हैं, लेकिन लोग अगर कुत्ते को मारे तो उन पर कोई कार्रवाई नहीं। ये है कानून में प्रावधान।”

रामजीत पाल नाम के यूजर ने लिखा, ”बिल्कुल सर सही बात हर इंसान अपने कर्म का ही भागीदार होता है, जैसा कर्म वैसा ही फल मिलता है।”

गौरतलब है कि बिहार की राजधानी पटना में सितंबर 2021 को कुछ असामाजिक तत्वों ने मिलकर एक खटाल में आग लगा दी थी, जिससे तीन गर्भवती गायें जिंदा जल मर गई थीं। सोशल मीडिया पर गायों की तस्वीर भी सामने आई थी, जिसको लेकर लोगों में खासा रोष देखने को मिला था।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

ज्ञान से इतना खौफ खाता है इस्लाम कि 3 महीने तक जलती रही किताबें, नालंदा विश्वद्यिालय से बची थी बख्तियार खिलजी की जान फिर...

नालंदा विश्वविद्यालय को एहसान फरामोश बख्तिार खिलजी ने अपनी चिढ़ में इस तरह बर्बाद किया था कि कहा जाता है उसमें तीन महीने तक किताबें जलती रही थीं।

पेट्रोल-डीजल के बाद पानी-बस किराए की बारी, कर्नाटक में जनता पर बोझ खटाखट: कॉन्ग्रेस की ‘रेवड़ी’ से खजाना खाली, अब कमाई के लिए विदेशी...

कर्नाटक की कॉन्ग्रेस सरकार की रेवड़ी योजनाएँ राज्य को महँगी पड़ रही हैं। पेट्रोल-डीजल के बाद अब पानी के दाम और बसों के किराए बढ़ाने की योजना है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -