Saturday, September 18, 2021

विषय

Hathras Case

हाथरस केस में वायर का प्रोपेगेंडा, पीड़िता के बयान को डॉक्टर की रिपोर्ट बताकर पेश किया

द वायर ने मेडिकल रिपोर्ट के तथ्यों को गलत तरीके से पेश किया है। सेक्शन 16 के तहत दर्ज पीड़िता के बयान को डॉक्टर का वर्जन बताकर निष्कर्ष निकाला है कि बलात्कार हुआ था।

हाथरस केस: पीड़ित परिवार ने फिर बदला स्टैंड, अब सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में न्यायिक जाँच की डिमांड

हाथरस केस में मृतका के भाई ने पहले SIT जाँच पर असंतोष जताते हुए सीबीआई जाँच की माँग की थी। अब उसने न्यायिक जाँच की माँग की है।

डूब कर मर गया जयप्रकाश, जिंदा है सोनकलिया, दोनों को दादी ने छला; हाथरस में वही हाथ दिखा रहे पोता-पोती

वादा तो टूट जाता है... बाकी उनके किए वादे कितनी जल्दी टूटते हैं, ये तो बिहार चुनावों के बीतने तक दिख ही जाएगा!

₹100 करोड़ की फंडिंग, जातीय दंगों की साजिश: हाथरस के बहाने योगी सरकार को बदनाम करने की बड़ी साजिश का खुलासा

हाथरस मामले में खुफिया जाँच रिपोर्ट से कई चौंकाने वाले खुलासे सामने आए हैं। योगी सरकार के खिलाफ खतरनाक साजिश के सुराग मिले हैं।

हाथरस केस: सपा और RLD के कार्यकर्ताओं ने महिला पुलिसकर्मियों से बदसलूकी की, UP पुलिस ने खदेड़ा

हाथरस केस में राजनीतिक सरगर्मी बढ़ती जा रही है। रविवार को सपा और आएलडी कार्यकर्ताओं का पुलिस के साथ टकराव हो गया।

‘यही मौका है’: हाथरस पर पॉलिटिक्स को लेकर शशि थरूर बोले- क्या लोकतंत्र में राजनीति करना मना है

कॉन्ग्रेस पर हाथरस मामले पर राजनीति करने के आरोप लग रहे हैं। अब शशि थरूर के एक बयान ने इसकी पुष्टि भी कर दी है।

दोषियों को सजा देना प्रशासन की ज़िम्मेदारी: CM योगी ने कहा- लोगों को इंसाफ दिलाने के लिए किसी भी हद तक जा सकती है...

"दोषियों को सजा देना प्रशासन की ज़िम्मेदारी है। लोगों को इंसाफ दिलाने के लिए पुलिस बल किसी भी हद तक जा सकती है और सरकार सजा देने के कानूनी तरीकों में भी बदलाव कर सकती है।"

हाथरस मामले में सवर्ण समाज के दो दर्जन से अधिक गाँवों की पंचायत: नार्को टेस्ट कराने की माँग, आरोपितों के निर्दोष होने पर बरी...

वीडियो में उत्तर प्रदेश में ठाकुर समुदाय के सदस्यों को हाथरस मामले में आरोपितों की गिरफ्तारी पर पीड़ा व्यक्त करते हुए सुना जा सकता है। साथ ही वे यह दावा भी कर रहे है कि अभियुक्तों को झूठे मामले में झूठा फँसाया जा रहा है।

हाथरस टेप लीक मामले में सवाल पूछने पर इंडिया टुडे कर रहा यूजर्स को ब्लॉक: लोगों ने शेयर किए स्क्रीनशॉट

"एक सच्चे पत्रकार को कॉल टैपिंग से कभी डर नहीं लगना चाहिए। उन्होंने कहा कि अगर पत्रकार "लीक" से डरता है तो इसका मतलब है कि वह कुछ छिपा रहा है या नहीं चाहता कि सच्चाई सामने आए।"

ताज़ा ख़बरें

प्रचलित ख़बरें

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
122,947FollowersFollow
409,000SubscribersSubscribe