Thursday, March 4, 2021
Home देश-समाज जहाँ राम, वहीं शिव... और श्मशान है शिव का निवास स्थान: समुदाय विशेष के...

जहाँ राम, वहीं शिव… और श्मशान है शिव का निवास स्थान: समुदाय विशेष के ‘कब्रिस्तान प्रपंच’ को संत समिति का जवाब

अयोध्या के डीएम अनुज झा ने भी कब्रिस्तान संबंधी चिट्ठी पर जवाब देते हुए कहा था कि फिलहाल राम जन्मभूमि के 67 एकड़ के परिसर में कोई कब्रिस्तान नहीं है।

सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर केंद्र सरकार द्वारा गठित राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र न्यास की पहली बैठक बुधवार (फरवरी 19, 2020) को राजधानी दिल्ली में में होगी। जिसमें मंदिर निर्माण के मुहूर्त समेत कई विषयों पर विचार किया जा सकता है। यह बैठक सुप्रीम कोर्ट में रामलला के वकील रहे केशवन अय्यंगार परासरण के ग्रेटर कैलाश स्थित घर पर होगी। इस बैठक का मुख्य एजेंडा मंदिर निर्माण की तिथि और तौर-तरीकों के साथ-साथ, नए सदस्यों का चुनाव होगा। इसमें उस सुझाव के बारे में चर्चा की जा सकती है कि मंदिर निर्माण के लिए आम जनता से सहयोग राशि ली जानी चाहिए या नहीं।

इस बैठक से पहले अखिल भारतीय संत समिति ने मुस्लिम पक्षकारों के उस आपत्ति को सिरे से खारिज कर दिया, जिसमें कहा गया था कि 67 एकड़ भूमि के करीब 4 से 5 एकड़ भूमि पर मजहब विशेष की कब्रें थी। इसलिए वहाँ पर राम मंदिर का निर्माण नहीं किया जना चाहिए। यह चिट्ठी अयोध्या जमीन विवाद में मुस्लिम पक्ष के वकील रहे एमआर शमशाद ने 9 मुस्लिमों की तरफ से नव-नियुक्त श्री राम जन्मभूमि तीर्थक्षेत्र को पत्र लिखा था। इसका जवाब देते हुए समिति के महामंत्री स्वामी जीतेंद्रानंद सरस्वती ने कहा कि अधिकृत भूमि पर जब राम मंदिर बनेगा तो वहाँ उनके इष्ट देव शिव भी होंगे और सबको पता है कि शिव के निवास का एक स्थान श्मशान भी है, इसलिए मुस्लिम पक्ष को इसकी चिंता नहीं करनी चाहिए

बता दें कि इससे पहले अयोध्या के डीएम अनुज झा ने भी इस चिट्ठी पर जवाब देते हुए कहा था कि फिलहाल राम जन्मभूमि के 67 एकड़ के परिसर में कोई कब्रिस्तान नहीं है। इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा था कि अयोध्या मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट की सुनवाई के दौरान इन सभी बातों का जिक्र किया गया था। वकील शमशाद जिस तथ्यों की बात कर रह हैं, वो भी सुप्रीम कोर्ट की सुनवाई के दौरान सामने आई थी। 9 दिसंबर 2019 को सुप्रीम कोर्ट द्वारा दिए गए फैसले में इन सभी तथ्यों का स्पष्ट उल्लेख किया गया है।

इस चिट्ठी में ऐतिहासिक तथ्यों का हवाला देते हुए कहा गया था कि साल 1855 के दंगों में 75 मुस्लिम मारे गए थे और सभी को यहीं दफन किया गया था। अखिल भारतीय संत समिति के महामंत्री इस पर कहते हैं कि अब जबकि देश की सर्वोच्च अदालत ने राम मंदिर के पक्ष में निर्णय सुनाया है तब मुस्लिम पक्ष परंपराओं और तर्कों का हवाला दे रहे हैं। अगर मुस्लिम पक्ष इसे सही मानता है तो उसे अन्य विवादित स्थलों से भी अपना दावा छोड़ देना चाहिए, क्योंकि पैगंबर मोहम्मद साहब ने खुद विवादित स्थल पर बनी मस्जिद को तुड़वा कर एक आदर्श पेश किया था। 

गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट ने सालों बाद 9 नवंबर 2019 को राम मंदिर का मुद्दा सुलझा दिया। इस ऐतिहासिक फैसले के बाद अयोध्या में विवादित स्थल पर राम मंदिर निर्माण का मार्ग प्रशस्त हो गया। सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद सरकार ने राम मंदिर निर्माण के लिए ट्रस्ट का गठन भी कर दिया।

मगर ऐसा लग रहा है कि राम मंदिर निर्माण का कार्य शुरू होने से पहले मुस्लिम पक्ष साजिश के तहत एक और भावनात्मक पेंच फँसाने की कोशिश कर रही है। हालाँकि उन्हें इसका माकूल जवाब भी मिल रहा है। एक तरफ जहाँ डीएम ने 67 एकड़ के परिसर में कोई कब्रिस्तान न होने की बात कही तो वहीं संत समिति ने कहा कि अगर है भी तो भी कोई दिक्कत नहीं है, क्योंकि भगवान शिव का एक निवास स्थल शमशान भी है और वो राम के इष्ट हैं। इसलिए उन्हें इसकी चिंता करने की जरूरत नहीं है।

’75 मुस्लिमों की कब्र के ऊपर राम मंदिर, क्या यह सही होगा?’ – अयोध्या मामले में ‘भावनात्मक’ पेंच की साजिश!

श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र: राम मंदिर ट्रस्ट का ऐलान, PM मोदी की घोषणा और लोकसभा में गूँजे ‘जय श्री राम’ के नारे

सोने का गर्भगृह, 2022 तक निर्माण पूरा: भव्य राम मंदिर के लिए महावीर मंदिर देगा ₹10 करोड़

योगी आदित्यनाथ ने भव्य राम मंदिर के लिए हर परिवार से माँगे ₹11 और एक ईंट


  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

100 मदरसे-50 हजार छात्र, गीता-रामायण की करनी ही होगी पढ़ाई: मीडिया के दावों की हकीकत

मीडिया रिपोर्टों में दावा किया जा रहा है कि मदरसों में गीता और रामायण की पढ़ाई को लेकर सरकार दबाव बना रही है।

अनुराग कश्यप, तापसी पन्नू और अन्य के ठिकानों पर लगातार दूसरे दिन रेड, ED का भी कस सकता है शिकंजा

फिल्म निर्माता अनुराग कश्यप, अभिनेत्री तापसी पन्नु और अन्य के यहाँ लगातार दूसरे दिन 4 मार्च को भी आयकर विभाग की छापेमारी जारी है।

मारा गया शार्प शूटर अमजद, साथी भी ढेर: मुख्तार अंसारी के लिए किया था काम, UP पुलिस से एनकाउटंर में काम तमाम

दोनों शूटर प्रयागराज किसी राजनीतिक व्यक्ति की हत्या करने के इरादे से आए थे। यूपी पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स ने...

चोरी करके बनाया गया दीपिका पादुकोण का Levi’s जीन्स वाला विज्ञापन? Yeh Ballet के डायरेक्टर ने लगाया आरोप

"ऐसा कोई स्टूडियो मुंबई में नहीं था, इसलिए विज्ञापन के डायरेक्टर ने इसे देखा और हमारे सेट को प्लेगराइज किया।" - ‘Yeh Ballet’ के निर्देशक ने...

‘मुगलों-औरंगजेब ने करवाई मंदिरों की मरम्मत’ – NCERT बिना सबूत के पूरे देश को पढ़ा रहा था, भेजा गया लीगल नोटिस

मुगलों का महिमामंडल करने वाली NCERT को एक RTI कार्यकर्ता ने लीगल नोटिस भेजा है। NCERT को ये नोटिस मुगलों पर अप्रमाणित कंटेंट छापने को लेकर...

स्विडन में आतंक: अकेले कुल्हाड़ी से 8 लोगों पर हमला, 3 साल पहले इस्लामी आतंकी ने लॉरी से रौंद डाला था 5 को

पुलिस ने फिलहाल आरोपित से जुड़ी कोई जानकारी सार्वजनिक नहीं की है। स्विडन की राजधानी में पहले भी दो बार इस्लामी आतंकियों ने हमले...

प्रचलित ख़बरें

BBC के शो में PM नरेंद्र मोदी को माँ की गंदी गाली, अश्लील भाषा का प्रयोग: किसान आंदोलन पर हो रहा था ‘Big Debate’

दिल्ली में चल रहे 'किसान आंदोलन' को लेकर 'BBC एशियन नेटवर्क' के शो में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर आपत्तिजनक टिप्पणी (माँ की गाली) की गई।

पुलिसकर्मियों ने गर्ल्स हॉस्टल की महिलाओं को नंगा कर नचवाया, वीडियो सामने आने पर जाँच शुरू: महाराष्ट्र विधानसभा में गूँजा मामला

लड़कियों ने बताया कि हॉस्टल कर्मचारियों की मदद से पूछताछ के बहाने कुछ पुलिसकर्मियों और बाहरी लोगों को हॉस्टल में एंट्री दे दी जाती थी।

‘प्राइवेट पार्ट में हाथ घुसाया, कहा पेड़ रोप रही हूँ… 6 घंटे तक बंधक बना कर रेप’: LGBTQ एक्टिविस्ट महिला पर आरोप

LGBTQ+ एक्टिविस्ट और TEDx स्पीकर दिव्या दुरेजा पर पर होटल में यौन शोषण के आरोप लगे हैं। एक योग शिक्षिका Elodie ने उनके ऊपर ये आरोप लगाए।

‘हाथ पकड़ 20 मिनट तक आँखें बंद किए बैठे रहे, किस भी किया’: पूर्व DGP के खिलाफ महिला IPS अधिकारी ने दर्ज कराई FIR

कुछ दिनों बाद उनके ससुर के पास फोन कॉल कर दास ने कॉम्प्रोमाइज करने को कहा और दावा किया कि वो पीड़िता के पाँव पर गिरने को भी तैयार हैं।

‘बिके हुए आदमी हो तुम’ – हाथरस मामले में पत्रकार ने पूछे सवाल तो भड़के अखिलेश यादव

हाथरस मामले में सवाल पूछने पर पत्रकार पर अखिलेश यादव ने आपत्तिजनक टिप्पणी की। सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल होने के बाद उनकी किरकिरी हुई।

आगरा से बुर्के में अगवा हुई लड़की दिल्ली के पीजी में मिली: खुद ही रचा ड्रामा, जानिए कौन थे साझेदार

आगरा के एक अस्पताल से हुई अपहरण की यह घटना सीसीटीवी फुटेज वायरल होने के बाद सामने आई थी।
- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

292,284FansLike
81,889FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe