Friday, January 21, 2022
Homeविविध विषयमनोरंजन'पाताल लोक' में सिखों के अपमान पर मुश्किल में फँसी अनुष्का शर्मा: हाईकोर्ट ने...

‘पाताल लोक’ में सिखों के अपमान पर मुश्किल में फँसी अनुष्का शर्मा: हाईकोर्ट ने भेजा नोटिस

इस सीरीज में सिख समुदाय की छवि को खराब करने का आरोप लगाते हुए याचिका दायर की गई है, जिस पर कोर्ट ने एक्ट्रेस को नोटिस भेजकर जवाब माँगा है। उन्होंने आरोप लगाया है कि इस वेब सीरीज में जातिसूचक शब्द का इस्तेमाल हुआ है, जिससे पूरे सिख समुदाय का अपमान हुआ है।

बॉलीवुड एक्ट्रेस अनुष्का शर्मा काफी समय से अपने खास अभिनय से पहचानी जाती रही है, लेकिन इन दिनों वो अपनी डिजिटल डेब्यू को लेकर सुर्खियों में हैं। एक्ट्रेस ने अभिनय के साथ साथ बतौर प्रोड्यूसर के तौर पर काम करना शुरू किया है।

वो इन दिनों अमेजन प्राइम पर सीरिज ‘पाताल लोक’ को रिलीज करते ही चर्चे में आ गई थीं। लेकिन अब इस फिल्म को लेकर अनुष्का शर्मा काफी मुश्किलों में फँसी हुई हैं। अपनी फिल्म में उन्होंने एक जातिसूचक शब्द का उपयोग किया है इसलिए उनकी सीरीज पर सिख समुदाय ने घोर विरोध किया है।

प्रोड्यूसर अनुष्का शर्मा की अमेजन वेब सीरीज के तीसरे एपिसोड को लेकर पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट की तरफ से प्रोड्यूसर अनुष्का शर्मा को नोटिस भेजा गया है। हाईकोर्ट ने इस मामले की सुनवाई दो जुलाई को तय की है।

दरअसल, इस सीरीज में सिख समुदाय की छवि को खराब करने का आरोप लगाते हुए याचिका दायर की गई है, जिस पर कोर्ट ने एक्ट्रेस को नोटिस भेजकर जवाब माँगा है। उन्होंने आरोप लगाया है कि इस वेब सीरीज में जातिसूचक शब्द का इस्तेमाल हुआ है, जिससे पूरे सिख समुदाय का अपमान हुआ है।

मामले पर वकील गुरदपिंदर सिंह ढिल्लों ने याचिका दायर कर कहा है कि वेब सीरीज में जानबूझकर और दुर्भावनापूर्ण तरीके से सिखों की छवि को खराब करने की कोशिश की गई है। वकील ढिल्लों के मुताबिक शो के तीसरे एपिसोड से सिखों की छवि को ठेस पहुँची है।

पाताल लोक पर के प्रोड्यूसर आरोप लगाया गया है कि इसके तीसरे एपिसोड में सिखों को बदनाम करते हुए दिखाया गया है। इसमें दिखाया गया है कि किस तरह सिख समुदाय दलित और पिछड़ी जातियों का उत्पीड़न करते थे। इसके अलावा इसमें सिखों द्वारा महिला का यौन उत्पीड़न और बलात्कार करते हुए भी दिखाया गया है।

बता दें कि इससे पहले भी पाताल लोक पर नेपाली और नॉर्थ ईस्ट के लोगों की भावनाएँ आहत किए जाने का आरोप लगा था। इसके बाद बीजेपी विधायक नंद किशोर गुर्जर ने भी इसके खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी। विधायक ने कहा कि एक अपराधी किस्म के किरदार के साथ उनकी तस्वीर को मॉर्फ्ड करके लगाया गया है और गुर्जर जाति के लिए अपमानजनक शब्दों का प्रयोग किया गया है। विधायक ने प्रोड्यूसर अनुष्का शर्मा के खिलाफ रासुका लगाए जाने की माँग भी की थी।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘सपा सरकार है और सीएम हमारी जेब मैं है, जो चाहेंगे वही होगा’: कॉन्ग्रेस को समर्थन का ऐलान करने वाले तौकीर रजा पर बहू...

निदा खान कॉन्ग्रेस के समर्थक मौलाना तौकीर रजा खान की बहू हैं। उन्हें उनके शौहर ने कहा था कि वो नहीं चाहते कि परिवार की महिलाएं पढ़े।

शहजाद अली के 6 दुकानों पर चला शिवराज सरकार का बुलडोजर, कार्रवाई के बाद सुराना गाँव के हिंदुओं ने हटाई मकान बेचने वाली सूचना

मध्य प्रदेश प्रशासन की कार्रवाई के बाद रतलाम में हिंदू समुदाय ने अपने घरों पर लिखी गई मकान बेचने की सूचना को मिटा दिया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
152,458FollowersFollow
413,000SubscribersSubscribe