Wednesday, July 17, 2024
Homeविविध विषयअन्यअर्जुन बन भगवान श्रीकृष्ण से कीजिए सवाल, Gita GPT भगवद्गीता के आधार पर देगा...

अर्जुन बन भगवान श्रीकृष्ण से कीजिए सवाल, Gita GPT भगवद्गीता के आधार पर देगा जवाब: गूगल के इंजीनियर ने बनाई जीवन-दर्शन से संबंधित चैटबॉट

भगवद्गीता महाभारत की लड़ाई से पहले भगवान श्रीकृष्ण और अर्जुन के बीच संवाद पर आधारित ग्रन्थ है। इसमें भगवान श्रीकृष्ण ने अर्जुन के सवालों का जवाब देते हुए ज्ञानयोग, कर्मयोग, भक्ति योग और राजयोग पर विस्तार से चर्चा की है। गीता में भगवान ने मनुष्यों को कर्म के लिए प्रेरित करते हुए, इसका महत्व समझाया है। इसमें 18 अध्याय और 700 श्लोक हैं।

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (AI) की मदद से हर सवाल का जवाब देने के लिए डेवलप चैटबॉट चैटजीपीटी (ChatGPT) इन दिनों काफी लोकप्रिय हो रहा है। इस बीच गूगल (Google) के एक इंजीनियर ने गीता जीपीटी (Gita GPT) नाम से चैटबॉट लॉन्च किया है। दावा किया जा रहा है कि यह चैटबॉट गीता के आधार पर आपके प्रश्नों का उत्तर देगा।

गीता जीपीटी को बेंगलुरु के गूगल सॉफ्टवेयर इंजीनियर सुकुरु साई विनीत ने विकसित (Develop) किया है। यह जीपीटी-3 पर आधारित प्रोग्राम है। ट्विटर पर इसके बारे में विनीत ने पोस्ट शेयर की है। अपने पोस्ट में उन्होंने लिखा है कि क्या होगा जब आप भगवद्गीता या भगवान श्रीकृष्ण से बात करें? भगवान श्रीकृष्ण का पवित्र गान अब आपके हाथों में। इक्कीसवीं सदी (21st Century) में आपका स्वागत है।

विनीत आपको अर्जुन बनकर भगवान कृष्ण से कठिन से कठिन प्रश्न पूछने का अवसर दे रहे हैं। यह एक चैट जीपीटी टूल है, जो भगवद्गीता के आधार पर प्रश्नों का जवाब देता है। दावा है कि अपने जीवन के समस्याओं का हल भी इस टूल के जरिए प्राप्त किया जा सकता है। यह टूल भगवद्गीता को जानने और समझने में भी आपकी मदद करेगा।

विनीत ने अपने ट्वीट के जरिए समझाया है कि सवालों के जवाब के साथ-साथ आप चाहें तो गीता परामर्श (consult the Gita) भी ले सकते हैं। उन्होंने ऐप पर पूछे गए सवाल का जवाब भी साझा किया है। इसमें उन्होंने गीता जीपीटी से जीवन का अर्थ, धर्म क्या है जैसे कई सवाल पूछे हैं। इसका जवाब गीता के अनुसार नीचे दिया गया है।

क्या है भगवद्गीता?

भगवद्गीता महाभारत की लड़ाई से पहले भगवान श्रीकृष्ण और अर्जुन के बीच संवाद पर आधारित ग्रन्थ है। इसमें भगवान श्रीकृष्ण ने अर्जुन के सवालों का जवाब देते हुए ज्ञानयोग, कर्मयोग, भक्ति योग और राजयोग पर विस्तार से चर्चा की है। गीता में भगवान ने मनुष्यों को कर्म के लिए प्रेरित करते हुए, इसका महत्व समझाया है। इसमें 18 अध्याय और 700 श्लोक हैं।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

साथियों ने हाथ-पाँव पकड़ा, काज़िम अंसारी ने ताबतोड़ घोंपा चाकू… धराया VIP अध्यक्ष मुकेश सहनी के पिता का हत्यारा, रात के डेढ़ बजे घर...

घटना की रात काज़िम अंसारी ने 10-11 बजे के बीच रेकी भी की थी जो CCTV में कैद है। रात के करीब डेढ़ बजे ये लोग पीछे के दरवाजे से घर में घुसे।

प्राइवेट नौकरियों में 75% आरक्षण वाले बिल पर कॉन्ग्रेस सरकार का U-टर्न, वापस लिया फैसला: IT कंपनियों ने दी थी कर्नाटक छोड़ने की धमकी

सिद्धारमैया के फैसले का भारी विरोध भी हो रहा था, जिसकी वजह से कॉन्ग्रेसी सरकार बुरी तरह से घिर गई थी। यही नहीं, इस फैसले की जानकारी देने वाले ट्वीट को भी मुख्यमंत्री को डिलीट करना पड़ा था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -