Wednesday, November 30, 2022
Homeसोशल ट्रेंड'हर कोई डिम्पलधारी को गिरने से रोकता रहा, लेकिन बाबा ने डिसाइड कर लिया...

‘हर कोई डिम्पलधारी को गिरने से रोकता रहा, लेकिन बाबा ने डिसाइड कर लिया था कि घास में तैरना है तो कूद गया’

कुछ का कहना है कि राहुल गाँधी पुश और पुल के बीच फर्क करना भी नहीं जानते हैं, क्योंकि तस्वीर में साफ दिख रहा है पुलिस उन्हें खींच रही है और वह नीचे गिर रहे हैं।

उत्तर प्रदेश के हाथरस केस को लेकर कॉन्ग्रेस लगातार योगी सरकार को घेरने की कोशिश में लगी है। ऐसे में आज पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गाँधी की एक वी़डियो सोशल मीडिया पर आई। इस वीडियो के सामने आने के बाद ट्विटर पर ‘एक्ट लाइक पप्पू’ ट्रेंड करने लगा। इस ट्रेंड में लोग क्या पोस्ट कर रहे हैं और राहुल गाँधी की वीडियो में क्या है, आइए जानते हैं।

दरअसल, आज राहुल गाँधी अपने काफिले के साथ हाथरस में पीड़ित परिवार से मिलने जा रहे थे। तभी यूपी पुलिस ने उन्हें रोकने का प्रयास किया। इस दौरान पुलिस के साथ उनकी नोंकझोंक भी हुई। मगर वह आगे बढ़ते रहे और पुलिस उन्हें रोकने का प्रयास करती रही। इसी बीच वह थोड़ी दूर जाकर झाड़ियों में गिर गए और यह पूरी घटना वीडियो में कैद हो गई।

क्लोज इनफ!

इसके बाद राहुल ने बयान में कहा, “देखो, पुलिस ने कैसे मुझे धक्का दिया, मुझ पर लाठीचार्ज किया और जमीन पर गिरा दिया। मैं पूछना चाहता हूँ कि क्या इस देश में सिर्फ मोदी जी ही घूम सकते हैं? क्या आम आदमी कहीं आ-जा नहीं सकता?” उन्होंने आगे कहा, “हमारी गाड़ी रोक दी गई, इसलिए हम पैदल चलने लगे।”

अब एक ओर जहाँ इस घटना में राहुल गाँधी के चोटिल होने का दावा कॉन्ग्रेस की ओर से किया जा रहा है, वहीं राहुल गाँधी का यह वीडियो देखते वक्त यह प्रतीत हो रहा है कि वह सुरक्षित जगह देखने के बाद घास के ऊपर खुद ही गिर गए थे।

इसीलिए सोशल मीडिया पर इस घटना की वीडियो देखकर लोग राहुल गाँधी की चुटकी ले रहे हैं और तरह-तरह के मीम्स शेयर करके ये कहना चाह रहे हैं कि राहुल गाँधी को धक्का देकर नहीं गिराया गया। वह जमीन पर खुद गिर गए। अपनी इसी बात को सारे यूजर्स #ActLikePappu के अंतर्गत रख रहे हैं।

घटना की वीडियो शेयर करके लिखा जा रहा है,”यही राहुल गाँधी की प्रतिबद्धता है। हर कोई उन्हें गिरने से रोकता रहा। लेकिन बंदे ने डिसाइड कर लिया था कि गिरेगा तो गिरके ही माना।”

यूजर्स एक बच्चे की वीडियो पर राहुल का मीम बनाकर भी ट्विटर पर शेयर कर रहे हैं। इसमें देखा जा सकता है कि एक झूले पर जाकर हल्के से हाथ मारता है और जब झूला वापस उसके पेट से टच होचा है तो वह खुद ही जमीन पर गिरकर छटपटाने लगा है। लोगों का इस वीडियो पर कहना है कि आज राहुल गाँधी ने नोएडा एक्सप्रेस हाईवे पर यही मेलोड्रामा किया।

एक डेलीसोप की वीडियो भी आज की स्थिति के साथ जोड़ कर शेयर की जा रही है और पूछा जा रहा है ओवरएक्टिंग किसने अच्छी की। एक तरफ राहुल की वीडियोज हैं और दूसरी तरह डेली सोप का सीन, जिसमें धक्का मिलने पर लड़की पर्दा पकड़ती है और सीन ऐसे शूट होता है जैसे खुले पर्दे में उसका गला फँस गया।

बता दें, अधिकांश लोग जहाँ मीम्स को लेकर राहुल की चुटकी ले रहे हैं। वहीं कुछ लोग गंभीर रूप बाते भी कर रहे हैं। एक अकाउंट से लिखा गया है, “साफ़ दिख रहा है पुलिस वाला राहुल गाँधी को गिरने से बचाने की कोशिश कर रहा है, जब अचानक कोई गिरने लगता है तो बचाने वाला ये नहीं देखता की मैं क्या पकड़ रहा हूँ, लेकिन जिनकी मानसिकता ही घटिया हो उनकी सोच कोई बदल नहीं सकता।”

इस हैशटैग में राहुल गाँधी को लोग ड्रामेबाज और नेमार जूनियर से जोड़ कह रहे हैं। इसके अलावा उनके पुराने वीडियोज शेयर करके सवाल पूछ रहे हैं कि इलेक्शन में गिरने के बाद और कितना गिरोगे।

कुछ का कहना है कि राहुल गाँधी पुश और पुल के बीच फर्क करना भी नहीं जानते हैं, क्योंकि तस्वीर में साफ दिख रहा है पुलिस उन्हें खींच रही है और वह नीचे गिर रहे हैं।

राहुल गाँधी के गिरने की यह वीडियो इतनी वायरल हो रही है कि भाजपा नता गिरिराज सिंह भी बॉलीवुड का गाना शेयर करके कहते हैं, “अरे ये तो गिर पड़े।”

कुछ राहुल गाँधी के प्रशंसक भी हैं जो इस हैशटैग का इस्तेमाल करके उन्हें ‘पप्पू’ बोले जाने पर सवाल उठा रहे हैं। आकाश नाम का यूजर कहता है, “हम भले ही उन्हें उनके भाषणों के लिए पप्पू बोल लें। लेकिन सच है कि वही एक नेता है जिसने रेप पीड़िता के घरवालों का समर्थन किया।”

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

मॉर्निंग वॉक पर निकली मंदिर के हथिनी ‘लक्ष्मी’ की मौत, लोगों ने रोते हुए दी अंतिम विदाई: लोगों ने एक्टिविस्ट्स को बताया जिम्मेदार

हथिनी लक्ष्मी को इलाज के लिए पशु चिकित्सकों के पास ले जाया गया, लेकिन कार्डियक अरेस्ट के कारण उसने दम तोड़ दिया। मंदिर के सामने अंतिम दर्शन के लिए रखा गया शव।

‘प्रिंसिपल फ़िरोज़उद्दीन ने रेप का प्रयास किया, विरोध करने पर कर्मचारियों से पिटवाया’: सरकारी स्कूल में काम करती है हिन्दू विधवा, बताया जान का...

उत्तर प्रदेश के हमीरपुर में सरकारी स्कूल के प्रिंसिपल फ़िरोज़उद्दीन पर अधीनस्थ विधवा हिन्दू महिला कर्मचारी से रेप की कोशिश व पिटाई का आरोप।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
236,216FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe