Wednesday, September 22, 2021
Homeविविध विषयमनोरंजनमुगल असली राष्ट्र निर्माता, मुस्लिम शासकों को बदनाम करना आज सबसे आसान: बजरंगी भाईजान...

मुगल असली राष्ट्र निर्माता, मुस्लिम शासकों को बदनाम करना आज सबसे आसान: बजरंगी भाईजान के निर्देशक कबीर खान

कबीर खान कहते हैं, “आज के समय में सबसे आसान चीज मुगलों को और अन्य मुस्लिम शासकों को बदनाम करना है। उन्हें बने बनाए स्टीरियोटाइप्स में फिट करने की कोशिश बेहद चिंताजनक है...।"

बॉलीवुड फिल्म बजरंगी भाईजान के निर्देशक कबीर खान ने हाल में अपनी चिंता जाहिर करते हुए बयान दिया कि उन्हें मुगलों को बदनाम करने वाली फिल्में देखना ‘समस्याग्रस्त और परेशान करने वाला’ लगता है। उनके मुताबिक ऐसा ‘सिर्फ पॉपुलर नैरेटिव के साथ जाने के लिए’ किया जाता है और ये फिल्में ‘ऐतिहासिक साक्ष्य’ पर आधारित नहीं हैं। कबीर का कहना है कि मुगल ही देश के असली राष्ट्र निर्माता थे।

बॉलीवुड हंगामा नामक मनोरंजन वेबसाइट को दिए बयान में उन्होंने कहा,

“मुझे यह बेहद समस्याग्रस्त और परेशान करने वाला लगता है और जो वास्तव में मुझे तंग करता है वह यह है कि यह सिर्फ पॉपुलर नैरेटिव के साथ जाने के लिए किया जा रहा है। मैं समझ सकता हूँ कि जब एक फिल्ममेकर रिसर्च करता है तो फिल्ममेकर एक प्वाइंट बनाता है। जाहिर तौर पर सबका अलग नजरिया हो सकता है। अगर आप मुगलों को बदनाम करना चाहते हैं, कृपया करके उसे रिसर्च आधारित रखें और बताएँ कि क्यों; वे खलनायक क्यों थे जो आपको ऐसा लगता है। क्योंकि अगर आप कुछ रिसर्च करते हैं और इतिहास पढ़ते हैं, तो ये बहुत मुश्किल है कि आप उन्हें खलनायक बनाएँ। मुझे लगता है कि वे मूल राष्ट्र निर्माता थे और ये लिखने और कहने के लिए कि उन्होंने हत्या की…बताएँ कि आप किस आधार पर कह रहे हैं।”

वह कहते हैं, “आज के समय में सबसे आसान चीज मुगलों को और अन्य मुस्लिम शासकों को बदनाम करना है। उन्हें बने बनाए स्टीरियोटाइप्स में फिट करने की कोशिश बेहद चिंताजनक है। दुर्भाग्य से मैं उन फिल्मों का सम्मान नहीं कर सकता। यह मेरी निजी राय है। मैं बड़े दर्शकों के लिए ऐसा नहीं बोल सकता लेकिन मैं निश्चित तौर पर ऐसे चित्रण को देख तंग हो जाता हूँ।”

गौरतलब है कि निर्देशक कबीर खान का यह बयान डिज्नी प्लस हॉटस्टार की नई वेब सीरीज ‘द एम्पायर’ का ट्रेलर सामने के बाद आया है। इस सीरीज की चर्चा सोशल मीडिया पर काफी गर्म है। ‘द एम्पायर’ में पहली बार मुग़ल साम्राज्य को शुरुआत से, पहले शासक बाबर की कहानी के साथ दिखाया जाएगा।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

गुजरात के दुष्प्रचार में तल्लीन कॉन्ग्रेस क्या केरल पर पूछती है कोई सवाल, क्यों अंग विशेष में छिपा कर आता है सोना?

मुंद्रा पोर्ट पर ड्रग्स की बरामदगी को लेकर कॉन्ग्रेस पार्टी ने जो दुष्प्रचार किया, वह लगभग ढाई दशक से गुजरात के विरुद्ध चल रहे दुष्प्रचार का सबसे नया संस्करण है।

‘मुंबई डायरीज 26/11’: Amazon Prime पर इस्लामिक आतंकवाद को क्लीन चिट देने, हिन्दुओं को बुरा दिखाने का एक और प्रयास

26/11 हमले को Amazon Prime की वेब सीरीज में मु​सलमानों का महिमामंडन किया गया है। इसमें बताया गया है कि इस्लाम बुरा नहीं है। यह शांति और सहिष्णुता का धर्म है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,782FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe