Tuesday, October 19, 2021
Homeराजनीतिहाथरस पर पॉलिटिक्स करते भाई-बहन गिरफ्तार, पुलिस से धक्का-मुक्की के बाद झाड़ियों में गिरे...

हाथरस पर पॉलिटिक्स करते भाई-बहन गिरफ्तार, पुलिस से धक्का-मुक्की के बाद झाड़ियों में गिरे राहुल गाँधी

जब पुलिस ने राहुल गाँधी को रोकने का प्रयास किया तो राहुल गाँधी जमीन पर गिर गए। हालाँकि, राहुल गाँधी का यह वीडियो देखते वक्त यह प्रतीत हो रहा है किवह सुरक्षित जगह देखने के बाद घास के ऊपर खुद ही गिर गए थे। राहुल गाँधी ने कहा कि प्रशासन चाहे कितना भी रोके वो हाथरस जाकर रहेंगे।

कॉन्ग्रेस महासचिव प्रियंका गाँधी वाड्रा आज बृहस्पतिवार (अक्टूबर 01, 2020) को अपने भाई राहुल गाँधी के साथ हाथरस कांड की पीड़िता के परिवार से मुलाकात करने के लिए दिल्ली से रवाना हुए हैं। कॉन्ग्रेसी कार्यकर्ताओं की भीड़ को जब पुलिस द्वारा रोका गया तो दोनों भाई-बहन अपने कार्यकर्ताओं के साथ पैदल ही निकल पड़े। इस बीच खबर आ रही है कि राहुल गाँधी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

इस बीच राहुल गाँधी के काफिले को उत्तर प्रदेश पुलिस द्वारा बॉर्डर पर ही रोक दिया गया और उनके साथ धक्का-मुक्की की बातें भी सामने आ रही हैं। जब पुलिस ने राहुल गाँधी को रोकने का प्रयास किया तो राहुल गाँधी जमीन पर गिर गए। हालाँकि, राहुल गाँधी का यह वीडियो देखते वक्त यह प्रतीत हो रहा है कि वह सुरक्षित जगह देखने के बाद घास के ऊपर खुद ही गिर गए थे। राहुल गाँधी ने कहा कि प्रशासन चाहे कितना भी रोके वो हाथरस जाकर रहेंगे।

पुलिस ने राहुल गाँधी से कहा कि आपको आगे नहीं जाने देंगे, आपको अरेस्ट कर रहे हैं। राहुल गाँधी ने पुलिस से कहा कि मैं अकेले जाना चाह रहा हूँ। इस पर पुलिस ने कहा कि आप को धारा 188 के तहत अरेस्ट कर रहा हूँ। पुलिस ने कहा कि धारा 188 के तहत आप भीड़ के साथ नहीं जा सकते। 

प्रियंका गाँधी के भाई राहुल गाँधी ने कहा, ”अभी-अभी पुलिस ने मुझे धक्का दिया, मुझ पर लाठीचार्ज किया और मुझे जमीन पर फेंक दिया। मैं पूछना चाहता हूँ कि क्या केवल मोदी जी ही इस देश में चल सकते हैं? एक सामान्य व्यक्ति नहीं चल सकता है? हमारा वाहन रोक दिया गया, इसलिए हमने चलना शुरू किया।”

बहन प्रियंका भी लगा चुकी है झूठे आरोप

गौरतलब है कि पुलिस पर इस प्रकार का झूठा आरोप राहुल गाँधी की बहन प्रियंका गाँधी वाड्रा भी लगाती आई हैं। दिसम्बर 2019 में ही नागरिकता कानून को लेकर चल रही राजनीति के बीच प्रियंका गाँधी ने झूठा आरोप लगाते हुए कहा था कि एक महिला अधिकारी ने उनका गला दबाया और धक्का देकर गिरा दिया।

प्रियंका गॉंधी से कथित बदसलूकी को लेकर कॉन्ग्रेस ने एक वीडियो भी जारी किया था लेकिन दिलचस्प बात यह थी कि इस वीडियो में प्रियंका गॉंधी के साथ कोई जोर-जबर्दस्ती नहीं दिखाई पड़ी।

प्रियंका गाँधी और राहुल गाँधी एक बड़ा काफीला लेकर पीड़ित परिवार से मिलने निकले हैं जिस कारण हाइवे पर लंबा जाम लग गया है। कॉन्ग्रेस कार्यकर्ताओं की संख्या अधिक होने से यूपी पुलिस इस काफिले को दिल्ली वापस नहीं कर पाई। हाथरस के जिलाधिकारी का कहना है कि जिले की सीमाएँ सील हैं और धारा 144 लागू कर दी गई है।

कॉन्ग्रेस ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से ट्वीट कर लिखा कि सत्य और अहिंसा की लड़ाई में हर बार हिंसा बाधक बनी है, लेकिन हर बार सत्य ने अहिंसा के बल पर हिंसा को हराया है।

उल्लेखनीय है कि गत 14 सितंबर को उत्तर प्रदेश के हाथरस जिले के चंदपा थाना क्षेत्र स्थित एक गाँव में 19 साल की एक दलित लड़की के साथ कथित तौर पर सामूहिक दुष्कर्म किया गया था। घटना के बाद पुलिस ने इस मामले में 4 आरोपितों को गिरफ्तार किया है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बांग्लादेश का नया नाम जिहादिस्तान, हिन्दुओं के दो गाँव जल गए… बाँसुरी बजा रहीं शेख हसीना’: तस्लीमा नसरीन ने साधा निशाना

तस्लीमा नसरीन ने बांग्लादेश में हिंदुओं पर कट्टरपंथी इस्लामियों द्वारा किए जा रहे हमले पर प्रधानमंत्री शेख हसीना पर निशाना साधा है।

पीरगंज में 66 हिन्दुओं के घरों को क्षतिग्रस्त किया और 20 को आग के हवाले, खेत-खलिहान भी ख़ाक: बांग्लादेश के मंत्री ने झाड़ा पल्ला

एक फेसबुक पोस्ट के माध्यम से अफवाह फैल गई कि गाँव के एक युवा हिंदू व्यक्ति ने इस्लाम मजहब का अपमान किया है, जिसके बाद वहाँ एकतरफा दंगे शुरू हो गए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,824FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe