CAA समर्थकों पर हमला करने वाले 6 गिरफ्तार, कट्टरपंथी इस्लामी संगठन SDPI से है रिश्ता

SDPI एक चरमपंथी इस्लामी राजनीतिक संगठन है, जो केरल और देश के अन्य कई हिस्सों में कई सांप्रदायिक हमलों के पीछे है। SDPI के पीछे पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) का हाथ है। CAA विरोध के नाम पर देश के कई हिस्सों में भड़की हिंसा में PFI का नाम सामने आया है।

कर्नाटक पुलिस ने चरमपंथी इस्लामी संगठन सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ इंडिया (SDPI) के 6 समर्थकों को गिरफ्तार किया है। इनकी गिरफ्तारी 22 दिसंबर 2019 को बीजेपी और आरएसएस समर्थकों पर हमला करने के आरोप में किया गया गया है। हमला नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के समर्थन में निकाली गई रैली के दौरान किया गया था।

बता दें कि इससे पहले इस चरमपंथी इस्लामी संगठन ने केरल भाजपा के सचिव एके नजीर की बेरहमी से पिटाई की थी। नजीर पर तब क्रूरतापूर्वक हमला किया गया था, जब वह इडुक्की जिले के थूकुप्पलम क्षेत्र की एक मस्जिद में नमाज़ अदा कर रहे थे। नजीर के ऊपर भी नागरिकता संशोधन कानून का समर्थन करने को लेकर ही किया गया था। इस दौरान हमलावर एसडीपीआई कार्यकर्ताओं ने कहा था कि जो लोग नागरिकता संशोधन कानून का समर्थन करते हैं, उन्हें जिंदा नहीं बख्शा जाएगा।

उल्लेखनीय है कि SDPI एक चरमपंथी इस्लामी राजनीतिक संगठन है, जो केरल और देश के अन्य कई हिस्सों में कई सांप्रदायिक हमलों के पीछे है। SDPI के पीछे पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) का हाथ है। CAA विरोध के नाम पर देश के कई हिस्सों में भड़की हिंसा में PFI का नाम सामने आया है।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

CAA विरोधी प्रदर्शनों में बच्चों का हो रहा इस्तेमाल, NCPCR से शिकायत

UP पुलिस पर गोलीबारी करने वाला PFI का खलीफा गिरफ़्तार, CAA विरोध में जुमे के दिन हुई थी हिंसा

NDTV पत्रकार की दलील: स्कूली छात्रों को CAA के बारे में बताना राजनीति है, क्योंकि इसे बड़े लोग नहीं समझ सके

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

मोदी, उद्धव ठाकरे
इस मुलाकात की वजह नहीं बताई गई है। लेकिन, सीएम बनने के बाद दिल्ली की अपनी पहली यात्रा पर उद्धव ऐसे वक्त में आ रहे हैं जब एनसीपी सुप्रीमो शरद पवार के साथ अनबन की खबरें चर्चा में हैं। इससे महाराष्ट्र में राजनीतिक सरगर्मियॉं अचानक से तेज हो गई हैं।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

153,901फैंसलाइक करें
42,179फॉलोवर्सफॉलो करें
179,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: