जहीरुल शेख इंदौर से गिरफ्तार: JMB का यह आतंकी बर्दवान धमाके का है मुख्य आरोपित

2014 में बर्दवान धमाके की जाँच करते हुए NIA ने भारी मात्रा में IEDs, विस्फोटक और ग्रेनेड बरामद किए थे। कुल 33 लोगों के खिलाफ चार्जशीट दायर की गई थी।

राष्ट्रीय जाँच एजेंसी (NIA) ने सोमवार को बर्दवान धमाके के मुख्य आरोपी जहीरुल शेख को इंदौर से गिरफ्तार कर लिया है। समाचार एजेंसी UNI के मुताबिक मंगलवार (13 अगस्त) को एक आधिकारिक कथन इस आशय से जारी किया गया है। कोलकाता स्थित NIA स्पेशल कोर्ट में उसे प्रस्तुत करने के लिए NIA ने इंदौर के न्यायिक मजिस्ट्रेट से उसकी ट्रांज़िट रिमांड हासिल की है।

बंगाल का ही रहने वाला

फ़रार चल रहा आरोपित शेख बंगाल के नादिया का रहने वाला है। 23 जुलाई, 2015 को उसके खिलाफ चार्जशीट दाखिल की गई थी। आरोप था भारत और बांग्लादेश के खिलाफ युद्ध छेड़ने और आतंक फ़ैलाने के लिए जमात-उल-मुजाहिदीन बांग्लादेश (JMB) की साज़िश में शामिल होने का। जहीरुल शेख के खिलाफ IPC की विभिन्न धाराओं 120B, 121A, 122, 123, 307, 326, 286, और 34 के अलावा Explosive Substance Act की धाराओं 3, 4 और UA(P) Act की धाराओं 16, 18, 18A, 19, और 20 में चार्जशीट दायर की गई है

2014 का मामला

2014 में बर्दवान धमाके की जाँच करते हुए NIA ने भारी मात्रा में IEDs, विस्फोटक और ग्रेनेड बरामद किए थे। कुल 33 लोगों के खिलाफ चार्जशीट दायर की गई थी। अपनी चार्जशीट में NIA ने दावा किया था कि जहीरुल शेख JMB के नादिया मॉड्यूल का वरिष्ठ नेता था। उसने JMB के कई ट्रेनिंग कैम्पों में हिस्सा लिया था, और उसकी गतिविधियों में भी सक्रिय था।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

जाँच एजेंसी ने बर्दवान धमाके को भारत में JMB की बड़ी साज़िश का हिस्सा बताया था। उसके मुताबिक भारत में लोगों को उग्रवाद की ओर मोड़ने, उनकी JMB में भर्ती और उन्हें ट्रेनिंग और हथियार मुहैया कराने के मकसद से हो रहे इस ऑपरेशन का अंतिम ध्येय भारत और बांग्लादेश में आतंक फ़ैलाने और इन देशों की लोकतान्त्रिक ढंग से चुनी गई सरकारों के खिलाफ जंग छेड़ना था।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

कमलेश तिवारी, राम मंदिर
हाल ही में ख़बर आई थी कि पाकिस्तान ने हिज़्बुल, लश्कर और जमात को अलग-अलग टास्क सौंपे हैं। एक टास्क कुछ ख़ास नेताओं को निशाना बनाना भी था? ऐसे में इस बात से इनकार नहीं किया जा सकता कि कमलेश तिवारी के हत्यारे किसी आतंकी समूह से प्रेरित हों।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

100,990फैंसलाइक करें
18,955फॉलोवर्सफॉलो करें
106,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: