Saturday, July 13, 2024
Homeविविध विषयमनोरंजन'द केरल स्टोरी' पर नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने पलटा स्टैंड, कहा- मैं कभी नहीं चाहूँगा...

‘द केरल स्टोरी’ पर नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने पलटा स्टैंड, कहा- मैं कभी नहीं चाहूँगा कोई फिल्म बैन हो: पहले कहा था- फिल्म का काम तोड़ना नहीं

नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने द केरल स्टोरी पर बैन लगाने को समर्थन देने की खबरों को नकारा है। उन्होंने कहा है कि उन्होंने ऐसा कभी नहीं कहा कि किसी भी फिल्म पर बैन लगे।

सुदीप्तो सेन के निर्देशन में लव जिहाद पर बनी फिल्म ‘द केरल स्टोरी’ का ताबड़तोड़ कमाई का सिलसिला लगातार जारी है। फिल्म को दर्शकों का भरपूर प्यार मिल रहा है। वहीं, पश्चिम बंगाल और तमिलनाडु में इस फिल्म को बैन का सामना कराना पड़ा है। इस बीच बॉलीवुड अभिनेता नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने ‘द केरल स्टोरी’ पर लगाए प्रतिबंध को सपोर्ट देने की खबरों पर अपना ट्वीट किया है।

उन्होंने प्रकाशित होती मीडिया रिपोर्ट्स को लेकर कहा, “कृपया करके कुछ व्यूज और हिट्स के लिए झूठी खबरें फैलाना बंद करो। इसे सिर्फ सस्ती टीआरपी कहते हैं। मैंने यह कभी नहीं कहा है कि किसी फिल्म पर बैन लगाओ। फिल्मों पर बैन लगाना रोको। झूठी खबरें फैलाना बंद करो।”

बता दें कि इससे पहले नवाजुद्दीन सिद्दीकी को लेकर जो खबरें चली थीं वो न्यूज 18 को दिए इंटरव्यू पर आधारित थीं। उसमें उन्होंने कहा था, “अगर कोई फिल्म या उपन्यास किसी को ठेस पहुँचा रहा है, तो यह गलत है। हम दर्शकों या उनकी भावनाओं को ठेस पहुँचाने के लिए फिल्में नहीं बनाते हैं।” उन्होंने यह भी कहा, “हम लोगों के बीच सामाजिक सद्भाव और प्रेम को बढ़ावा देने के लिए फिल्में बनाते हैं। यह हमारी जिम्मेदारी है कि हम ऐसी फिल्में बनाएँ, जो लोगों को जोड़ने का काम करें। हमें इस दुनिया को जोड़ना है, तोड़ना नहीं।”

दरअसल, ‘द केरल स्टोरी’ फिल्म सच्ची घटनाओं पर आधारित है। फिल्म में दिखाया गया है कि कैसे केरल की हिंदू महिलाओं को अपने प्यार के जाल में फँसाकर, उनका धर्मांतरण कराकर उन्हें ISIS के आतंकवादियों की ‘सेक्स स्लेव’ बनने के लिए मजबूर किया जाता है। यह फिल्म 5 मई 2023 को सिनेमाघरों की गई। इसके रिलीज होने के बाद भारत में भले ही वामपंथी और कट्टरपंथी गिरोह इसे प्रोपेगेंडा बताकर खारिज करने की कोशिश कर रहे हैं। लेकिन हकीकत में यह फिल्म विदेशों तक में सराही जा रही है। ‘द केरल स्टोरी’ को देखने के बाद लंदन की पत्रकार ने भी इस फिल्म की तारीफ की है।

वहीं, फिल्म की रिलीज के बाद कई ऐसी लड़कियाँ सामने आई हैं, जिन्होंने फिल्म में दिखाए गए एक-एक दृश्य को सही ठहराया है। उन्होंने कैमरे के सामने खुद कबूला है कि कॉलेज में उनका ब्रेनवॉश किया गया। श्रुति ने ऑपइंडिया से बातचीत में बताया था कि उन्हें इस हद तक कट्टरपंथी बना दिया गया था कि अगर कोई उनकी विचारधारा नहीं मानता और इस्लाम में कन्वर्ट करने से मना करता तो वह उसकी हत्या भी कर सकती थीं।

श्रुति के अनुसार, पहले ऐसी लड़कियों को तलाशा जाता है जिन्हें हिंदू धर्म के बारे में ज्यादा न पता हो। इसके बाद इन्हें इनके धर्म के बारे में भड़काया जाता है जिसका जवाब उन लड़कियों के पास नहीं होता। पीड़िता ने यह भी बताया था कि ब्रेनवॉश करने की प्रक्रिया में ये लोग पूछते हैं कि भगवान राम को तुम पूजते हो? बताओ उन्होंने अपनी पत्नी को क्यों छोड़ा? महिलाओं को उन्होंने क्या इज्जत दी? तुम कृष्ण को पूजते हो जिनकी इतनी पत्नियाँ थीं? तुम बंदरों को मानते हो। सुदीप्तो सेन की फिल्म ‘द केरल स्टोरी’ की भी यही कहानी है।

वर्क फ्रंट की बात करें तो नवाजुद्दीन सिद्दीकी जल्द ही फिल्म ‘जोगीरा सारा रा रा’ में नजर आएँगे। इस फिल्म में उनके साथ नेहा शर्मा दिखाई देंगी।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

महाराष्ट्र विधान परिषद चुनाव में NDA की बड़ी जीत, सभी 9 उम्मीदवार जीते: INDI गठबंधन कर रहा 2 से संतोष, 1 सीट पर करारी...

INDI गठबंधन की तरफ से कॉन्ग्रेस, शिवसेना UBT और PWP पार्टी ने अपना एक-एक उमीदवार उतारा था। इनमें से PWP उम्मीदवार जयंत पाटील को हार झेलनी पड़ी।

नेपाल में गिरी चीन समर्थक प्रचंड सरकार, विश्वास मत हासिल नहीं कर पाए माओवादी: सहयोगी ओली ने हाथ खींचकर दिया तगड़ा झटका

नेपाल संसद के निचले सदन प्रतिनिधि सभा में अविश्वास प्रस्ताव पर हुए मतदान में प्रचंड मात्र 63 वोट जुटा पाए। जिसके बाद सरकार गिर गई।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -