Thursday, July 18, 2024
Homeविविध विषयअन्यअंतर्राष्ट्रीय योग दिवस : श्रीनगर में बोले पीएम मोदी, मिलती है शक्ति, पूरी दुनिया...

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस : श्रीनगर में बोले पीएम मोदी, मिलती है शक्ति, पूरी दुनिया से योग सीखने भारत आ रहे लोग’, योगी आदित्यनाथ बोले-ऋषि परंपरा का हिस्सा

पीएम मोदी ने UNGA में अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस का प्रस्ताव रखा था, जिसके बाद संयुक्त राष्ट्र ने दिसंबर 2014 में एक प्रस्ताव पारित कर आधिकारिक तौर पर 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस घोषित कर दिया। इसे रिकार्ड 175 सदस्य देशों का समर्थन मिला।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दसवें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर श्रीनगर पहुँचे। यहाँ से उन्होंने पूरी दुनिया को योग पर संदेश दिया और खुद भी शेर-ए-कश्मीर अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन केंद्र में योग सत्र का नेतृत्व किया। पीएम मोदी ने कहा कि जम्मू कश्मीर योग-साधना की भूमि है। इससे उत्पादकता और सहनशक्ति बढ़ती है। योग से नए अवसर पैदा हुए हैं। योग केवल विद्या नहीं बल्कि विज्ञान है। योग से एकाग्रता बढ़ती है। योग पर अब रिसर्च हो रही है। योग टूरिज्म का नया ट्रेंड बन गया है। वहीं, यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने भी योग किया और इसे ऋषि परंपरा का महत्वपूर्ण हिस्सा बताया। इसके अलावा देश के अलग-अलग हिस्सों में केंद्रीय मंत्रियों, मुख्यमंत्रियों, सैन्य बलों ने भी योगाभ्यास किया।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर स्थित शेर-ए-कश्मीर अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन केन्द्र (SKICC) में योग किया।

लगातार नए रिकॉर्ड बना रहा योग दिवस

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने योग दिवस कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि मुझे कश्मीर आने का सौभाग्य मिला है। हमें योग से जो शक्ति मिलती है, मैं श्रीनगर में उसे महसूस कर रहा हूँ। मैं देश के सभी लोगों और दुनिया के कोने-कोने में योग करने वालों को कश्मीर की धरती से योग दिवस की बधाई देता हूँ। अंतरराष्ट्रीय योग दिवस 10 वर्ष की ऐतिहासिक यात्रा पूरी कर चुका है।

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, “आज कश्मीर की धरती से मैं दुनिया भर के सभी लोगों को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस की बधाई देता हूँ। दस साल पहले मैंने संयुक्त राष्ट्र में अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाने का प्रस्ताव रखा था। भारत के प्रस्ताव को 177 देशों ने समर्थन दिया था, जो अपने आप में एक रिकॉर्ड है। 2015 में दिल्ली के कर्तव्यपथ पर 35,000 लोगों ने एक साथ योग किया…”

प्रधानमंत्री मोदी ने 10वें अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर कहा कि जम्मू कश्मीर योग-साधना की भूमि है। इससे उत्पादकता और सहनशक्ति बढ़ती है। योग से नए अवसर पैदा हुए हैं। योग केवल विद्या नहीं बल्कि विज्ञान है। योग से एकाग्रता बढ़ती है। योग पर अब रिसर्च हो रही है। योग टूरिज्म का नया ट्रेंड बन गया है।

पीएम मोदी ने कहा कि इस साल भारत में फ्रांस की 101 साल की महिला योगा शिक्षिका को पद्मश्री से सम्मानित किया गया। वह कभी भारत नहीं आई लेकिन उन्होंने पूरा जीवन योग को लेकर जागरूकता फैलाने में लगा दिया। आज देश-दुनिया की प्रतिष्ठित यूनिवर्सिटीज और संस्थानों में योग पर रिसर्च हो रही है। योग पर रिसर्च पेपर पब्लिश हो रहे हैं।

देश के अलग-अलग हिस्सों में केंद्रीय मंत्रियों ने किया योग

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा ने कहा, “मुझे अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर यमुना स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स में योग प्रेमियों के साथ योग करने का अवसर मिला…प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में योग दुनिया के हर कोने तक पहुँच गया है।”

10वें अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर बिहार के डिप्टी सीएम सम्राट चौधरी, विजय सिन्हा और बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे ने योग किया।

10वें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर लेह के पैंगोंग त्सो में ITBP के जवानों ने योग किया।

योग भारतीय ऋषि परंपरा का महत्वपूर्ण हिस्सा

इस मौके पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 10वें अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर प्रदेशवासियों को बधाई दी और पीएम मोदी के प्रयासों की तारीफ की। उन्होंने योग को भारतीय ऋषि परंपरा का महत्वपूर्ण हिस्सा बताया और कहा कि योग शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के लिए जरूरत है। सीएम योगी ने कहा कि पूरी दुनिया में भारतीय संस्कृति और परंपरा का सम्मान हो रहा है।

सितंबर 2014 को पीएम मोदी ने UNGA में रखा था प्रस्ताव, मिला भारी समर्थन

गौरतलब है कि अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस योग के अनेक लाभों के बारे में दुनिया भर में जागरूकता बढ़ाने के लिए मनाया जाता है। यह उस प्राचीन भारतीय प्रथा को मान्यता देने का दिन है, जो मानसिक और शारीरिक कल्याण पर केंद्रित है। सितंबर 2014 में भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संयुक्त राष्ट्र महासभा को संबोधित करते हुए उन्होंने प्रतिवर्ष अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाने का प्रस्ताव रखा था। प्रधानमंत्री मोदी ने योग के कल्याणकारी लाभों तथा स्वास्थ्य के प्रति इसके समग्र दृष्टिकोण पर प्रकाश डाला। उन्होंने इस उत्सव के लिए 21 जून को आदर्श तिथि बताया, क्योंकि यह कई संस्कृतियों में महत्व रखती है और उत्तरी गोलार्ध में ग्रीष्म संक्रांति का दिन है। इस प्रस्ताव ने गति पकड़ी और संयुक्त राष्ट्र ने दिसंबर 2014 में एक प्रस्ताव पारित कर आधिकारिक तौर पर 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस घोषित कर दिया। वहीं, रिकार्ड तोड़ 175 सदस्य देशों ने प्रस्ताव का समर्थन किया।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

मुहर्रम जुलूस में बजेगा ढोल, जो मुस्लिम नहीं देख सकते वे घर बैठे: मद्रास हाई कोर्ट ने ‘तौहीद जमात’ के कट्टरपंथ के आगे घुटने...

मद्रास हाई कोर्ट ने कहा कि मुहर्रम के जुलूस को अनुमति देते हुए कहा कि जैसे जगह के साथ भाषा बदलती है वैसे रीति-रिवाज में बदलाव होता है।

साथियों ने हाथ-पाँव पकड़ा, काज़िम अंसारी ने ताबतोड़ घोंपा चाकू… धराया VIP अध्यक्ष मुकेश सहनी के पिता का हत्यारा, रात के डेढ़ बजे घर...

घटना की रात काज़िम अंसारी ने 10-11 बजे के बीच रेकी भी की थी जो CCTV में कैद है। रात के करीब डेढ़ बजे ये लोग पीछे के दरवाजे से घर में घुसे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -