Saturday, July 20, 2024
Homeविविध विषयमनोरंजन150 फ़िल्में, 40 वर्ष का करियर... साल 2022 के 'फिल्म पर्सनालिटी ऑफ द ईयर'...

150 फ़िल्में, 40 वर्ष का करियर… साल 2022 के ‘फिल्म पर्सनालिटी ऑफ द ईयर’ बने मेगास्टार चिरंजीवी, केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने दिया अवॉर्ड

गौरतलब है, साल 1978 में आई फिल्म पुनाधिरल्लू से अपना करियर शुरू करने वाले चिरंजीवी ने चार दशकों से अधिक के अपने सफर में 150 से अधिक फीचर फिल्मों के माध्यम से सिने प्रेमियों के दिल में अपनी जगह बनाई है।

गोवा में चल रहे 53वें भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फिल्म फेस्टिवल (IFFI) में मेगा स्टार चिरंजीवी को साल 2022 के लिए भारतीय फिल्म का ‘पर्सनालिटी ऑफ दी ईयर’ अवॉर्ड से सम्मानित किया गया। चिरंजीवी अपने फिल्म करियर में 150 से अधिक फिल्मों में काम कर चुके हैं। चिरंजीवी को यह अवार्ड मिलने पर केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने उन्हें बधाई दी है।

गोवा की राजधानी पणजी में रविवार (20 नवंबर, 2022) से शुरू हुए 53वें भारतीय अंतरराष्ट्रीय फिल्म फेस्टिवल में सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर ने चिरंजीवी को भारतीय मनोरंजन इंडस्ट्री में ‘फिल्म पर्सनालिटी ऑफ द ईयर अवॉर्ड’ से सम्मानित किया।

चिरंजीवी को यह अवॉर्ड मिलने के बाद केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने ट्वीट कर उन्हें बधाई दी है। अनुराग ठाकुर ने ट्वीट कर कहा, “एक अभिनेता, डांसर और निर्माता के रूप में 150 से अधिक फिल्मों के साथ चिरंजीवी का चार दशकों का करियर बेहतरीन रहा है। वह तेलुगू सिनेमा में बेहद लोकप्रिय हैं और दिल छू लेने वाले प्रदर्शन के लिए जाने जाते हैं। बधाई चिरंजीवी।”

गौरतलब है, साल 1978 में आई फिल्म पुनाधिरल्लू से अपना करियर शुरू करने वाले चिरंजीवी ने चार दशकों से अधिक के अपने सफर में 150 से अधिक फीचर फिल्मों के माध्यम से सिने प्रेमियों के दिल में अपनी जगह बनाई है।

सिनेमा जगत में बेहतरीन योगदान के चिरंजीवी को भारत के तीसरे सर्वोच्च नागरिक सम्मान पद्म भूषण, आंध्र प्रदेश के सर्वोच्च नागरिक सम्मान रघुपति वेंकैया पुरस्कार, 10 फिल्मफेयर, 4 नंदी पुरस्कार समेत कई अन्य पुरुष्कारों से सम्मानित किया जा चुका है। चिरंजीवी जल्द ही चिरंजीवी की जल्द फिल्म वॉल्टर बिलैया और भोला शंकर में दिखने वाले हैं। सिल्वर स्क्रीन पर वह आखिरी बार सलमान खान स्टारर गॉड फादर में दिखे थे। 

बता दें, 53वां भारतीय अंतरराष्ट्रीय फिल्म फेस्टिवल 20 नवंबर से 28 नवंबर तक चलेगा। ओपनिंग सेरेमनी में शामिल हुए दौरान अनुराग ठाकुर ने कहा कि सरकार का लक्ष्य आईएफएफआई को कंटेंट क्रिएशन, फिल्म निर्माण और शूटिंग के लिए वन-स्टॉप डेस्टिनेशन बनाने का है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

फैक्ट चेक’ की आड़ लेकर भारत में ‘प्रोपेगेंडा’ फैलाने की तैयारी कर रहा अमेरिका, 1.67 करोड़ रुपए ‘फूँक’ तैयार कर रहा ‘सोशल मीडिया इन्फ्लूएंसर्स’...

अमेरिका कथित 'फैक्ट चेकर्स' की फौज को तैयार करने की योजना को चतुराई से 'डिजिटल लिटरेसी' का नाम दे रहा है, लेकिन इनका काम होगा भारत में अमेरिकी नरेटिव को बढ़ावा देना।

मुस्लिम फल विक्रेताओं एवं काँवड़ियों वाले विवाद में ‘थूक’ व ‘हलाल’ के अलावा एक और पहलू: समझिए सच्चर कमिटी की रिपोर्ट और असंगठित क्षेत्र...

काँवड़ियों के पास ये विकल्प क्यों नहीं होना चाहिए, अगर वो सिर्फ हिन्दू विक्रेताओं से ही सामान खरीदना चाहते हैं तो? मुस्लिम भी तो लेते हैं हलाल?

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -