Thursday, July 25, 2024
Homeविविध विषयविज्ञान और प्रौद्योगिकीट्विटर ने '$8 वाली ब्लू टिक स्कीम' पर लगाई रोक, अलग-अलग रंग से होगा...

ट्विटर ने ‘$8 वाली ब्लू टिक स्कीम’ पर लगाई रोक, अलग-अलग रंग से होगा वेरिफिकेशन: एलन मस्क का ऐलान, बोले- फर्जीवाड़ा रुकने तक नहीं करेंगे स्कीम लॉन्च

एलन मस्क ने ट्वीट कर बताया कि फर्जी खातों की जाँच पड़ताल होने तक ब्लू टिक वेरिफिकेशन प्रक्रिया को रोका जा रहा है। उन्होंने कहा कि संभवतः व्यक्ति और संस्था को अलग-अलग कलर का वेरिफिकेशन टिक दिया जाएगा।

सोशल मीडिया साइट ट्विटर इन दिनों लगातार चर्चा में है। दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति एलन मस्क (Elon Musk) ने जब से इसे टेकओवर किया है, वह इसकी नीतियों में बदलाव कर रहे हैं। उन्होंने कुछ दिन पहले 8 डॉलर के बदले ब्लू टिक देने की स्कीम लॉन्च की थी। फिर फर्जी अकाउंट की समस्या के बाद इसे बंद कर दिया और बाद में सूचित किया कि वह इस सर्विस को नई तैयारी के साथ 29 नवंबर 2022 को रिलॉन्च करेंगे। हालाँकि अब खबर है कि मस्क ने ब्लू टिक वेरिफिकेशन प्रक्रिया के रिलॉन्च को अस्थायी रूप से रोक दिया है।

एलन मस्क ने मंगलवार (22 नवंबर 2022) को ट्वीट कर बताया कि फर्जी खातों की जाँच पड़ताल होने तक ब्लू टिक वेरिफिकेशन प्रक्रिया को रोका जा रहा है। उन्होंने कहा कि संभवतः व्यक्ति और संस्था को अलग-अलग कलर का वेरिफिकेशन टिक दिया जाएगा।

दरअसल ब्लू टिक खातों के वेरिफिकेशन के लिए शुल्क चुकाने के मस्क के फैसले को मिली-जुली प्रतिक्रिया मिली थी। कई लोगों ने इसे समानता की दिशा में उठाया गया कदम बताया था। वहीं इस नियम के तहत कई फर्जी अकाउंट भी वेरिफाइड हो गए थे। इसका सोशल मीडिया यूजर्स ने मजाक भी उड़ाया था।

मस्क के इस फैसले के बाद दुनिया की दिग्गज फार्मेसी कंपनी Eli Lilly (LLY) को 1.20 लाख करोड़ रुपए का नुकसान हो गया था। दरअसल कंपनी के नाम से एक फर्जी अकाउंट बना लिया गया था और केवल 8 डॉलर देकर उसे वेरिफाई करवा लिया गया था।

इसके बाद इस फेक अकाउंट से यह ट्वीट किया गया था कि ‘Insulin is Free Now’। कुछ निवेशकों ने इसे सच मानकर पैसे निकालने शुरू कर दिए थे। इस कारण कंपनी के शेयर्स एक दिन में 4.37 फीसदी तक गिर गए थे और कंपनी को लगभग 1.20 लाख करोड़ रुपये का नुकसान हो गया था।

इन्हीं सब वजहों से मस्क ने ब्लू टिक वेरिफिकेशन प्रक्रिया को रोक दिया था और इसे 29 नवंबर 2022 को रिलॉन्च करने की बात कही थी।

उन्होंने ट्वीट कर कहा था, “ब्लू वेरिफाइड को 29 नवंबर 2022 से फिर से लॉन्च किया जा रहा है, ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि यह एकदम रॉक सॉलिड है।”

मस्क ने इसके साथ ही कहा था कि कोई शख्स सेलेब्रिटी है या नहीं, इसका फैसला यूजर्स पर छोड़ देना चाहिए। वहीं मस्क ने नए तरीके से ब्लू टिक दिए जाने के बारे में कहा कि नए नियमों के हिसाब से अगर आप अपने सत्यापित नाम को बदलते हैं तो आपको चेकमार्क का नुकसान हो सकता है। इसे तभी बहाल किया जाएगा जब यह ट्विटर के सेवा की शर्तों को पूरा कर लेगा।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

भिंडराँवाले के बाद कॉन्ग्रेस ने खोजा एक नया ‘संत’… तब पैसा भेजते थे, अब संसद में कर रहे खुला समर्थन: समझिए कैसे नेहरू-गाँधी परिवार...

RA&W और सेना के पूर्व अधिकारी कह चुके हैं कि कॉन्ग्रेस ने पंजाब में खिसकती जमीन वापस पाने के लिए भिंडराँवाले को पैदा किया। अब वही फॉर्मूला पार्टी अमृतपाल सिंह के साथ आजमा रही। कॉन्ग्रेस के बड़े नेता जरनैल सिंह के सामने फर्श पर बैठते थे। संजय गाँधी ने उसे 'संत' बनाया था।

‘वनवासी महिलाओं से कर रहे निकाह, 123% बढ़ी मुस्लिम आबादी’: भाजपा सांसद ने झारखंड में NRC के लिए उठाई माँग, बोले – खाली हो...

लोकसभा में बोलते हुए सांसद निशिकांत दुबे ने कहा, विपक्ष हमेशा यही बोलता रहता है संविधान खतरे में है पर सच तो ये है संविधान नहीं, इनकी राजनीति खतरे में है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -