Monday, July 22, 2024
Homeविविध विषयमनोरंजनपहले बेंगलुरु में शो रद्द करने की माँग, अब मुंबई पुलिस ने दर्ज की...

पहले बेंगलुरु में शो रद्द करने की माँग, अब मुंबई पुलिस ने दर्ज की FIR: वीर दास पर कंटेंट कॉपी करने के आरोप, देश विरोधी प्रोपेगंडा से करते हैं कमाई

जनवरी 2020 में जब गिडवानी ने नेटफ्लिक्स पर दास के एक नए शो का टीजर देखा, तो मेकर्स ने पाया कि कुछ कॉन्टेंट को (2010 के) पिछले शो से जस का तस कॉपी कर लिया गया है।

कॉमेडी के नाम पर देश विरोधी प्रोपेगेंडा को हवा देने वाले विवादित कॉमेडिन वीर दास (Vir Das) की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं। एक निर्माता की शिकायत के बाद मुंबई पुलिस ने वीर दास के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है। उन पर कॉपीराइट उल्लंघन का आरोप लगाया गया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, विवादित कॉमेडियन के अलावा दो अन्य व्यक्तियों और ओटीटी प्लेटफार्म नेटफ्लिक्स के खिलाफ भी प्राथमिकी दर्ज की गई है। एक अधिकारी ने मंगलवार (8 नवंबर, 2022) को यह जानकारी दी। प्रोड्यूसर अश्विन गिडवानी ने अपनी शिकायत में कहा है कि अक्टूबर 2010 में उनकी कंपनी ने कथित स्टैंड-अप कॉमेडियन के साथ एक शो के लिए कॉन्ट्रैक्ट साइन किया था।

कफ परेड थाने के एक अधिकारी ने बताया कि शिकायत के अनुसार, जनवरी 2020 में जब गिडवानी ने नेटफ्लिक्स पर दास के एक नए शो का टीजर देखा, तो मेकर्स ने पाया कि कुछ कॉन्टेंट को (2010 के) पिछले शो से जस का तस कॉपी कर लिया गया है। अधिकारी ने कहा, “गिडवानी की शिकायत के आधार पर चार नवंबर को दास, दो अन्य व्यक्तियों और नेटफ्लिक्स के खिलाफ कॉपीराइट अधिनियम की संबन्धित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है।” उन्होंने यह भी कहा कि अभी तक कोई कड़ी कार्रवाई नहीं की गई है, क्योंकि मामले की जाँच जारी है।

बता दें कि ‘हिंदू जनजागृति समिति’ ने सोमवार (7 नवंबर, 2022) को बेंगलुरु में दास के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी। समिति ने 10 नवंबर को बेंगलुरु में होने वाले उनके शो को रद्द करने की माँग की थी। उन्होंने आरोप लगाया था कि वीर के शो से हिंदुओं की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुँचेगी और दुनिया में भारत का नाम बदनाम होगा। समिति ने साथ ही यह भी कहा, “यह पता चला है कि विवादित कॉमेडियन वीर दास बेंगलुरु के मल्लेश्वरम में चौडिया मेमोरियल हॉल में 10 नवंबर को कॉमेडी शो कर रहे हैं।

इससे पहले उन्होंने वॉशिंगटन के जॉन एफ कैनेडी सेंटर में महिलाओं, हमारे प्रधानमंत्री और भारत के खिलाफ आपत्तिजनक बयान दिया था। उस कार्यक्रम में उन्होंने भारत की महिलाओं के बारे में भी अभद्र टिप्पणी की थी और देश में पूजने की परंपरा को रेप से जोड़ा था।” दरअसल, वीर दास ने नवंबर 2021 में कहा था, “भारत में हम दिन में महिलाओं की पूजा करते हैं और रात में गैंगरेप करते हैं।”

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कोई भी कार्रवाई हो तो हमारे पास आइए’: हाईकोर्ट ने 6 संपत्तियों को लेकर वक्फ बोर्ड को दी राहत, सेन्ट्रल विस्टा के तहत इन्हें...

दिसंबर 2021 में सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने हाईकोर्ट को आश्वासन दिया था कि वक्फ बोर्ड की संपत्तियों को कोई नुकसान नहीं पहुँचाया जाएगा।

‘कागज़ पर नहीं, UCC को जमीन पर उतारिए’: हाईकोर्ट ने ‘तीन तलाक’ को बताया अंधविश्वास, कहा – ऐसी रूढ़िवादी प्रथाओं पर लगे लगाम

मध्य प्रदेश हाई कोर्ट ने कहा है कि समान नागरिक संहिता (UCC) को कागजों की जगह अब जमीन पर उतारने की जरूरत है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -