Sunday, July 21, 2024
Homeविविध विषयअन्यहनुमान भक्त केशव महाराज ने 'ऊँ बैट' से पाकिस्तान को धोया, नमाज पढ़ने वाले...

हनुमान भक्त केशव महाराज ने ‘ऊँ बैट’ से पाकिस्तान को धोया, नमाज पढ़ने वाले खिलाड़ियों को माँ-बहन से भी गंदी-गंदी गाली बकने लगे कट्टर मुस्लिम

पाकिस्तान के खिलाड़ी मैदान में नमाज पढ़ते हैं। पाकिस्तान के खिलाड़ी हिंदुओं के बीच नमाज पढ़ने को लेकर शेखी बघारते हैं। ऐसे में ऊँ लिखे बैट से हार कर विश्व कप 2023 से लगभग बाहर होना पाकिस्तान की मजहबी सोच में कील की तरह चुभता रहेगा।

केशव महाराज! इस नाम को पाकिस्तान के लोग इस जन्म में नहीं भूल पाएँगे। इसलिए नहीं क्योंकि उनके विजयी चौके के कारण पाकिस्तान हारा बल्कि इसलिए क्योंकि ऊँ लिखे बैट से पाकिस्तान हारा। पाकिस्तान के खिलाड़ी मैदान में नमाज पढ़ते हैं। पाकिस्तान के खिलाड़ी हिंदुओं के बीच नमाज पढ़ने को लेकर शेखी बघारते हैं। ऐसे में ऊँ लिखे बैट से हार कर लगभग विश्व कप 2023 से बाहर होना पाकिस्तान की मजहबी सोच में कील की तरह चुभता रहेगा।

विश्व कप क्रिकेट 2023 में शुक्रवार (27 अक्टूबर 2023) को चेन्नई में पाकिस्तान और दक्षिण अफ्रीका की भिड़ंत हुई। इस मैच में दक्षिण अफ्रीका ने पाकिस्तान को 1 विकेट से हरा दिया। प्लेयर ऑफ़ द मैच का ख़िताब 4 विकेट लेने वाले दक्षिण अफ्रीकी खिलाड़ी तबरेज शम्सी को मिला। भारतीय मूल के दक्षिण अफ्रीकी खिलाड़ी केशव महाराज ने लेकिन वाहवाही खूब लूटी।

केशव महाराज का सुर्खियों में रहने का कारण रहा अंतिम में उनका धैर्य के साथ खेलना और ऊँ लिखे बैट से चौका लगाकर पाकिस्तान को हराना। मैच के दौरान ही केशव महाराज ने बजरंग बली को याद भी किया। इस बीच पाकिस्तानी फैंस एक बार फिर से अपनी टीम को गालियाँ देकर भड़ास निकालने में जुट गए हैं।

पहले बल्लेबाजी करते हुए पाकिस्तान ने इस मैच में 46.4 ओवरों में सभी विकेट गँवा कर कुल 270 रन बनाए थे। इसमें बाबर आज़म ने 50, सऊद शकील ने 52, शादाब खान ने 43 और मोहम्मद रिज़वान ने 31 रनों का योगदान किया।

दक्षिण अफ्रीका की तरफ से सबसे अधिक 4 विकेट तबरेज शम्सी ने लिए। 271 रनों का पीछा करते हुए एक समय दक्षिण अफ्रीका की टीम 6 विकेट पर 250 रन के स्कोर पर थी और ये माना जा रहा था कि वो आराम से इस मैच को जीत लेगी।

इसके बाद पाकिस्तानी गेंदबाजों ने ताबड़तोड़ 3 विकेट लेकर मैच को रोमांचक बना डाला। अंतिम विकेट के लिए भारतीय मूल के खिलाड़ी केशव महराज ने तबरेज शम्सी के साथ मोर्चा संभाला। आखिरकार दक्षिण अफ्रीका की टीम ने 47.2 ओवरों में 271 रन बना कर जीत हासिल कर ली। विजयी चौका केशव महाराज ने लगाया। जीत के बाद केशव महाराज ने अपने इंस्टाग्राम पर एक पोस्ट करते हुए इसे भगवान का आशीर्वाद कहा। उन्होंने अपनी पोस्ट में हाथ जोड़ कर ॐ का चिन्ह भी बनाया है।

इस मैच के दौरान केशव महराज का एक वीडियो भी वायरल हो रहा है। वो मैदान पर हाथ जोड़ कर ईश्वर को प्रणाम करते भी नजर आए। उनके दाहिने हाथ में कड़ा और कलावा भी बँधा है। केशव महाराज भारतीय मूल के हैं। उनके पुरखों का संबंध उत्तर प्रदेश के सुल्तानपुर जिले से है। उनके पिता आत्मानंद महाराज भी क्रिकेटर रह चुके हैं। केशव का परिवार साल 1874 में ही सुल्तानपुर से दक्षिण अफ्रीका के डरबन में आ गया था।

पाकिस्तानी फैंस आग बबूला

इस हार के बाद पाकिस्तान की विश्वकप 2023 में राह बेहद मुश्किल हो चुकी है। अपनी टीम की लगातार हार से भड़के पाकिस्तानी प्रशंसकों ने जम कर भड़ास निकाली है। कुछ लोगों ने अम्पायर के एक फैसले पर गुस्सा निकाला है तो कुछ फैंस खिलाड़ियों से ही नाराजगी दिखा रहे हैं।

@dupediasies नाम के एक यूजर ने लिखा कि वो बाबर आज़म को दुबारा कप्तान के तौर पर नहीं देखना चाहते। इसी दौरान उन्होंने लिखा, “Fuk My Life Fuk this sport”। मिस्टर G नाम के यूजर ने @gulllkhann नाम के हैंडल से अम्पायर को गालियाँ देते हुए लिखा, “बहोत बड़ा *डी का बच्चा है तू”।

ZED नाम के हैंडल से बाबर आज़म को पाकिस्तान क्रिकेट इतिहास का सबसे बड़ा फ्रॉड कप्तान बताया गया है। इस हैंडल ने बताया कि साल 2021 के T- 20 विश्व कप से लेकर अब साल 2023 तक का वर्ल्ड कप में हार की वजह बाबर आज़म हैं। ZED ने बाबर आज़म के फोटो पर लाल रंग से क्रॉस का निशान बनाया है। इसके अलावा @arhuml92 ने पाकिस्तानी खिलाड़ियों पर जाते-जाते अपना दिल तोड़ने का आरोप लगाया है।

बंटी नाम के एक हैंडल ने लिखा, अम्पायर को भूख लगी थी। खाने को कुछ नहीं मिला तो हमारी खुशियाँ ही खा गया।” वहीं अब्दुल्ला ने बाबर आज़म की तुलना नवाज़ शरीफ से की है। अब्दुल्ला ने लिखा, “इस शरीफ को भी किसी मुशर्रफ की जरूरत है।”

बताते चलें कि इस हार के बाद पाकिस्तान की विश्व कप 2023 में बने रहने की सम्भावनाएँ लगभग धूमिल हो चुकी हैं। फ़िलहाल अंक तालिका में दक्षिण अफ्रीका पहले नंबर पर है। समान अंक होने के बावजूद नेट रन रेट में पीछे होने के कारण भारत दूसरे नंबर पर है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

बांग्लादेश में आरक्षण खत्म: सुप्रीम कोर्ट ने कोटा व्यवस्था को रद्द किया, दंगों की आग में जल रहा है मुल्क

प्रदर्शनकारी लोहे के रॉड हाथों में लेकर सेन्ट्रल डिस्ट्रिक्ट जेल पहुँच गए और 800 कैदियों को रिहा कर दिया। साथ ही जेल को आग के हवाले कर दिया गया।

‘कमाल का है PM मोदी का एनर्जी लेवल, अनुच्छेद-370 हटाने के लिए चाहिए था दम’: बोले ‘दृष्टि’ वाले विकास दिव्यकीर्ति – आर्य समाज और...

विकास दिव्यकीर्ति ने बताया कि कॉलेज के दिनों में कई मुस्लिम दोस्त उनसे झगड़ा करते थे, क्योंकि उन्हें RSS के पक्ष से बहस करने वाला माना जाता था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -