Tuesday, April 23, 2024
Homeव्हाट दी फ*1 Bitcoin की कीमत ₹44 लाख के पार, साल भर में 15 गुना से...

1 Bitcoin की कीमत ₹44 लाख के पार, साल भर में 15 गुना से भी अधिक का रिटर्न: भारतीय ऐसे कर सकते हैं निवेश

अगर आप क्रिप्टो ट्रेडिंग करना चाहते हैं कि क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज पर जा कर KYC करा सकते हैं। वहाँ अपने बैंक खातों के डिटेल्स जोड़ने के बाद Bitcoin सहित सैकड़ों क्रिप्टो कॉइन्स ख़रीदे-बेचे जा सकते हैं।

मार्केट कैप के मामले में दुनिया की सबसे बड़ी क्रिप्टोकरेंसी बिटकॉइन (Bitcoin) ने पहली बार $61,000 (44.34 लाख रुपए) का आँकड़ा पार कर लिया है। यानी, अब एक Bitcoin का मूल्य 44.34 लाख रुपए है।

खबर लिखे जाने तक दुनिया के सबसे बड़े क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज ‘Binance’ पर इसका मूल्य $61,084 चल रहा है। इसका कुल मार्किट कैप $1.14 लाख करोड़ (83 लाख करोड़ रुपए) हो गया है।

वहीं Bitcoin के दाम इतने ज्यादा बढ़ने के कारण लोग मार्च 2020 का वो समय भी याद कर रहे हैं, जब इसका मूल्य $4000 से भी नीचे चला गया था। इस तरह से मात्र 1 वर्ष में Bitcoin ने निवेशकों को 15 गुना से भी अधिक का रिटर्न दिया है। इसके दाम बढ़ने के कारण बाकि क्रिप्टोकरेंसी के भाव गिरने लगे। लेकिन, माना जा रहा है कि जैसे ही Bitcoin की वैल्यू स्टेबल होगी, ये सभी आगे बढ़ने लगेंगे।

जहाँ तक भारत की बात है, यहाँ भी क्रिप्टो में ट्रेड करने वाले लोगों की संख्या लाखों में है। भारत में WazirX, Coincdx और Zebpay जैसे कई ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म हैं, जो आपको Bitcoin सहित अन्य क्रिप्टोकरेंसी खरीदने की सुविधा देते हैं।

भारत में इसे लेकर कानून स्पष्ट नहीं है, लेकिन अभी ये यहाँ अवैध भी नहीं हैं। ये बैंकों पर निर्भर करता है कि वो क्रिप्टो ट्रेंडिंग में अकाउंट का इस्तेमाल होने देते हैं या नहीं। खास बात ये है कि Bitcoin को किसने बनाया, इसके बारे में किसी को पता नहीं। न ही इसकी कोई कंपनी है और ना ही कोई संस्था, जो इसका प्रबंधन करती हो।

केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री अनुराग ठाकुर ने कुछ दिनों पहले ही कहा था कि तकनीक और इनोवेशन का मोदी सरकार हमेशा स्वागत करती है और नए विचारों का विश्लेषण होना चाहिए। उन्होंने कहा था कि पूरी समीक्षा और अध्ययन के बाद इस पर बिल आएगा।

लेकिन, RBI गवर्नर शंक्तिकांता दास इस मामले में अलग विचार रखते हैं। उनका कहना है कि सरकार इसे एसेट मान कर रखने की अनुमति दे सकती है, लेकिन इसका ट्रेडिंग नहीं होना चाहिए। उनका कहना है कि जिस ब्लॉकचेन तकनीक पर ये आधारित है, वो ज़रूर भविष्य में काम आने वाला है। 2018 में केंद्रीय बैंकों ने क्रिप्टो ट्रेडिंग पर रोक लगा दी थी लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने ट्रेडर्स के पक्ष में फैसला सुनाते हुए इसे रद्द कर दिया था।

अगर आप क्रिप्टो ट्रेडिंग करना चाहते हैं कि ऊपर बताए गए किसी भी क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज पर जा कर KYC करा सकते हैं। वहाँ अपने बैंक खातों के डिटेल्स जोड़ने के बाद Bitcoin सहित सैकड़ों क्रिप्टो कॉइन्स ख़रीदे-बेचे जा सकते हैं। इन क्रिप्टो एक्सचेंजेज ने हाल ही में बड़ी फंडिंग उठाई है और उनका कहना है कि वो बैंकों, सरकार और स्टार्टअप के नियमों के तहत कार्य कर रहे हैं। रोज उनसे करोड़ों का लेनदेन होता है।

हाल ही में दुनिया के सबसे अमीर कारोबारी एलन मस्क ने भी Bitcoin खरीदी। उन्होंने $1.5 बिलियन (10,903 करोड़ रुपए) के Bitcoins ख़रीदे। साथ ही माइकल सेलर की कंपनी ‘माइक्रोस्ट्रेटेजी’ ने भी 90,859 Bitcoins ख़रीदे, जिसके बाद कई बड़ी हस्तियाँ इस तरफ आकर्षित हुईं।

इनके उलट भारतीय शेयर बाजार के निवेशक राकेश झुनझुनवाला ने दावा किया है कि वो Bitcoin को $5 में भी नहीं खरीदेंगे। बता दें कि क्रिप्टो की दुनिया में गोते लगाने वाले निवेशक अब ऑनलाइन एसेट्स के लिए करोड़ों खर्च कर रहे हैं।

कुछ ही दिनों पहले 10 सेकेंड्स का वीडियो क्लिप 6.6 मिलियन डॉलर (48.43 करोड़ रुपए) में बिका। ये ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी का कमाल है। 50 करोड़ रुपए वाले वीडियो में उल्टा लेटे हुए डोनाल्ड ट्रम्प के पास एक पेड़ है और सड़क पर कुछ लोग पैदल चहलकदमी कर रहे हैं। इस पर इसके क्रिएटर का डिजिटल सिग्नेचर भी है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘राहुल गाँधी की DNA की जाँच हो, नाम के साथ नहीं लगाना चाहिए गाँधी’: लेफ्ट के MLA अनवर की माँग, केरल CM विजयन ने...

MLA पीवी अनवर ने कहा है राहुल गाँधी का DNA चेक करवाया जाना चाहिए कि वह नेहरू परिवार के ही सदस्य हैं। CM विजयन ने इस बयान का बचाव किया है।

‘PM मोदी CCTV से 24 घंटे देखते रहते हैं अरविंद केजरीवाल को’: संजय सिंह का आरोप – यातना-गृह बन गया है तिहाड़ जेल

"ये देखना चाहते हैं कि अरविंद केजरीवाल को दवा, खाना मिला या नहीं? वो कितना पढ़-लिख रहे हैं? वो कितना सो और जग रहे हैं? प्रधानमंत्री जी, आपको क्या देखना है?"

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe