Saturday, July 20, 2024
Homeफ़ैक्ट चेकसोशल मीडिया फ़ैक्ट चेकIND Vs AUS के वनडे मैच में काले रंग पर प्रतिबन्ध? The Hindu के...

IND Vs AUS के वनडे मैच में काले रंग पर प्रतिबन्ध? The Hindu के पत्रकार के झूठ का Fact Check

बीसीसीआई की वेबसाइट पर उपलब्ध नंबर पर फोन करने पर सिक्योरिटी अधिकारी स्वप्निल ने इस ख़बर को नकार दिया। उन्होंने कहा कि स्टेडियम में काला रंग का कपड़ा पहन कर आने वाले लोगों के लिए कोई मनाही नहीं है।

मीडिया का एक वर्ग लगातार अफवाह फैलाने के काम में लगा हुआ है। चाहे नागरिकता संशोधन क़ानून को लेकर चल रहा विरोध प्रदर्शन हो या फिर सरकार के ख़िलाफ़ कोई ख़बर, उसे लेकर अफवाहें फैलाई जा रही हैं। इसी क्रम में ‘द हिन्दू’ जैसे बड़े मीडिया संस्थान के पत्रकार राहुल देसाई ने अफवाह फैलाने का काम किया। देसाई ने दावा किया कि वानखेड़े स्टेडियम में भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच हो रहे मैच में दर्शकों को काले कपड़े पहन कर नहीं जाने दिया जा रहा है।

देसाई ने दावा किया कि पूरे स्टेडियम में काला रंग को ही प्रतिबंधित कर दिया गया है। यहाँ तक कि काले रंग की टीशर्ट या टोपी पहने लोगों को भी अंदर घुसने नहीं दिया जा रहा है। उन्होंने दावा किया कि काला रंग ‘विरोध का प्रतीक’ है, इसीलिए ऐसा किया जा रहा है। साथ ही उन्होंने ‘फक यू मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन, फक यू वैरी मच’ लिखा। बता दें कि आजकल सरकार के विरोध में लिखने वाले अनुराग कश्यप जैसे लोग इसी तरह की आपत्तिजनक भाषा में सोशल मीडिया में गंदगी फैला रहे हैं।

देसाई ने एक फ़र्ज़ी ख़बर के आधार पर अफवाह फैलाई और बड़े-बड़े दावे कर दिए। उन्होंने कहा कि उनके एक दोस्त ने काले रंग की टीशर्ट पहन रखी थी लेकिन उसे अंदर जाने दिया गया क्योंकि उसने काले टीशर्ट के ऊपर तिरंगा लपेट रखा था। देसाई ने इसी बहाने भारत के बड़े क्रिकेटरों को भी निशाने पर लिया और पूछा कि वो चुप क्यों हैं? दरअसल, वामपंथियों को सीएए के विरोध के मुद्दे पर बेरोजगार बॉलीवुड सेलेब्स के अलावा और किसी का साथ नहीं मिल रहा है, इसीलिए वो बौखलाए हुए हैं।

ऑपइंडिया ने जब बीसीसीआई से बात की तो पता चला कि ‘द हिन्दू’ के पत्रकार राहुल देसाई की एक-एक बात झूठी है और वानखेड़े स्टेडियम में ब्लैक कलर पर किसी भी प्रकार का बैन नहीं लगाया गया है। बीसीसीआई की वेबसाइट पर उपलब्ध नंबर पर फोन करने पर सिक्योरिटी अधिकारी स्वप्निल ने इस ख़बर को नकार दिया। उन्होंने कहा कि स्टेडियम में काला रंग का कपड़ा पहन कर आने वाले लोगों के लिए कोई मनाही नहीं है। यानी, राहुल ने झूठ बोला और सोशल मीडिया पर अफवाह फैलाई।

बुधवार (जनवरी 14, 2020) को भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच पहले वनडे मैच खेला जा रहा है। जहाँ भारतीय टीम विराट कोहली की कप्तानी में मैदान में उत्तरी, वहीं ऑस्ट्रेलिया एरोन फिंच की कप्तानी में खेल रही है। इस सीरीज में कुल तीन वनडे मैच होने हैं। अगले मैच 17 जनवरी को और अंतिम मैच 19 जनवरी को खेला जाएगा।

FACT CHECK: क्या CAA के ख़िलाफ़ प्रदर्शन कर रही है पुलिस? जानें इन तस्वीरों का सच

JNU में हमला कर रही नकाबपोश गुंडी ABVP कार्यकर्ता नहीं है, फैलाया जा रहा झूठ: Fact Check

अनुराग कश्यप ने फिर फैलाया झूठ: नरेंद्र मोदी के शब्दों को बताया हिटलर की पंक्ति, पर्दाफाश

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

बांग्लादेशी महिला के 5 छोटे बच्चे, 3 लड़कियाँ… इसलिए इलाहाबाद हाई कोर्ट ने दे दी जमानत: सपा विधायक की मदद से भारत में रहने...

इलाहाबाद हाई कोर्ट ने जेल में बंद एक बांग्लादेशी महिला हिना रिजवान को जमानत दे दी। महिला अपने बच्चों के साथ अवैध रूप से भारत में रही थी।

घुमंतू (खानाबदोश) पूजा खेडकर: जिसका बाप IAS, वो गुलगुलिया की तरह जगह-जगह भटक बिताई जिंदगी… इसी आधार पर बन गई MBBS डॉक्टर

पूजा खेडकर ने MBBS में नाम लिखवाने से लेकर IAS की नौकरी पास करने तक में नाम, उम्र, दिव्यांगता, अटेंप्ट और आय प्रमाण पत्र में फर्जीवाड़ा किया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -