Saturday, May 18, 2024
Homeसोशल ट्रेंडभारतीय सैनिकों ने दनादन बरसाई लाठियाँ, भागी दुश्मन फौज: तवांग का बताया जा रहा...

भारतीय सैनिकों ने दनादन बरसाई लाठियाँ, भागी दुश्मन फौज: तवांग का बताया जा रहा Video, क्या सच में 9 दिसंबर को ऐसे ही कूटे गए चीनी

इस वीडियो में भारतीय सैनिकों की दुश्मनों से झड़प दिख रही है। दुश्मन फौजी जैसे ही तारबंदी को तोड़ भारतीय सीमा में घुसने की कोशिश करते हैं भारतीय सैनिक उनके सामने दीवार बनकर खड़े हो जाते हैं। फिर दे दनादन इतनी लाठियाँ बरसाते हैं कि दुश्मन फौजी भाग खड़े होते हैं।

अरुणाचल प्रदेश के तवांग में 9 दिसंबर को भारतीय सैनिकों और चीनी फौज के बीच हिंसक झड़प हुई थी। तवांग सेक्टर के यांग्त्से क्षेत्र में एलएसी पार करने की कोशिश करने वाले चीनी फौजियों को भारतीय सैनिकों ने अपने पोस्ट्स पर लौटने को मजबूर कर दिया था। अब सोशल मीडिया में एक वीडियो वायरल है। 2 मिनट 20 सेकेंड के इस वीडियो को कुछ लोग तवांग सेक्टर की झड़प से जोड़कर शेयर कर रहे हैं।

इस वीडियो में भारतीय सैनिकों की दुश्मनों से झड़प दिख रही है। दुश्मन फौजी जैसे ही तारबंदी को तोड़ भारतीय सीमा में घुसने की कोशिश करते हैं भारतीय सैनिक उनके सामने दीवार बनकर खड़े हो जाते हैं। फिर दे दनादन इतनी लाठियाँ बरसाते हैं कि दुश्मन फौजी भाग खड़े होते हैं। पत्रकार रुबिका लियाकत ने इस वीडियो को शेयर करते हुए लिखा है, “ये भारतीय सैनिक हैं और जो पिट रहे हैं वो दुश्मन हैं।”

‘बाबा बनारसी’ नाम के यूजर ने इस वीडियो को शेयर करते हुए लिखा है, “300+ चीनी सैनिक बनाम लगभग 100 भारतीय सैनिक। तवांग भारतीय सेना के शौर्य का गवाह बना। शानदार है यह क्लिप।”

एक और यूजर ने वीडियो शेयर कर ट्वीट किया, “ये भारतीय सेना द्वारा जारी किया गया तवांग का ट्रेलर है। पूरी फिल्म जल्द ही अक्साई चीन से रिलीज होगी।”

वायरल वीडियो कब और कहाँ का है, यह साफ नहीं है। पत्रकार शिव अरूर ने कहा है कि यह वीडियो 9 दिसंबर का नहीं है।

भू-रणनीतिक विशेषज्ञ मेजर अमित बंसल (सेवानिवृत्त) ने भी इसे पुराना वीडियो बताया है। उन्होंने कहा है कि जिस यांग्त्से क्षेत्र में 9 दिसंबर को झड़प हुई है वह इलाका इस समय बर्फ से ढका रहता है।

पत्रकार आदित्य राज कौल ने भी इस वीडियो के पुराना होने की संभावना जताई है।

उल्लेखनीय है कि चीनी सैनिकों ने 9 दिसंबर 2022 को अरुणाचल प्रदेश के तवांग सेक्टर में एलएसी को पार करने की कोशिश की थी। लेकिन 17000 फीट की ऊँचाई पर भारतीय सैनिकों ने ही उन्हें आगे बढ़ने से रोक दिया। चीन की फौज को वापस होने के लिए मजबूर कर दिया था। इंडिया टुडे की रिपोर्ट के अनुसार चीन के 300 से अधिक फौजी इसमें शामिल थे। लेकिन भारत के 50 सैनिकों ने ही उनका रास्ता रोक दिया। करीब आधे घंटे के भीतर ही भारतीय सेना की बैकअप टीम भी मौके पर पहुँच गई। इसके बाद दोनों देशों के बीच झड़प हुई और चीनी फौजियों को लौटना पड़ा।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘AAP झूठ की बुनियाद पर बनी पार्टी, इसकी विश्वसनीयता शून्य नहीं, माइनस में’ – BJP के साथ स्वाति मालीवाल मुद्दे पर जेपी नड्डा का...

दिल्ली सरकार में मंत्री आतिशी ने कहा कि स्वाति मालीवाल लंबे समय से भाजपा नेताओं के संपर्क में हैं और उनके ही इशारे पर ये साजिश रची गई।

स्वाति मालीवाल बन गई INDI गठबंधन में गले की फाँस? राहुल गाँधी की रैली के लिए केजरीवाल को नहीं भेजा गया न्योता, प्रियंका कह...

दिल्ली में आयोजित होने वाली राहुल गाँधी की रैली में शामिल होने के लिए AAP प्रमुख अरविंद केजरीवाल को न्योता नहीं दिया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -