Sunday, August 1, 2021
Homeविविध विषयअन्य'आखिर हिंदुओं को कब तक ये सब झेलना पड़ेगा': नेटफ्लिक्स पर अब राधा-कृष्ण का...

‘आखिर हिंदुओं को कब तक ये सब झेलना पड़ेगा’: नेटफ्लिक्स पर अब राधा-कृष्ण का अपमान

लोगो का पूछना है कि आखिर क्यों हिंदू देवी-देवताओं को लेकर अभद्रता के मामले बढ़ते जा रहे हैं? क्यों हमारे देवी-देवताओं का अपमान किया जा रहा है? क्या इसका कारण नेटफ्लिक्स का हिंदूफोबिक होना है?

ऑनलाइन सीरीज के जरिए हिन्दू देवी-देवताओं पर घृणित सामग्री प्रसारित करने का कारोबार धड़ल्ले से जारी है। ताजा कारनामा नेटफ्लिक्स (Netflix) ने अपनी नई सीरीज कृष्णा एंड हिज लीला (Krishna & His Leela) में दर्शाया है।

इस सीरीज में एक कृष्णा नाम के लड़के के कई लड़कियों से शारीरिक संबंध होते है। इनमें से एक लडक़ी का नाम राधा भी होता है। 

अब इसी प्लॉट को आधार बनाकर सोशल मीडिया पर इस सीरिज की आलोचना हो रही है। इसे बॉयकॉट करने की माँग की जा रही है। लोगो का पूछना है कि आखिर क्यों हिंदू देवी-देवताओं को लेकर अभद्रता के मामले बढ़ते जा रहे हैं? क्यों हमारे देवी-देवताओं का अपमान किया जा रहा है? क्या इसका कारण नेटफ्लिक्स का हिंदूफोबिक होना है?

गौरतलब है कि हिंदू मान्यताओं के मुताबिक, राधा-कृष्ण को हमारे समाज में प्रेम का प्रतीक माना जाता है और भगवान कृष्ण की प्रत्येक लीला भी कोई न कोई जीवन संदेश देती है है। बावजूद इन सभी पहलुओं के जानबूझकर ऐसी सामग्री दर्शकों के बीच लाना इस सीरीज के निर्माताओं की मंशा पर स्वत: ही सवाल उठाता है।

बता दें, इस सीरीज के अलावा इस समय सोशल मीडिया पर नेटफ्लिक्स और अनुष्का शर्मा दोनों को हिंदूफोबिक सामग्री दर्शाने के लिए नपसंद किया जा रहा है। एक यूजर इन सीरीज के पोस्टर और कुछ क्लिप शेयर करते हुए पूछती हैं कि आखिर हिंदुओं को कब तक ये सब झेलना पड़ेगा? अगर ये सब किसी और मजहब में हुआ होता तो अब तक मूवी को बैन कराने के लिए हल्ला मच गया होता।

पाताल लोक सीरीज को लेकर बढ़ा था विवाद

याद दिला दें, अभी इससे पहले अमेज़न प्राइम पर रिलीज हुई वेब सीरीज पाताल लोक भी हिंदू घृणित सामग्री दर्शाने के कारण काफी विवादों का हिस्सा बनी थी।

इस सीरीज के आने के बाद न केवल हिंदूवादी संगठनों ने इसपर अपना आक्रोश दिखाया था, बल्कि सिखों व भाजपा नेता ने भी आरोप लगाया था कि इस सीरीज में उनकी छवि को बिगाड़ने का प्रयास हुआ है। इस फिल्म को लेकर अभिनेत्री अनुष्का शर्मा इतना ज्यादा फँस गईं थी कि कोर्ट ने भी उनसे पिछले दिनों नोटिस भेजकर जवाब माँगा था। 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

हॉकी में टीम इंडिया ने 41 साल बाद दोहराया इतिहास, टोक्यो ओलंपिक के सेमीफाइनल में पहुँची: अब पदक से एक कदम दूर

भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने टोक्यो ओलिंपिक 2020 के सेमीफाइनल में जगह बना ली है। 41 साल बाद टीम सेमीफाइनल में पहुँची है।

पीवी सिंधु ने ओलम्पिक में ब्रॉन्ज मेडल जीता: वेटलिफ्टिंग और बॉक्सिंग के बाद बैडमिंटन ने दिलाया देश को तीसरा मेडल

भारत की बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु ने टोक्यो ओलंपिक में ब्रॉन्ज मेडल जीता। चीनी खिलाड़ी को 21-13, 21-15 से हराया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,477FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe