Wednesday, September 29, 2021

विषय

Secularism

अजीत भारती का वामपंथन रोस्ट | Ajeet Bharti roasts pro-Tanishq leftists

लंबे समय से यह नौटंकी चलती रही कि एक खास मजहब अपनी उन्माद का उन्मुक्त प्रदर्शन करता रहे और अगर हमने कुछ बोल दिया तो हम सांप्रदायिक हो जाते थे।

विरोध के बाद तनिष्क ने हटाया मुस्लिम परिवार में गर्भवती हिन्दू बहू की गोदभराई वाला ‘सेक्यूलर वीडियो’

विरोध के बाद यह विवादित विज्ञापन (वीडियो) तनिष्क के आधिकारिक यूट्यूब चैनल पर साझा किया गया था जिसे फ़िलहाल प्राइवेट कर दिया गया है।

मुस्लिम परिवार की गर्भवती हिन्दू बहू और गोदभराई: Tanishq का नया ‘सेक्युलर’ वीडियो

'तनिष्क ज्वेलरी' की इस वीडियो में जिस जोड़े को दिखाया गया है, वो इंटरफेथ कपल होता है, अर्थात हिन्दू महिला की मुस्लिम परिवार में शादी।

पालघर, राजस्थान, या दिल्ली.. हिन्दुओं की हत्या पर खबरों से ‘हिन्दू’ क्यों गायब कर देता है पत्रकारिता का समुदाय विशेष

मीडिया को भीड़ का धर्म नज़र आता है लेकिन भीड़ का मज़हब नज़र नहीं आता है। धर्म निरपेक्षता की कीमत कितनी महँगी होती है।

सदियों से ईद की मुबारकबाद लेने वाले क्या श्रीराम मंदिर के जश्न में आपके साथ हैं?

आज खुद को श्रीराम से अलग बताने का समय नहीं। आत्मविश्लेषण करते हुए पूछने का समय है कि आज आपकी ख़ुशी में आपके कितने मुस्लिम और सेक्युलर मित्र आपके साथ खुश हैं?

ऑरिजनल संविधान के पेज पर भगवान राम-सीता का चित्र: केन्द्रीय कानून मंत्री के ट्वीट पर ‘सेक्युलर’ लोगों में दहशत

राम मंदिर भूमिपूजन के अवसर पर केन्द्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने भगवान श्रीराम, सीता और लक्ष्मण की तस्वीरों वाले संविधान के मूल पन्नों सहित...

‘बाबरी मस्जिद थी और हमेशा रहेगी… परिस्थति हमेशा ऐसी नहीं होगी’ – भूमिपूजन से ठीक पहले मुस्लिम लॉ बोर्ड की धमकी

ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने एक ट्वीट में लिखा है कि दुखी होने की कोई जरूरत नहीं है क्योंकि कोई भी परिस्थिति हमेशा नहीं रहती।

‘₹डी की बेटी को घर से उठा लेंगे’, ‘कभी हमारा ले लो’: तनवीर हुसैन, अरशद खान

माँ-बहन की गाली से लेकर वेश्या, सेक्स में भी हिंदू-मुस्लिम के एंगल को घुसेड़ कर फेसबुक पर एक महिला को तंग किया जाता है। जिसने ऐसा किया है, उनके नाम हैं - तनवीर और अरशद। ये दोनों इतने 'डरे हुए' हैं कि गालियों की बौछार के बाद किडनैप कर रेप की भी धमकी देते हैं।

Thappad से सीख: हर बार थप्पड़ हिन्दुओं के ही गाल पर क्यों? सेक्युलरिज़्म सिर्फ हिंदुओं की जिम्मेदारी नहीं

यह संभव नहीं है कि एक समुदाय विशेष हिन्दुओं के घरों को जलाने के लिए उन्हें चिन्हित करे, जलाए और बदले में हिन्दू जाकर उसे गले लगा आए। यह दंगा-साहित्य कुछ पुरस्कार जीतने के लिए लिखी गई किताबों तक सीमित रहे, मानवता के लिए उनका योगदान उतना ही काफी माना जाएगा।

…वो मॉल जहाँ हर दिन बजती है अजान, आपत्ति जताने पर कहा – ‘दिवाली भी तो मनाते हैं’

"हम साफ करना चाहते हैं कि जो वीडियो में सुनाई दे रहा है, वो प्रार्थना के लिए दिया गया संकेत है। हम इसे बजाते हैं, जैसे हम क्रिसमस , दिवाली पोंगल मनाते हैं। हम धर्मनिरपेक्षता का सम्मान करते हैं और निवेदन करते हैं कि आप भी इसके प्रति सचेत रहें। जय हिंद!"

ताज़ा ख़बरें

प्रचलित ख़बरें

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
125,044FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe