पढ़ाने जाता था, 4-5 बार थोड़ी-बहुत ‘छेड़खानी’ हो गई: 9 साल की बच्ची का रेप आरोपित AMU मौलाना

9 साल की बच्ची से रेप का आरोपित मौलवी मोहम्मद अहमद ने यह भी बताया कि वो अजान पढ़ता था और अगर इमाम नहीं होते थे तो वो नमाज भी पढ़ता था।

दो दिन पहले की घटना है। अलीगढ़ में 9 साल की बच्ची के साथ बलात्कार करने का सनसनीखेज मामला सामने आया था। इस मामले में पुलिस द्वारा अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के मौलवी मोहम्मद अहमद को गिरफ्तार किया जा चुका है।

अब इसी घटना में बेहद शर्मनाक और घिनौनी बात सामने आ रही है। टाइम्स नाउ हिंदी की खबर के अनुसार, गिरफ्तारी के बाद रेप आरोपित मौलवी मोहम्मद अहमद ने मीडिया से बातचीत के दौरान अपने अपराधों को स्वीकार कर लिया है। साथ ही उसने बताया कि वो पीड़ित नाबालिग बच्ची को पढ़ाने जाता था, तो थोड़ी-बहुत छेड़खानी हो गई।

मीडिया के सामने बोलते-बोलते मौलवी मोहम्मद अहमद ने यह भी कबूला कि उसने बच्ची के साथ 4-5 बार ‘गंदी हरकत’ की है। लेकिन उसके अनुसार यह ‘थोड़ी-बहुत छेड़खानी’ थी।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

पढ़ें खबर : AMU की मस्जिद में नमाज पढ़ाने वाले मौलाना ने 9 साल की बच्ची को बनाया हवस का शिकार

9 साल की बच्ची से रेप का आरोपित मौलवी मोहम्मद अहमद ने यह भी बताया कि वो अजान पढ़ता है और अगर इमाम नहीं होते हैं तो वो नमाज भी पढ़ता है। उसने कहा, “बच्चों को कुरान की शिक्षा देता हूँ। यह (छेड़खानी) 4-5 बार हुआ है।”

पढ़ें विचार : तख्ती गैंग, मौलवी क़ुरान पढ़ाने के बहाने जब रेप करता है तो कौन सा मज़हब शर्मिंदा होगा?

मौलवी ने कैसे बनाया बच्ची को अपनी हवस का शिकार

अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के मस्जिद में मोहम्मद अहमद मोज्जिन था। पुलिस के अनुसार, मौलवी मोहम्मद अहमद नाबालिग को घर पर कुरान और उर्दू पढ़ाने जाता था। मौलाना ने मासूम को डरा धमकाकर उसके साथ दुष्कर्म किया और शिकायत करने पर बच्ची को जान से मारने की धमकी दी।

इस घटना की जानकारी परिजनों को होने पर पीड़ित बच्ची की माँ ने शिकायत दर्ज कराई। शिकायत के बाद पुलिस ने मामले को गंभीरता से लेते हुए आरोपित मौलवी के खिलाफ मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू की और मौलवी को गिरफ्तार कर लिया गया।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

संदिग्ध हत्यारे
संदिग्ध हत्यारे कानपुर से सड़क के रास्ते लखनऊ पहुंचे थे। कानपुर रेलवे स्टेशन के सीसीटीवी से इसकी पुष्टि हुई है। हत्या को अंजाम देने के बाद दोनों ने बरेली में रात बिताई थी। हत्या के दौरान मोइनुद्दीन के दाहिने हाथ में चोट लगी थी और उसने बरेली में उपचार कराया था।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

104,900फैंसलाइक करें
19,227फॉलोवर्सफॉलो करें
109,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: