Tuesday, October 27, 2020
Home राजनीति डूब कर मर गया जयप्रकाश, जिंदा है सोनकलिया, दोनों को दादी ने छला; हाथरस...

डूब कर मर गया जयप्रकाश, जिंदा है सोनकलिया, दोनों को दादी ने छला; हाथरस में वही हाथ दिखा रहे पोता-पोती

इंदिरा गाँधी नारायणपुर पहुँची। ग्रामीणों को सांत्वना देते हुए वादा किया कि अनाथ हो चुके बच्चों को वो गोद लेंगी और उनकी शिक्षा इत्यादि का इंतजाम किया जाएगा। सरकार बनने के बाद कॉन्ग्रेसी सरकार बहादुर को वादे कहाँ याद रहते? इंदिरा गाँधी भी अपना वादा भूल गई।

वैसे तो अभी राजनीति की प्रयोगशाला कहलाने वाले बिहार में चुनाव हैं, लेकिन कॉन्ग्रेस के वादों की राजनीति फ़िलहाल उत्तर प्रदेश में चल रही है। ऐसा नहीं है कि राहुल-प्रियंका ने जो शुरू किया है, वो कोई पहली घटना है। ऐसी परंपरा कॉन्ग्रेसी परिवार में राहुल-प्रियंका की दादी के दौर से ही चलती आ रही है।

इसे याद करना हो तो इंदिरा गाँधी के दौर यानी 1980 के वक्त की यूपी की राजनीति को याद करना होगा। उस समय वहाँ जनता पार्टी की सरकार थी और मुख्यमंत्री बनारसी दास हुआ करते थे।

कुशीनगर जनपद, देवरिया जिले का हिस्सा था और यहीं नारायणपुर गाँव में बसकाली नाम की एक स्त्री अपने 8 साल के पोते जयप्रकाश और 6 साल की पोती सोनकलिया के साथ रहती थी। इन बच्चों के पिता की मृत्यु हो चुकी थी और इनकी माता बच्चों को दादी के पास छोड़कर जा चुकी थी।

जैसे-तैसे गरीबी में जीवनयापन करते इस परिवार का दुर्भाग्य ने अभी पीछा नहीं छोड़ा था। एक दिन बस से कुचले जाने से बसकाली की मौत हो गई और दोनों बच्चे अनाथ रह गए। ग्रामीणों ने जब परिवार की ऐसी दुर्दशा देखी तो कम से कम सरकार से कुछ मुआवजा ही मिल जाए, इस माँग के साथ हाटा-कप्तानपुर मार्ग को जाम करके बैठ गए। 

जाम हटवाने के लिए ग्रामीणों पर लाठी चार्ज हुआ और गाँव में पीएससी तैनात कर दी गई। कॉन्ग्रेस के लिए ये अच्छा अवसर था। ग्रामीणों पर हुई बर्बरता के लिए अख़बारों के पन्ने रंगे जाने लगे। नारायणपुर काण्ड के नाम से विख्यात हुई ये घटना चुनावी मुद्दा बन गई। इसके असर से बनारसी दास की सरकार 17 फ़रवरी 1980 को बर्खास्त कर दी गई। इसी हलचल के दौरान इंदिरा गाँधी नारायणपुर पहुँच गई। 

ग्रामीणों को सांत्वना देते हुए उन्होंने वादा किया कि अनाथ हो चुके बच्चों को वो गोद लेंगी और उनकी शिक्षा इत्यादि का इंतजाम किया जाएगा। खूब तालियाँ बजीं। कुल 113 दिनों के राष्ट्रपति शासन के बाद राज्य में कॉन्ग्रेस की सरकार बनी और राजा मांडा, यानी वीपी सिंह मुख्यमंत्री हुए। बोफोर्स घोटालों का आरोप राजीव गाँधी पर लगाने से पहले वो कॉन्ग्रेसी ही थे।

सरकार बनने के बाद कॉन्ग्रेसी सरकार बहादुर को वादे कहाँ याद रहते? इंदिरा गाँधी भी अपना वादा भूल गई। अनाथ बच्चे जैसे-तैसे पलते रहे। उनकी जमीनें लोगों ने हथिया ली। थोड़े साल बाद दोनों बच्चों में से एक जयप्रकाश की डूबने से मौत हो गई।

सोनकलिया अभी भी जीवित है। वो अपने परिवार के साथ एक झोपड़े में, गरीबी में ही जीवन बिताती है। इंदिरा गाँधी या उसके बाद के कॉन्ग्रेसी नेताओं में से किसी ने जीतने के बाद उसे मुआवजा दिलवाने या उसकी कोई मदद करना जरूरी नहीं समझा। गिद्धों के झुण्ड की तरह वो लाश नोंचने के बाद अगले शिकार की तलाश में उड़ चुके थे।

हाल का हाथरस कांड देखकर भी नेताओं के वादे और उनका टूटना याद आता है। जनभावनाओं को सुलगाने और दूसरी सभी ऐसी घटनाएँ (जिनमें से कुछ तो कॉन्ग्रेस शासित राज्यों में हुई हैं) उन्हें भुलाकर, किसी एक घटना को राष्ट्रीय स्तर की बहस और विपक्ष की सरकार द्वारा जनता का शोषण बताना कॉन्ग्रेस की पुरानी परंपरा रही है। बाकी उनके किए वादे कितनी जल्दी टूटते हैं, ये तो बिहार चुनावों के बीतने तक दिख ही जाएगा!

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

Anand Kumarhttp://www.baklol.co
Tread cautiously, here sentiments may get hurt!

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

एकतरफा प्यार में मेवात के तौफीक ने निकिता तोमर को गोलियों से भूना, लेफ्टिनेंट बन करना चाहती थी देश सेवा

तौफीक ने छात्रा पर कई बार दोस्ती के लिए दबाव भी बनाया था। दोस्ती से इनकार किए जाने के कारण उसने 2018 में एक बार निकिता का अपहरण भी कर लिया था।

दाढ़ी कटाना इस्लाम विरोधी.. नौकरी छोड़ देते, शरीयत में ये गुनाह है: SI इंतसार अली को देवबंदी उलेमा ने दिया ज्ञान

दारुल उलूम देवबंद के उलेमा का कहना है कि दरोगा को दाढ़ी नहीं कटवानी चाहिए थी चाहे तो वह नौकरी छोड़ देते। शरीयत के हिसाब से उन्होंने बहुत बड़ा जुर्म किया है।

मुस्लिमों को BJP का डर भी दिखाया, ‘जात’ देख कर आरोपित को भी बचाया: लालू यादव का MY समीकरण

उन्हें जम कर भाजपा का डर दिखाया। इससे वो मुस्लिमों के मसीहा भी बने रहे और यादवों का वोट भी उन्हें मिलता रहा। इस तरह उन्होंने MY समीकरण बना कर राज किया।

15000 स्क्वायर किलोमीटर जंगल भी बढ़े और आदिवासी तरक्की के रास्ते में विकास के पार्टनर भी: प्रकाश जावड़ेकर

"बदलाव हम हर साल एफलिएशन में करते हैं। वो 1100 शिक्षक के सुझाव पर आधारित हैं। वो इतने सार्थक हैं कि 900 पेज का बदलाव हुआ, लेकिन..."

‘बिहार में LJP वोटकटुआ का काम करेगी, इससे परिणाम पर कोई असर नहीं पड़ेगा’- प्रकाश जावड़ेकर

"बिहार में भाजपा समर्थक सवाल उठा रहे कि वहाँ पर भाजपा अकेले चुनाव क्यों नहीं लड़ती? क्या इस मुद्दे पर केंद्रीय नेतृत्व में बातचीत होती है?"

‘OTT प्लेटफॉर्म सेल्फ-रेग्युलेशन की अच्छी व्यवस्था करे, फेक न्यूज पर PIB अच्छा कर रही है’ – प्रकाश जावड़ेकर

“इसके अच्छे और बुरे दोनों तरह के नतीजे आ रहे हैं। इसलिए हमने OTT प्लेटफॉर्म को कहा है कि वो सेल्फ-रेग्युलेशन की अच्छी व्यवस्था करें।"

प्रचलित ख़बरें

IAS अधिकारी ने जबरन हवन करवाकर पंडितों को पढ़ाया ‘समानता का पाठ’, लोगों ने पूछा- मस्जिद में मौलवियों को भी ज्ञान देंगी?

क्या पंडितों को 'समानता का पाठ' पढ़ाने वाले IAS अधिकारी मौलवियों को ये पाठ पढ़ाएँगे? चर्चों में जाकर पादिरयों द्वारा यौन शोषण की आई कई खबरों का जिक्र करते हुए ज्ञान देंगे?

मदद की अपील अक्टूबर में, नाम लिख लिया था सितम्बर में: लोगों ने पूछा- सोनू सूद अंतर्यामी हैं क्या?

"मदद की गुहार लगाए जाने से 1 महीने पहले ही सोनू सूद ने मरीज के नाम की एक्सेल शीट तैयार कर ली थी, क्या वो अंतर्यामी हैं?" - जानिए क्या है माजरा।

जब रावण ने पत्थर पर लिटा कर अपनी बहू का ही बलात्कार किया… वो श्राप जो हमेशा उसके साथ रहा

जानिए वाल्मीकि रामायण की उस कहानी के बारे में, जो 'रावण ने सीता को छुआ तक नहीं' वाले नैरेटिव को ध्वस्त करती है। रावण विद्वान था, संगीत का ज्ञानी था और शिवभक्त था। लेकिन, उसने स्त्रियों को कभी सम्मान नहीं दिया और उन्हें उपभोग की वस्तु समझा।

नवरात्र में ‘हिंदू देवी’ की गोद में शराब और हाथ में गाँजा, फोटोग्राफर डिया जॉन ने कहा – ‘महिला आजादी दिखाना था मकसद’

“महिलाओं को देवी माना जाता है लेकिन उनके साथ किस तरह का व्यवहार किया जाता है? उनके व्यक्तित्व को निर्वस्त्र किया जाता है।"

एक ही रात में 3 अलग-अलग जगह लड़कियों के साथ छेड़छाड़ करने वाला लालू का 2 बेटा: अब मिलेगी बिहार की गद्दी?

आज से लगभग 13 साल पहले ऐसा समय भी आया था, जब राजद सुप्रीमो लालू यादव के दोनों बेटों तेज प्रताप और तेजस्वी यादव पर छेड़खानी के आरोप लगे थे।

हमसे सवाल करने वालों के मुँह गोमूत्र-गोबर से भरे हैं: हिन्दू घृणा से भरे तंज के सहारे उद्धव ठाकरे ने साधा भाजपा पर निशाना

"जो लोग हमारी सरकार पर सवाल उठाते हैं, उनके मुँह गोमूत्र-गोबर से भरे हुए हैं। ये वो लोग हैं जिनके खुद के कपड़े गोमूत्र व गोबर से लिपटे हैं।"
- विज्ञापन -

एकतरफा प्यार में मेवात के तौफीक ने निकिता तोमर को गोलियों से भूना, लेफ्टिनेंट बन करना चाहती थी देश सेवा

तौफीक ने छात्रा पर कई बार दोस्ती के लिए दबाव भी बनाया था। दोस्ती से इनकार किए जाने के कारण उसने 2018 में एक बार निकिता का अपहरण भी कर लिया था।

दाढ़ी कटाना इस्लाम विरोधी.. नौकरी छोड़ देते, शरीयत में ये गुनाह है: SI इंतसार अली को देवबंदी उलेमा ने दिया ज्ञान

दारुल उलूम देवबंद के उलेमा का कहना है कि दरोगा को दाढ़ी नहीं कटवानी चाहिए थी चाहे तो वह नौकरी छोड़ देते। शरीयत के हिसाब से उन्होंने बहुत बड़ा जुर्म किया है।

मुस्लिमों को BJP का डर भी दिखाया, ‘जात’ देख कर आरोपित को भी बचाया: लालू यादव का MY समीकरण

उन्हें जम कर भाजपा का डर दिखाया। इससे वो मुस्लिमों के मसीहा भी बने रहे और यादवों का वोट भी उन्हें मिलता रहा। इस तरह उन्होंने MY समीकरण बना कर राज किया।

15000 स्क्वायर किलोमीटर जंगल भी बढ़े और आदिवासी तरक्की के रास्ते में विकास के पार्टनर भी: प्रकाश जावड़ेकर

"बदलाव हम हर साल एफलिएशन में करते हैं। वो 1100 शिक्षक के सुझाव पर आधारित हैं। वो इतने सार्थक हैं कि 900 पेज का बदलाव हुआ, लेकिन..."

पैगंबर मुहम्मद के कार्टूनों का सार्वजानिक प्रदर्शन, फ्रांस के एम्बेसेडर को पाकिस्तान ने भेजा समन

पाकिस्तानी विदेश मंत्री ने इस मुद्दे पर कहा कि फ्रांस के राष्ट्रपति का बयान बेहद गैर ज़िम्मेदाराना था और ऐसे बयान से सिर्फ आग को हवा मिलेगी।

राहुल बन नाबालिग लड़की से की दोस्ती, रेप के बाद बताया – ‘मैं साजिद हूँ, शादी करनी है तो धर्म बदलो’

आरोपित ने खुद ही पीड़िता को बताया कि उसका नाम राहुल नहीं बल्कि साजिद है। साजिद ने पीड़िता से यह भी कहा कि अगर शादी करनी है तो...

‘बिहार में LJP वोटकटुआ का काम करेगी, इससे परिणाम पर कोई असर नहीं पड़ेगा’- प्रकाश जावड़ेकर

"बिहार में भाजपा समर्थक सवाल उठा रहे कि वहाँ पर भाजपा अकेले चुनाव क्यों नहीं लड़ती? क्या इस मुद्दे पर केंद्रीय नेतृत्व में बातचीत होती है?"

ताजमहल में फहराया भगवा झंडा, गंगा जल छिड़क कर किया शिव चालीसा का पाठ

ताजमहल परिसर में दाखिल होते ही उन्होंने वहाँ पर गंगा जल का छिड़काव किया और भगवा झंडा फहराया। शिव चालीसा का पाठ भी किया गया।

24 घंटे में रिपब्लिक TV के दिल्ली-नोएडा के पत्रकारों को मुंबई के पुलिस थाने में हाजिर होने का आदेश

अर्नब गोस्वामी ने मुंबई पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह और महाराष्ट्र की उद्धव सरकार की आलोचना करते हुए कहा कि नाइंसाफी की इस लड़ाई में...

‘OTT प्लेटफॉर्म सेल्फ-रेग्युलेशन की अच्छी व्यवस्था करे, फेक न्यूज पर PIB अच्छा कर रही है’ – प्रकाश जावड़ेकर

“इसके अच्छे और बुरे दोनों तरह के नतीजे आ रहे हैं। इसलिए हमने OTT प्लेटफॉर्म को कहा है कि वो सेल्फ-रेग्युलेशन की अच्छी व्यवस्था करें।"

हमसे जुड़ें

272,571FansLike
79,308FollowersFollow
338,000SubscribersSubscribe