Thursday, July 18, 2024
Homeदेश-समाजछत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में बड़ा नक्सली हमला, IED ब्लास्ट में 10 जवान बलिदान, 1...

छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में बड़ा नक्सली हमला, IED ब्लास्ट में 10 जवान बलिदान, 1 ड्राइवर की भी चली गई जान: CM बघेल बोले – लड़ाई अंतिम चरण में

बताया जा रहा है कि DRG के जवान अपने साथियों को लेने अरनपुर जा रहे थे। जवाबी कार्रवाई में कुछ नक्सलियों के घायल होने की भी बात कही जा रही है।

छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में बड़ा नक्सली हमला हुआ है। अरनपुर इलाके में हुई इस घटना में DRG के 10 जवान बलिदान हो गए। 1 नागरिक की भी मौत हुई है। घटना के समय ‘डिस्ट्रिक्ट रिजर्व गार्ड’ जवान गाड़ी से जा रहे थे, तभी IED बम से हमला हुआ। नक्सलियों ने वहाँ पहले से ही विस्फोटक प्लांट कर रखे थे। ये घटना बुधवार (26 अप्रैल, 2023) को दोपहर में हुई है। पिछले सप्ताह नक्सलियों ने एक पत्र जारी कर के सुरक्षा बलों पर हमले की धमकी दी थी।

बताया जा रहा है कि DRG के जवान अपने साथियों को लेने अरनपुर जा रहे थे। जवाबी कार्रवाई में कुछ नक्सलियों के घायल होने की भी बात कही जा रही है। हाल के दिनों में इससे पहले भी नक्सलियों ने इस तरह के हमले किए थे, लेकिन कई कोई हताहत नहीं हुआ था। इस हमले में कई गाड़ियों को भी नुकसान पहुँचा है। ख़ुफ़िया सूचना मिली थी कि इलाके में माओवादी छिपे हुए हैं, जिसके बाद ऑपरेशन लॉन्च किया गया था।

बता दें कि DRG के जवान ‘सेंट्रल रिजर्व पुलिस बल (CRPF)’ के थे। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इस घटना के बाद कहा, “दंतेवाड़ा के थाना अरनपुर क्षेत्र अंतर्गत माओवादी कैडर की उपस्थिति की सूचना पर नक्सल विरोधी अभियान के लिए पहुंचे डीआरजी बल पर आईईडी विस्फोट से हमारे 10 डीआरजी जवान एवं एक चालक के शहीद होने का समाचार बेहद दुखद है। हम सब प्रदेशवासी उन्हें अपनी श्रद्धांजलि अर्पित करते हैं। उनके परिवारों के साथ दुःख में हम सब साझेदार हैं। ईश्वर उनकी आत्मा को शांति दें।”

इस घटना से ठीक पहले सुरक्षा बलों के जवानों और पुलिस ने नक्सल विरोधी अभियान चलाया था। राज्य के गृह मंत्री तमरध्वज साहू ने कहा कि इलाके में रेस्क्यू ऑपरेशन के लिए एक टीम को भेजा गया है। वहाँ बारिश भी हो रही है, ऐसे में स्थिति काफी कठिन है। सीएम भूपेश बघेल ने कहा कि नक्सलियों से लड़ाई अब अंतिम चरण में है और अब उन्हें बख्शा नहीं जाएगा। बता दें कि DRG में ऐसे ही जवान भर्ती किए जाते हैं, जो उसी वातावरण में पले-बढ़े हों।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जहाँ सब हैं भोले के भक्त, बोल बम की सेवा जहाँ सबका धर्म… वहाँ अस्पृश्यता की राजनीति मत ठूँसिए नकवी साब!

मुख्तार अब्बास नकवी ने लिखा कि आस्था का सम्मान होना ही चाहिए,पर अस्पृश्यता का संरक्षण नहीं होना चाहिए।

अजमेर दरगाह के सामने ‘सर तन से जुदा’ मामले की जाँच में लापरवाही! कई खामियाँ आईं सामने: कॉन्ग्रेस सरकार ने कराई थी जाँच, खादिम...

सर तन से जुदा नारे लगाने के मामले में अजमेर दरगाह के खादिम गौहर चिश्ती की जाँच में लापरवाही को लेकर कोर्ट ने इंगित किया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -