भाई के साथ स्कूल जा रही थी 15 वर्षीय छात्रा, कब्रिस्तान की झाड़ियों में घसीटकर ले गए 3 युवक

आरोपितों के नाम का खुलासा नहीं हो पाया है। कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में बताया गया है कि मामला दो समुदाय से संबंधित हैं। इसके कारण गाँव में तनाव की स्थिति उत्पन्न हो गई है।

उत्तरप्रदेश के बरेली जिले के हाफिजगंज थाना क्षेत्र में गुरुवार (दिसंबर 12,2019) को स्कूल जा रही छात्रा से गैंगरेप की कोशिश की गई। हालाँकि, छात्रा के चिल्लाने के कारण आरोपित अपने मनसूबों में सफल नहीं हो पाए और गाँव वालों ने मौक़े पर पहुँच कर उनको पकड़ लिया। लेकिन, बावजूद इसके, मामला दो समुदायों से जुड़ा होने के कारण पूरे गाँव में तनाव का माहौल का है। मौक़े पर पहुँची पुलिस ने दो युवकों को गिरफ्तार कर लिया है। एक फरार है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, 15 साल की बच्ची हाफिजगंज के ग्राम कमुआ में एक हाईस्कूल की छात्रा है। जो गुरुवार को अपने स्कूल जा रही थी। इस दौरान उसका भाई उसके साथ था, लेकिन वो पीछे चल रहा था। तभी गाँव के तीन युवकों की नजर उस पर पड़ी और वे उसे कब्रिस्तान की झाड़ियों में घसीट कर ले गए। यहाँ उन्होंने उसके साथ गैंगरेप करने की कोशिश की।

इसी बीच छात्रा ने शोर मचा दिया। जिससे उसके पीछे चल रहे भाई और अन्य ग्रामीणों ने उसकी आवाज सुन ली। लोगों को नजदीक आता देख, एक आरोपित वहाँ से भागने में सफल रहा, लेकिन अन्य दो को ग्रामीणों ने पकड़ लिया। मामले की सूचना तुरंत पुलिस को दी गई और मौक़े पर दोनों आरोपितों की गिरफ्तारी हुई। अब इस मामले में पुलिस तीसरे आरोपित को ढूँढने का प्रयास कर रही है।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के अनुसार हाफिजगंज थाना के एसएचओ सुरेश पाल ने इस संबंध में बताया, “हमने दो आरोपितों को हिरासत में ले लिया है, जिनकी उम्र 18 के करीब है। लड़की के परिवार वालों की लिखित शिकायत के आधार पर पुलिस ने मामले में एफआईआर दर्ज कर ली है। हालाँकि, पहले अपनी शिकायत में परिवारवालों ने आरोपितों का नाम नहीं बतया था, लेकिन बाद में नामजद शिकायत दर्ज कराई गई।”

बता दें, इस मामले में अभी आरोपितों के नाम का खुलासा नहीं हो पाया है। कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में बताया गया है कि मामला दो समुदाय से संबंधित हैं। इसके कारण गाँव में तनाव की स्थिति उत्पन्न हो गई है।

गौरतलब है कि पिछले 24 घंटों में ये ऐसा दूसरा मामला है, जहाँ एक स्कूल छात्रा को स्कूल जाते-आते समय उत्पीड़ित करने का प्रयास किया गया हो। इससे पहले बिहार के मीरगंज में भी मनचलों के समूह ने एक 9वीं कक्षा की छात्रा को घर आते समय पकड़ लिया था। जिसके बाद गाँव वालों की मदद से उसे छुड़ाया गया। इस मामले में भी पुलिस ने अज्ञातों के ख़िलाफ़ FIR दर्ज की थी और फिलहाल उन्हें ढूँढने का प्रयास जारी है।

गैंगरेप के बाद हत्या कर शव को पेड़ से लटकाया: जाहिद, नसीम, ताहिर समेत 6 के खिलाफ FIR
17 साल की लड़की को किडनैप कर 2 महीने तक गैंगरेप… फिर जिंदा जला कर त्रिपुरा में मार डाला
नाबालिग से दूसरी बार गैंगरेप: आरोपित अल्ताफ, सरफराज, इरशाद, सौयब पलवल से फरार
गैंगरेप पीड़िता की अर्ध-नग्न लाश: टूटी उंगलियाँ, आँखें बाहर निकली हुईं – शाबोद्दीन, शेख बाबू, मकदूम ने कबूला जुर्म
शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

शाहीन बाग़, शरजील इमाम
वे जितने ज्यादा जोर से 'इंकलाब ज़िंदाबाद' बोलेंगे, वामपंथी मीडिया उतना ही ज्यादा द्रवित होगा। कोई रवीश कुमार टीवी स्टूडियो में बैठ कर कहेगा- "क्या तिरंगा हाथ में लेकर राष्ट्रगान गाने वाले और संविधान का पाठ करने वाले देश के टुकड़े-टुकड़े गैंग के सदस्य हो सकते हैं? नहीं न।"

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

144,546फैंसलाइक करें
36,423फॉलोवर्सफॉलो करें
164,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: