Monday, July 15, 2024
Homeफ़ैक्ट चेकसोशल मीडिया फ़ैक्ट चेक'भाई संजय राउत जेल आ रहे हो तो मेरे लिए 4 कच्छे लेते आना':...

‘भाई संजय राउत जेल आ रहे हो तो मेरे लिए 4 कच्छे लेते आना’: शिवसेना MP की गिरफ्तारी पर नवाब मलिक का ट्वीट, जानिए सच

मलिक कुछ समय से जेल में हैं। इस दौरान शायद उन्हें अपना फोन इस्तेमाल करने की भी इजाजत नहीं होगी। ऐसे में मलिक इस तरह का अनुरोध संजय राउत से करें, यह संभव नहीं दिखता।

शिवसेना प्रवक्ता और सांसद संजय राउत को प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने रविवार (31 जुलाई 2022) को पात्रा चॉल घोटाले में गिरफ्तार किया। उनकी गिरफ्तारी के कुछ घंटों बाद नवाब मलिक के नाम से एक ट्वीट वायरल होने लगा। इसमें एनसीपी नेता ने कथित तौर पर संजय राउत से अपने लिए अंडरवियर लेकर जेल आने की गुहार लगाई हैं।

एनसीपी नेता मलिक के नाम से वायरल ट्वीट के स्क्रीनशॉट में लिखा है, “भाई संजय राउत अगर आर्थर रोड जेल आ रहे हो तो, मेरे लिए जॉकी के XXL साइज के चार कच्छे ले आना।” स्क्रीनशॉट में ट्वीट की तारीख 31 जुलाई 2022 और समय शाम के सात बजकर 50 मिनट बताई गई है।

वायरल हो रहे ट्वीट का स्क्रीनशॉट

सच्चाई का पता लगाने के लिए हमने नवाब मलिक के ट्विटर आईडी के यूजरनेम का इस्तेमाल कर माइक्रो-ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म पर कीवर्ड और ट्विटर हैंडल के यूजरनेम (<कीवर्ड> (From: <ट्विटर हैंडल का यूजरनेम>) से सर्च किया। हालाँकि हमें इस सर्च से कोई रिजल्ट नहीं मिला। 

सर्च करने पर हमें यह रिजल्ट मिला

नवाब मलिक के कथित ट्वीट को राष्ट्रवादी कॉन्ग्रेस पार्टी (NCP) के किसी अन्य राजनेता ने भी शेयर नहीं किया। यहाँ यह भी उल्लेखनीय है कि मलिक कुछ समय से जेल में हैं। इस दौरान शायद उन्हें अपना फोन इस्तेमाल करने की भी इजाजत नहीं होगी। ऐसे में मलिक इस तरह का अनुरोध संजय राउत से करें, यह संभव नहीं दिखता। इसकी भी संभावना नहीं है कि जेल अधिकारी कैदियों को अंडरवियर शेयर करने की अनुमति दें।

नवाब मलिक के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से आखिरी ट्वीट 23 फरवरी 2022 को किया गया था। इसी दिन एनसीपी नेता को प्रवर्तन निदेशालय ने गिरफ्तार किया था। फिलहाल वह आर्थर रोड जेल में बंद हैं। उन पर दाऊद इब्राहिम के करीबी से संपत्ति खरीदने का आरोप हैं। इसके अलावा मनी लॉन्ड्रिंग से जुड़े मामले की भी ईडी जाँच कर रही है। ईडी की टीम ने 23 फरवरी की सुबह उनके घर पर छापेमारी की थी और फिर उन्हें अपने साथ ले आई थी। यहाँ पूछताछ के बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया था। ये गिरफ्तारी ‘मनी लॉन्ड्रिंग मामले में और दाऊद से कनेक्शन’ पर चली 8 घंटे की पूछताछ के बाद हुई थी। दूसरी तरफ शिवसेना नेता संजय राउत को पात्रा चाल घोटाला मामले में उनकी कथित संलिप्तता के आरोप में 31 जुलाई को गिरफ्तार किया गया था।

निष्कर्ष: स्क्रीनशॉट फर्जी है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

IAS बेटी ऑडी पर बत्ती लगाकर बनाती थी भौकाल, माँ-बाप FIR के बाद फरार: पूजा खेडकर को जाँच के बाद डॉक्टरों ने नहीं माना...

पूजा खेडकर का मामला मीडिया में उठने के बाद उनके माता-पिता से जुड़ी कई वीडियो सामने आई है। ऐसे में पुलिस ने उनकी माँ के खिलाफ एफआईआर की है।

शूटिंग क्लब का सदस्य था डोनाल्ड ट्रम्प पर गोली चलाने वाला, शिकारी वाली वेशभूषा थी पसंद: रिपब्लिकन पार्टी ने बुलाया राष्ट्रीय सम्मेलन, पूर्व राष्ट्रपति...

वो लगभग 1 साल से पास में ही स्थित 'क्लेयरटन स्पोर्ट्समेन क्लब' का सदस्य भी था। इसमें कई शूटिंग रेंज हैं। पहले से कोई भी आपराधिक या ट्रैफिक चालान का मामला दर्ज नहीं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -