Friday, October 23, 2020
Home सोशल ट्रेंड लिबरलमैन: देखें लिबरलों-वामपंथियों के पाखंडों की पोल खोलती वायरल हो रही ये 5 वीडियो...

लिबरलमैन: देखें लिबरलों-वामपंथियों के पाखंडों की पोल खोलती वायरल हो रही ये 5 वीडियो क्लिप

एक अन्य वीडियो में 'लिबरल' शुरू में इस बात से सहमत था कि सोनू सूद ने प्रवासियों को उनके गृहनगर तक पहुँचाने की दिशा में काफी अच्छा काम किया। मगर जैसे ही एक वीडियो में सोनू सूद ने कहा कि वह पीएम मोदी के प्रशंसक हैं, तो लिबरल का कहना था कि सोनू सूद गैर-जिम्मेदार थे क्योंकि प्रवासियों को वापस भेजने से गाँवों में कोरोना फैल सकता है।

इन दिनों सोशल मीडिया पर लिबरलमैन नाम का एक कैरेक्टर काफी वायरल हो रहा है। हालाँकि यह कैरेक्टर काल्पनिक है, मगर इससे देश के उन लोगों के पाखंड को आइना दिखाने की जरूरत है, जो खुद को ‘उदारवादी’ कहते हैं, मगर वास्तव में उनका इससे कोई लेना देना नहीं होता है, वो इससे कोसों दूर होते हैं।

सोशल मीडिया पर The Daily Switch नाम के राजनीतिक, मीडिया और कल्चर वेबसाइट ने विश्व के नए सुपरहीरो ‘लिबरलमैन’ और ‘उदारवादियों’ की हरकतों को शेयर किया है।

वायरल वीडियो में से एक में एक बिल्डिंग जल रहा होता है, जिसमें एक 4 साल का बच्चा फँसा होता है। बिल्डिंग के बाहर दो एनिमेटेड कैरेक्टर बच्चे के पेरेंट्स के रूप में असहाय खड़े होते हैं। तभी उन्हें ऊपर से सुपरपावर के साथ ‘लिबरलमैन’ उड़ता हुआ दिखाई दिया। उनके अंदर उम्मीद जगी कि सुपरहीरो उनके बच्चे को बचा लेगा। हालाँकि लिबरलमैन ने ‘मदद’ के लिए कुछ नियम व शर्तें रखीं।

जब पेरेंट्स ने बताया कि उनकी चार साल की बच्ची बिल्डिंग के अंदर आग में फँसी है, तो लिबरलमैन उसकी सहायता के लिए ये कहते हुए सहमत हो जाता है वो जरूर सेक्सिज्म का शिकार हुई होगी। इसके बाद वो मदद के नाम पर कैंडललाइट मार्च, ‘dafli of doom‘ और कुदरती बिरयानी का विकल्प देता है। जाहिर है, लिबरलमैन की अपनी प्राथमिकताएँ हैं।

एक अन्य वीडियो में ‘लिबरलमैन’ शुरू में इस बात से सहमत था कि सोनू सूद ने प्रवासियों को उनके गृहनगर तक पहुँचाने की दिशा में काफी अच्छा काम किया। मगर जैसे ही एक वीडियो में सोनू सूद ने कहा कि वह पीएम मोदी के प्रशंसक हैं, तो लिबरल का कहना था कि सोनू सूद गैर-जिम्मेदार थे क्योंकि प्रवासियों को वापस भेजने से गाँवों में कोरोना वायरस फैल सकता है। साथ उसने सोनू सूद को ‘हत्यारा’ बताते हुए उनसे ‘अज़ादी’ की भी माँग की।

जिनकी कॉमेडी पर कोई नहीं हँसता या फिर जिन्हें फिल्मों में रोल मिलना बंद हो गया हो, भारत में ‘उदारवादियों’ के पास उनके करियर को फिर से शुरू करने का एक उपाय है। और वो है प्लेकार्ड और वोक मैसेज कॉम्बिनेशन। हो सकता है कि यह उन्हें कॉमेडियन व बना पाए, लेकिन कम से कम यह उन्हें फेमस तो बना ही देगा। इसमें ‘विक्टिम कार्ड’ स्वीकार्य होने की भी बात कही गई है।

एक अन्य वीडियो में दिखाया गया है कि जब तक आप लिबरलों से सहमत नहीं हैं, आप ‘आईटी सेल’ से हैं या फिर आरएसएस से। एक सच्चा उदारवादी कभी भी पीएम मोदी के नेतृत्व में भारत में किसी भी अधिकार से सहमत नहीं होगा।

इसी तरह एक वीडियो में दिखाया गया है कि देश जब कोरोना जैसी महामारी से जूझ रहा है, तो इस समय विभिन्न शिक्षण संस्थानों के छात्र किस तरह से काम कर रहे हैं। इसमें एम्स, आईआईटी, आईआईएम और जेएनयू के छात्र होते हैं। जहाँ एम्स, आईआईटी और आईआईएम के छात्र कोरोना को लेकर उनके द्वारा किए जा रहे शोध के बारे में बताते हैं, वहीं जेएनयू का छात्र कोरोना को फासिस्ट बताते हुए डफली बजाकर आजादी की माँग करता है।

इस तरह की और भी वीडियो देखने के लिए आप The Daily Switch को फॉलो कर सकते हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘विभाजन के बाद दिल्ली में हुए सबसे भयावह दंगे, राष्ट्र की अंतरात्मा पर घाव जैसा’ – दिल्ली दंगों पर कोर्ट ने कहा

“भारत प्रमुख वैश्विक शक्ति बनने की आकांक्षा रखता है। ऐसे राष्ट्र के लिए 2020 के दिल्ली दंगे राष्ट्र की अंतरात्मा पर घाव जैसे हैं और..."

दुर्गा पूजा पंडाल को काले कपड़ों से ढक दिया झारखंड सरकार ने, BJP नेता की शिकायत पर फिर से लौटी रौनक

राँची प्रशासन ने 22 अक्टूबर को पंडाल पहुँच कर पेंटिंग्स के कारण भीड़ बढ़ने की संभावना को देखते हुए इसे काले पर्दे से ढकने का निर्देश दिया।

‘दाढ़ी वाले सब-इंस्पेक्टर को जिस SP ने किया सस्पेंड, उसे निलंबित करो’ – UP और केंद्र सरकार से देवबंद की माँग

“हम उत्तर प्रदेश और केंद्र सरकार से इस बात की माँग करते हैं कि उस IPS अधिकारी को नौकरी में रहने का हक़ नहीं है।"

पूरे गाँव में अकेला वाल्मीकि परिवार, वसीम और शौकीन दे रहे हाथरस कांड दोहराने की धमकी: एक्शन में UP पुलिस

मेरठ में एक वाल्मीकि परिवार को धमकियाँ दी जा रही हैं कि हाथरस कांड जैसे हालात दोहराए जाएँगे। यूपी पुलिस ने कुल 3 लोगों को गिरफ्तार कर...

कौन से पंडित.. दरिंदे हैं साले: एजाज खान के ‘जहरीले’ Video पर लोगों ने की गिरफ्तारी की माँग

Video में एजाज खान पंडितों को गाली देता नजर आ रहा है। इस जहरीले Video के वायरल होने के बाद ट्विटर पर #अरेस्ट_मुल्ला_एजाज भी ट्रेंड हो रहा है।

UP: पुलिस ने 200 लोगों के बौद्ध बनने की खबर बताई फर्जी, सरकारी योजना के कागज को कहा धर्मांतरण का सर्टिफिकेट

पुलिस की जाँच में पता चला कि लोगों को सरकारी योजनाओं के बहाने कागज प्रस्तुत किए गए थे और बाद में उन्हें ही धर्मांतरण के कागज कह दिया गया।

प्रचलित ख़बरें

मजार के अंदर सेक्स रैकेट, नासिर उर्फ़ काले बाबा को लोगों ने रंगे-हाथ पकड़ा: वीडियो अंदर

नासिर उर्फ काले बाबा मजार में लंबे समय से देह व्यापार का धंधा चला रहा था। स्थानीय लोगों ने वहाँ देखा कि एक महिला और युवक आपत्तिजनक हालत में लिप्त थे।

पैगंबर मोहम्मद के ढेर सारे कार्टून… वो भी सरकारी बिल्डिंग पर: फ्रांस में टीचर के गला काटने के बाद फूटा लोगों का गुस्सा

गला काटे गए शिक्षक सैम्युएल पैटी को याद करते हुए और अभिव्यक्ति की आजादी का समर्थन करने के लिए पैगम्बर मोहम्मद के कार्टूनों का...

कपटी वामपंथियो, इस्लामी कट्टरपंथियो! हिन्दू त्योहार तुम्हारी कैम्पेनिंग का खलिहान नहीं है! बता रहे हैं, सुधर जाओ!

हिन्दुओ! अपनी सहिष्णुता को अपनी कमजोरी मत बनाओ। सहिष्णुता की सीमा होती है, पागल कुत्ते के साथ शयन नहीं किया जा सकता, भले ही तुम कितने ही बड़े पशुप्रेमी क्यों न हो।

मैथिली ठाकुर के गाने से समस्या तो होनी ही थी.. बिहार का नाम हो, ये हमसे कैसे बर्दाश्त होगा?

मैथिली ठाकुर के गाने पर विवाद तो होना ही था। लेकिन यही विवाद तब नहीं छिड़ा जब जनकवियों के लिखे गीतों को यूट्यूब पर रिलीज करने पर लोग उसके खिलाफ बोल पड़े थे।

नवरात्र के अपमान पर Eros Now के ख़िलाफ़ FIR दर्ज, क्षमा माँगने से भी लोगों का गुस्सा नहीं हुआ शांत

क्षमा पत्र जारी करने के बावजूद सोशल मीडिया पर कई ऐसी एफआईआर की कॉपी देखने को मिल रही हैं जिसमें Eros Now के ख़िलाफ़ शिकायत दर्ज हैं।

दाढ़ी नहीं कटाने पर यूपी पुलिस के SI इंतसार अली को किया गया सस्पेंड, 3 बार एसपी से मिल चुकी थी चेतावनी

"इंतसार अली बिना किसी भी तरह की आज्ञा लिए दाढ़ी रख रहे थे। कई बार शिकायत मिल चुकी थी। इस संबंध में उन्हें 3 बार चेतावनी दी गई और..."
- विज्ञापन -

‘विभाजन के बाद दिल्ली में हुए सबसे भयावह दंगे, राष्ट्र की अंतरात्मा पर घाव जैसा’ – दिल्ली दंगों पर कोर्ट ने कहा

“भारत प्रमुख वैश्विक शक्ति बनने की आकांक्षा रखता है। ऐसे राष्ट्र के लिए 2020 के दिल्ली दंगे राष्ट्र की अंतरात्मा पर घाव जैसे हैं और..."

दुर्गा पूजा पंडाल को काले कपड़ों से ढक दिया झारखंड सरकार ने, BJP नेता की शिकायत पर फिर से लौटी रौनक

राँची प्रशासन ने 22 अक्टूबर को पंडाल पहुँच कर पेंटिंग्स के कारण भीड़ बढ़ने की संभावना को देखते हुए इसे काले पर्दे से ढकने का निर्देश दिया।

‘ईद-ए-मिलाद नबी के जुलूस की इजाजत नहीं देना मुस्लिमों की अनदेखी’ – अमर जवान ज्योति में तोड़-फोड़ करने वाले दंगाइयों की धमकी

रज़ा एकेडमी ने बयान जारी करते हुए कहा कि ईद का जुलूस निकालने की इजाज़त नहीं देना मुस्लिम समुदाय के मज़हबी जज़्बातों की अनदेखी है।

‘दाढ़ी वाले सब-इंस्पेक्टर को जिस SP ने किया सस्पेंड, उसे निलंबित करो’ – UP और केंद्र सरकार से देवबंद की माँग

“हम उत्तर प्रदेश और केंद्र सरकार से इस बात की माँग करते हैं कि उस IPS अधिकारी को नौकरी में रहने का हक़ नहीं है।"

पूरे गाँव में अकेला वाल्मीकि परिवार, वसीम और शौकीन दे रहे हाथरस कांड दोहराने की धमकी: एक्शन में UP पुलिस

मेरठ में एक वाल्मीकि परिवार को धमकियाँ दी जा रही हैं कि हाथरस कांड जैसे हालात दोहराए जाएँगे। यूपी पुलिस ने कुल 3 लोगों को गिरफ्तार कर...

पटना: कॉन्ग्रेस मुख्यालय पर IT टीम का छापा, गाड़ी से बरामद हुए ₹8.5 लाख, प्रभारी ने कहा- हमें क्या लेना देना

IT विभाग की टीम ने छापेमारी में कार्यालय के परिसर से बाहर एक व्यक्ति को हिरासत में लिया। उसके पास से 8.5 लाख रुपए बरामद किए गए।

कौन से पंडित.. दरिंदे हैं साले: एजाज खान के ‘जहरीले’ Video पर लोगों ने की गिरफ्तारी की माँग

Video में एजाज खान पंडितों को गाली देता नजर आ रहा है। इस जहरीले Video के वायरल होने के बाद ट्विटर पर #अरेस्ट_मुल्ला_एजाज भी ट्रेंड हो रहा है।

राहुल गाँधी को लद्दाख आना चाहिए था, हम भी उनके चुटकुलों पर हँस लेते: BJP सांसद नामग्याल

"कॉन्ग्रेस को राहुल गाँधी को यहाँ प्रचार के लिए लाना चाहिए। लद्दाख के लोगों को भी हँसने का मौका मिलेगा। सोनिया गाँधी को भी यहाँ आना चाहिए।"

नवरात्र के अपमान पर Eros Now के ख़िलाफ़ FIR दर्ज, क्षमा माँगने से भी लोगों का गुस्सा नहीं हुआ शांत

क्षमा पत्र जारी करने के बावजूद सोशल मीडिया पर कई ऐसी एफआईआर की कॉपी देखने को मिल रही हैं जिसमें Eros Now के ख़िलाफ़ शिकायत दर्ज हैं।

UP: पुलिस ने 200 लोगों के बौद्ध बनने की खबर बताई फर्जी, सरकारी योजना के कागज को कहा धर्मांतरण का सर्टिफिकेट

पुलिस की जाँच में पता चला कि लोगों को सरकारी योजनाओं के बहाने कागज प्रस्तुत किए गए थे और बाद में उन्हें ही धर्मांतरण के कागज कह दिया गया।

हमसे जुड़ें

272,571FansLike
78,992FollowersFollow
336,000SubscribersSubscribe