Saturday, May 25, 2024
Homeवीडियोहिंदूफोबिया से सनी खबरें'जैसा बोया, वैसा काटा': Scroll की वामपंथी लेखिका जेनेसिया अल्वेस ने बांग्लादेश में हिंदुओं...

‘जैसा बोया, वैसा काटा’: Scroll की वामपंथी लेखिका जेनेसिया अल्वेस ने बांग्लादेश में हिंदुओं पर हमले को ठहराया सही

अल्वेस के ट्वीट के बाद सोशल मीडिया पर यूजर्स भड़क गए। यूजर्स ने 'द स्क्रॉल' की स्तंभकार से सवाल-जवाब शुरू कर दिया। कई लोगों का प्रश्न था कि इस्कॉन मंदिर और हमले के शिकार हिंदू भक्तों ने ऐसा क्या बोया था, जो उनके साथ क्रूरता की गई?

वामपंथी पोर्टल स्क्रॉल की लेखिका और स्तंभकार जेनेसिया अल्वेस ने शनिवार (16 अक्टूबर 2021) को बंगलादेश में इस्कॉन मंदिर और हिंदुओं पर हुए हमलों को सही ठहराया है। स्तम्भकार जेनेसिया अल्वेस ने ट्वीट कर के लिखा – ‘जैसा तुमने बोया’।

जेनेसिया अल्वेस का ट्वीट

अल्वेस ने यह ट्वीट इस्कॉन के उस ट्वीट को quote करते हुए लिखा है, जिसमें बांग्लादेश के नोआखली में मंदिर और भक्तों पर निर्दयता से हुए हमले की जानकारी दी गई थी। दरअसल, बांग्लादेश के धार्मिक संगठनों ने मुस्लिम बहुल बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना से हिंदुओं की सुरक्षा की माँग की थी।

हालाँकि अल्वेस ने पूरे वाक्य ‘जैसा बोओगे, वैसा ही काटोगे’ के एक हिस्से ‘जैसा बोया” को लिखकर हिन्दुओं पर हुए इस क्रूर हमले को सही ठहराया है और इससे ये संकेत मिलता है कि बांग्लादेश में हिंदुओं को इसलिए मारा जा रहा है, क्योंकि ‘उन्होंने ऐसे ही बोया था’। यह पूरा वाक्य ‘जैसा तुम बोओगे, वैसा ही काटोगे’ मूल रूप से बाइबिल में है। इस में प्रतिशोध और परिणाम भोगने को लेकर कहा गया है।

अल्वेस के ट्वीट के बाद सोशल मीडिया पर यूजर्स भड़क गए। यूजर्स ने ‘द स्क्रॉल’ की स्तंभकार से सवाल-जवाब शुरू कर दिया। कई लोगों का प्रश्न था कि इस्कॉन मंदिर और हमले के शिकार हिंदू भक्तों ने ऐसा क्या बोया था, जो उनके साथ क्रूरता की गई?

विवाद बढ़ने के घंटों बाद अल्वेस ने इस पर सफाई दी। अपने ‘स्पष्टीकरण’ वाले ट्वीट में उन्होंने कहा कि बांग्लादेश में हिंदुओं के खिलाफ हिंसा को लेकर किए गए ट्वीट के कारण उन्हें ‘नफरत’ का सामना करना पड़ रहा है।

अपनी सफाई में उन्होंने भारत में अल्पसंख्यकों के खिलाफ नफरत का दावा किया। उन्होंने बताया कि बंगलादेश में हो रही हिंसा उसी का परिणाम है। अल्वेस के अनुसार, बंगलादेश में हिंदुओं के विरुद्ध हो रही हिंसा भारत में अल्पसंख्यकों के विरुद्ध हो रही हिंसा का ‘आँख के बदले आँख’ जैसा है।

इस प्रकार स्क्रॉल और द स्वैडल की स्तंभकार ने बंगलादेश में विजयदशमी मनाते हिन्दुओं पर इस्लामी भीड़ के हमले को उचित ठहराया। इसके लिए उन्होंने अपना संदर्भ भी दिया। कुछ समय बाद अल्वेस ने विवादित ट्वीट को डिलीट कर दिया। हालाँकि, अल्वेस के पॉडकास्ट अकाउंट ने अपना समर्थन दिया और ‘अंधभक्तों’ के चेहरे उजागर करने की बात कही।

Thursday Bitches द्वारा ये ट्वीट अब डिलीट कर लिया गया है

बंगलादेश में इस्कॉन पर हमला

15 अक्टूबर 2021 दिन शुक्रवार को विजयादशमी के दिन बांग्लादेश के चटगांव डिवीजन के नोआखली जिले में लगभग 400-500 इस्लामी चरमपंथियों की उन्मादी और हिंसक भीड़ ने इंटरनेशनल सोसाइटी फॉर कृष्णा कॉन्शियसनेस (इस्कॉन) के मंदिर पर हमला किया। इस हमले में दो लोगों की मौत हो गई थी। यह हमला फेसबुक से फैलाई गई एक अफवाह के बाद शुरू हुआ।

इस अफवाह में दुर्गा पूजा पंडाल में ‘कुरान का अपमान’ करने की बात फैलाई गई थी। इसके बाद हिन्दुओं और उनके पूजा स्थलों पर हमले के कई वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुए। बंगलादेश के चाँदपुर इलाके में पथराव किया गया और दुर्गा पूजा पंडाल में घुसकर मूर्तियों को तोड़ा गया। हिन्दुओं के परिवारों को भी कई जगहों पर निशाना बनाया गया।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘मुजरा करने दो विपक्ष को… मैं खड़ा हूँ एसी-एसटी और ओबीसी के आरक्षण के साथ’ : PM मोदी की बिहार-यूपी में हुंकार, बोले- नहीं...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि वो एससी/एसटी ओबीसी के आरक्षण के साथ हर हाल में खड़े हैं। वो वंचितों का अधिकार नहीं छिनने देंगे।

ईवीएम पर नहीं लगा था BJP का टैग, तृणमूल कॉन्ग्रेस ने झूठ फैलाया: चुनाव आयोग ने खोली पोल, बताया- क्यों लिए जाते हैं मशीन...

भारतीय निर्वाचन आयोग ने टीएमसी के आरोपों का जवाब देते हुए झूठे दावे की पोल खोली और बताया कि ईवीएम पर कोई भाजपा का टैग नहीं हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -