Tuesday, July 16, 2024
Homeदेश-समाज9 साल की दलित बच्ची से दुष्कर्म करके फरार हुआ कबाड़ी पीर मोहम्मद, लड़की...

9 साल की दलित बच्ची से दुष्कर्म करके फरार हुआ कबाड़ी पीर मोहम्मद, लड़की लहूलुहान खेत में मिली: केस दर्ज, योगी सरकार उठाएगी इलाज का खर्च

पीड़िता के परिजनों का कहना कि उनकी बेटी घर के बाहर खेल रही थी। इस दौरान रात 8:30 पर उधर से 55 साल का पीर मोहम्मद उधर से गुजरा। लड़की को अकेला देख कर पीर मोहम्मद बदनीयती से उसे बहला-फुसला कर खेतों की तरफ ले गया। यहाँ उसने पीड़िता से बलात्कार किया।

उत्तर प्रदेश के रायबरेली जिले में 9 साल की एक नाबालिग दलित बच्ची के साथ रेप किए जाने की खबर है। 55 साल के आरोपित का नाम पीर मोहम्मद है। दुष्कर्म के बाद बच्ची की हालात बिगड़ गई है जिसको इलाज के लिए लखनऊ रेफर किया गया है। बलात्कार करने के बाद पीर मोहमद फरार हो गया है जिसकी तलाश में पुलिस दबिश दे रही है। घटना रविवार (5 नवंबर 2023) की है। ऑपइंडिया से बातचीत में बच्ची के परिजनों ने पीड़िता की हालत खतरे से बाहर बताई है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक यह मामला रायबरेली के थानाक्षेत्र खीरों का है। यहाँ के एक गाँव की रहने वाली दलित महिला ने रविवार को पुलिस में अपनी 9 साल की बच्ची से रेप की शिकायत दर्ज करवाई। शिकायतकर्ता ने बताया कि उनकी बेटी घर के बाहर खेल रही थी। इस दौरान रात 8:30 पर उधर से 55 साल का पीर मोहम्मद उधर से गुजरा। लड़की को अकेला देख कर पीर मोहम्मद बदनीयती से उसे बहला-फुसला कर खेतों की तरफ ले गया। यहाँ उसने पीड़िता से बलात्कार किया।

पीड़िता के रोने और चीखने-चिल्लाने का आरोपित पर कोई फर्क नहीं पड़ा। बाद में पीर मोहम्मद लड़की को लहूलुहान हालात में खेतों में छोड़ कर फरार हो गया। इधर काफी देर से गायब लड़की को खोजते उसके परिजन खेतों की तरफ गए तो उन्हें वहाँ बच्ची रोती हुई मिली। पीड़िता का स्थानीय अस्पताल में इलाज शुरू हुआ। बाद में हालत खराब होने पर बच्ची को लखनऊ रिफर कर दिया गया। पुलिस ने इस मामले में आरोपित पीर मोहम्मद पर IPC की धारा 376 (3) के साथ पॉक्सो एक्ट की धारा 3/5 व SC/ST एक्ट में केस दर्ज किया है।

ऑपइंडिया के पास शिकायत कॉपी मौजूद है। अपने खिलाफ पुलिस में हुई शिकायत के बाद पीर मोहम्मद फरार हो गया। जिले के तमाम सीनियर अधिकारियों ने घटनास्थल का दौरा किया। रायबरेली के एडिशनल एसपी के मुताबिक आरोपित की तलाश में पुलिस की 4 टीमों को लगाया गया है। आरोपित को जल्द गिरफ्तार करने के आश्वासन के साथ उन्होंने बताया कि मौके पर लॉ एंड ऑर्डर की कोई समस्या नहीं है।

बाल-बच्चेदार है कबाड़ी पीर मोहम्मद

ऑपइंडिया ने इस मामले में पीड़िता के साथ अस्पताल में मौजूद बच्ची के चाचा से बात की। उन्होंने बताया कि बच्ची की हालत फ़िलहाल खतरे से बाहर है और खून बहना बंद हो चुका है। इलाज का खर्च भी उन्होंने सरकार द्वारा दिया जाना बताया। खुद को रायबरेली पुलिस की कार्रवाई से संतुष्ट बताते हुए बच्ची के चाचा ने कहा कि आरोपित पीर मोहम्मद बाल-बच्चेदार है। वह कबाड़ी का काम करता है। हमें यह भी बताया गया कि उनके गाँव में मुस्लिमों की तादाद दलितों से अधिक है। बच्ची के चाचा के अनुसार अभी तक भीम आर्मी जैसे संगठन से उनसे कोई मिलने नहीं आया है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

राहुल पाण्डेय
राहुल पाण्डेयhttp://www.opindia.com
धर्म और राष्ट्र की रक्षा को जीवन की प्राथमिकता मानते हुए पत्रकारिता के पथ पर अग्रसर एक प्रशिक्षु। सैनिक व किसान परिवार से संबंधित।

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आज भी फैसले की प्रतीक्षा में कन्हैयालाल का परिवार, नूपुर शर्मा पर भी खतरा; पर ‘सर तन से जुदा’ की नारेबाजी वाले हो गए...

रिपोर्ट में यह भी कहा गया था कि गौहर चिश्ती 17 जून 2022 को उदयपुर भी गया था। वहाँ उसने 'सर कलम करने' के नारे लगवाए थे।

किसानों के प्रदर्शन से NHAI का ₹1000 करोड़ का नुकसान, टोल प्लाजा करने पड़े थे फ्री: हरियाणा-पंजाब में रोड हो गईं थी जाम

किसान प्रदर्शन के कारण NHAI को ₹1000 करोड़ से अधिक का नुकसान झेलना पड़ा। यह नुकसान राष्ट्रीय राजमार्ग 44 और 152 पर हुआ है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -