Wednesday, May 22, 2024
Homeसोशल ट्रेंडमौलाना से सुनिए मोतियों वाला बईदक के बारे में, जिसमें से निकलती है 130...

मौलाना से सुनिए मोतियों वाला बईदक के बारे में, जिसमें से निकलती है 130 फ़ीट की हूर, कहा- बाल हिलाने से जन्नत में जलते हैं सर्चलाइट

"जन्नत में एक नहर है जिसका नाम है बईदक, वह मोतियों से कवर है वह, उसके अंदर मुसकामबर जाफ़रान का हूर बहता है। जब अल्लाह किसी जन्नत की लड़की को बनाने का हुक्म फरमाता है तो...."

हाल ही में सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हुआ था जिसमें मुस्लिम औरतों को अपने शौहर के जिस्म की आग बुझाने की बात कही जा रही थी। वहीं अब एक और वीडियो सामने आया है जिसमें 130 फ़ीट के हूरों की बात कही जा रही है। वीडियो में एक बैनर भी दिख रहा है जिसपर मौलाना का नाम तारिक जमील लिखा हुआ है। हालाँकि, नाम सही है या नहीं इसका भी कोई दावा हम नहीं करते हैं।

इस वीडियो को नवीन त्रिपाठी ने शेयर करते हुए लिखा है, “वल्लाह… जन्नत की इन्हीं 130 फिट लम्बी 72 हूरों के चक्कर में तो बेचारे जगह-जगह फटते रहते हैं।”

वायरल वीडियो में मौलाना कहता सुनाई दे रहा, “जन्नत में एक नहर है जिसका नाम है बईदक, वह मोतियों से कवर है वह, उसके अंदर मुसकामबर जाफ़रान का हूर बहता है। जब अल्लाह किसी जन्नत की लड़की को बनाने का हुक्म फरमाता है तो अपने नूर की तजल्ली डालता है। पूरी 130 फीट की लड़की निकल कर बाहर आ जाती है। फुल ड्रेस्ड, जन्नत की हूर यह नहीं कि किसी माँ के पेट में अमल होता है। फिर वह नौ महीने के पैदा होती है, फिर वह फीडर लेती है। फिर वह लुढ़कती-ढुढ़कती बड़ी होती है। यह हमारे लिए है।”

वीडियो में आगे जन्नत के हूर क्र निर्माण की पूरी प्रक्रिया मौलाना ने तसल्ली से समझाई है। वह आगे कहता है, “जन्नत की लड़की सिर्फ सूरज को उंगली दिखा दे तो सूरज नजर नहीं आएगा। क्योंकि जन्नत की हूर का जो साइज है 130 फ़ीट है। सैयद जहिर को तो उठा कर जेब में ही डाल लेगी और यह कहेगा कि केम छो, केम छो… वह कहेगी मुझे तो गुजराती समझ ही नहीं आती अरबी बोलो।”

आगे कहता है, “अल्लाह ताला कहेगा कि चलो मेरे बन्दों को जन्नत का गीत सुनाओ और जन्नत में पहला गाना ही 70 साल का होगा, हूर का चेहरा और 70 बरस तक हिल नहीं सकेगा…. उसके इतने लम्बे बाल कि जब सर हिलाती है तो पूरे जन्नत में सर्च लाइट जल जाती है।”

हालाँकि, थोड़ी सी पड़ताल करने पर यह वीडियो पुराना नजर आ रहा है। यू ट्यूब पर कई जगह यह वीडियो 2020 में ही अपलोड हुआ नजर आ रहा है। जो इसके पहले भी कई बार वायरल हो चुका है। यू ट्यूब पर जो वीडियो है वह करीब तीन मिनट से ज़्यादा का है। जिसे आप नीचे देख सकते हैं।

बता दें कि कुछ दिन पहले भी एक और पुराना वीडियो वायरल हुआ था जिसमें वक्ता के रूप में मजलिस को सम्बोधित करने वाला कोई और नहीं बल्कि मौलाना जरजिस अंसारी है। जिसके इससे पहले भी कई विवादास्पद वीडियो वायरल हो चुके हैं।

इस वीडियो में मौलाना जरजिस को कहते सुना जा सकता है, “यदि बीवी को बच्चा हो रहा हो और ऊँटनी पर भी बैठी हो तो भी जचगी के वक्त, बच्चे की पैदाइश का वक्त करीब हो, तो भी अल्लाह के नबी ने फ़रमाया है कि उस वक़्त भी यदि तुम्हारा शौहर हमबिस्तरी को बुलाए, तुम्हारा फायदा उठाना चाहे तो उस वक़्त भी अपने शौहर के पास जाना पड़ेगा। इसलिए कि उसके दिल में लगी आग को तेरे अलावा कोई बुझा नहीं सकती।”

मौलाना ने इसी वायरल वीडियो में आगे कहा, “यदि उसके आग को तूने नहीं बुझाया तो तेरा शौहर गलत काम में पड़ सकता है। इधर-उधर जा सकता है, उसके चिलमन में आग लग सकती है। वो गलत राह पर जा सकता है। फ़रमाया कि औरत को इस हाल में भी अपने शौहर के पास आना होगा। और इस पोज़िशन में भी वह अपने शौहर को जिस्म का फायदा उठाने से नहीं रोक सकती। उसके अरमान को पूरा करोगी, उसके मकसद को पूरा करोगी इसमें ना-नू नहीं होना चाहिए।”

हालाँकि, यह वीडियो भी 2021 का बताया जा रहा है, क्योंकि फेसबुक के कई इस्लामिक पेजों पर इसे सितम्बर 2021 में अपलोड किया गया था। यहाँ वो पूरा वीडियो भी देख सकते हैं। जिसका एक हिस्सा एक बार फिर अब 2022 में ईद के मौके पर वायरल हो रहा है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘ध्वस्त कर दिया जाएगा आश्रम, सुरक्षा दीजिए’: ममता बनर्जी के बयान के बाद महंत ने हाईकोर्ट से लगाई गुहार, TMC के खिलाफ सड़क पर...

आचार्य प्रणवानंद महाराज द्वारा सन् 1917 में स्थापित BSS पिछले 107 वर्षों से जनसेवा में संलग्न है। वो बाबा गंभीरनाथ के शिष्य थे, स्वतंत्रता के आंदोलन में भी सक्रिय रहे।

‘ये दुर्घटना नहीं हत्या है’: अनीस और अश्विनी का शव घर पहुँचते ही मची चीख-पुकार, कोर्ट ने पब संचालकों को पुलिस कस्टडी में भेजा

3 लोगों को 24 मई तक के लिए हिरासत में भेज दिया गया है। इनमें Cosie रेस्टॉरेंट के मालिक प्रह्लाद भुतडा, मैनेजर सचिन काटकर और होटल Blak के मैनेजर संदीप सांगले शामिल।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -