Tuesday, June 18, 2024
Homeदेश-समाजबेंगलुरु के कैफे में बम ही फटा था: कर्नाटक के CM सिद्दारमैया ने IED...

बेंगलुरु के कैफे में बम ही फटा था: कर्नाटक के CM सिद्दारमैया ने IED ब्लास्ट किया कन्फर्म, मौके पर NIA की टीम; धमाके का CCTV फुटेज भी आया सामने

कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्दारमैया ने कहा कि रामेश्वरम कैफे में हुआ धमाका एक बम ब्लास्ट ही था। इस घटना पर राजनीति नहीं होनी चाहिए।

आज (1 मार्च 2024) को बेंगलुरु के रामेश्वरम कैफे में जो धमाका हुआ था, उसके बम धमाका होने की पुष्टि मुख्यमंत्री सिद्दारमैया ने की है। इस धमाके का सीसीटीवी फुटेज भी सामने आ गया है, जिसमें धमाके के तुरंत बाद की तबाही नजर आ रही है। जिस समय ये धमाका हुआ, उस समय कैफे में काफी लोग थे। इस धमाके में 9 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए, जिसमें महिलाएँ और कैफे के कर्मचारी भी शामिल हैं।

कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्दारमैया ने इस बात को स्वीकार किया कि रामेश्वरम कैफे में हुआ धमाका एक बम ब्लास्ट ही था। सिद्दारमैया ने ये भी कहा है कि इस घटना पर राजनीति नहीं होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि हम इस धमाके को अंजाम देने वालों को पकड़ेंगे और उन्हें सजा दिलाएँगे। सिद्धारमैया ने कहा कि जिस व्यक्ति ने कैफे के अंदर बैग रखा, उसे सीसीटीवी फुटेज में कैश काउंटर से एक टोकन लेते हुए देखा जा रहा है। उन्होंने बताया कि इस बारे में कैशियर से पूछताछ की जा रही है। उन्होंने बताया कि पुलिस विस्फोट से पहले के घटनाक्रमों का पता लगाने के लिए आसपास के सीसीटीवी फुटेज की जाँच कर रही है।

बता दें कि शुक्रवार (1 मार्च 2024) को दोपहर के समय बेंगलुरु के ब्रुकफील्ड इलाके में स्थित मशहूर रामेश्वरम कैफे में धमाका हो गया। जिस समय ये धमाका हुआ, उस समय कैफे में लोगों की भीड़ लगी थी। इस धमाके के साथ ही हर तरफ दहशत फैल गई। कैफे में चीख-पुकार और अफरा-तफरी मच गई। इस विस्फोट का सीसीटीवी फुटेज भी सामने आया है।

डीजीपी ने मुख्यमंत्री-गृहमंत्री के साथ ही एनआईए और आईबी को भी दी जानकारी

कर्नाटक के डीजीपी डॉ आलोक मोहन ने घटना की जानकारी देते हुए बताया कि घायलों की संख्या बढ़कर 5 से 9 हो गई है। उन्होंने कहा, “मुख्यमंत्री और गृह मंत्री को घटना के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई है। हमारे पास नौ लोगों के घायल होने की पुष्टि हुई है।” उन्होंने कहा कि डीजीपी ने मुख्यमंत्री सिद्धारमैया और गृह मंत्री जी परमेश्वर से संपर्क कर उन्हें घटना की जानकारी दी है।

इस दौरान घटनास्थल पर बैटरी भी मिली है, तो धमाके के आईईडी से जुड़े होने की ओर इशारा कर रही है। मुख्यमंत्री सिद्दारमैया इसे आईईडी धमाका बता भी चुके हैं। इस बीच डीजीपी मोहन ने कहा कि उन्होंने इस धमाके की जानकारी राष्ट्रीय जाँच एजेंसी (एनआईए) और इंटेलिजेंस ब्यूरो (आईबी) दोनों को भेज दी है। इस बीच कर्नाटक के डीजीपी आलोक मोहन घटना स्थल पर पहुँचे। उनके साथ उप मुख्यमंत्री डी के शिवकुमार और गृहमंत्री डी परमेश्वर भी थे।

इस बीच एनआईए की टीम भी घटनास्थल पर पहुँची है। एनआईए की टीम धमाके वाली जगह की जाँच कर रही है, साथ ही फॉरेंसिक जाँच करने वाली टीम से भी जानकारी जुटा रही है।

रामेश्वरम कैफे में हुए धमाके में स्वर्णम्बा (49), फारूक (19) (स्टाफ), दीपांशु (23), मोहन (41), नागश्री (35), मोमी (30), बलराम कृष्णन (31), नव्या (5), और श्रीनिवास (67) घायल हुए हैं।

बता दें कि शुरुआत में इस घटना को सिलेंडर धमाका बताया गया था, लेकिन बीजेपी सांसद तेजस्वी सूर्या ने कैफे के संचालक के हवाले से जोर देकर इसे बम धमाका कहा था। उन्होंने एक्स पर लिखा था, “अभी-अभी रामेश्वरम कैफे के संस्थापक श्री नागराज से उनके रेस्तरां में हुए विस्फोट के बारे में बात हुई। उन्होंने मुझे बताया कि विस्फोट एक ग्राहक द्वारा छोड़े गए बैग के कारण हुआ, न कि किसी सिलेंडर विस्फोट के कारण। इस धमाके में रेस्तराँ का एक कर्मचारी भी घायल हो गया है। यह स्पष्ट तौर पर बम विस्फोट का मामला लग रहा है। सीएम सिद्दारमैया से बेंगलुरू स्पष्ट जवाब चाहती है।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

NEET-UG में 0.001% की भी लापरवाही हुई तो… : सुप्रीम कोर्ट ने NTA और केंद्र सरकार को नोटिस जारी कर माँगा जवाब

सुप्रीम कोर्ट ने अहम टिप्पणी करते हुए कहा कि अगर 0.001 प्रतिशत भी किसी की खामी पाई गई तो हम उससे सख्ती से निपटेंगे।

तेजस्वी यादव के बगल में खड़े इस राजा को देखिए, वहीं के व्यवसायी को सुपारी देकर मरवाया जहाँ से माँ थी RJD उम्मीदवार: हत्या...

बिहार के पूर्णिया में 2 जून, 2024 को हुई एक व्यवसायी गोपाल यादुका की हत्या की सुपारी राजद नेता बीमा भारती के बेटे राजा ने दी थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -